सहारा में उपेंद्र राय बने एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर, राव बीरेंद्र सिंह और एए जैदी का पॉवर बढ़ा

सहारा मीडिया से कई बड़ी सूचनाएं आ रही हैं. भड़ास के पास सहारा के दो आंतरिक सरकुलर मौजूद हैं. इनके अध्ययन से पता चलता है कि उपेंद्र राय को सहारा प्रबंधन ने एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर बना दिया है. वे सहारा मीडिया के सीईओ और एडिटर इन चीफ पहले से ही हैं.

उपेंद्र राय को एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर जैसा बड़ा पद दिए जाने के बाद कामकाज में पारदर्शिता और जिम्मेदारियों के विकेंद्रीकरण की दिशा में कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं. सहाराश्री सुब्रत राय के हस्ताक्षरों से जारी सरकुलर में कहा गया है कि सहारा में भर्ती प्रक्रिया के लिए अब एक टीम जिम्मेदार होगी जिसमें एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर उपेंद्र राय, सहारा इंडिया टीवी के एडमिनिस्ट्रेटिव हेड राव बीरेंद्र सिंह, एसआईएमसी के प्रशासनिक हेड एए जैदी और भर्ती से जुड़े संबंधित विभाग के दो अन्य वरिष्ठ लोग होंगे. इस टीम में एचआर की तरफ से एक शख्स होगा. यही टीम अब सहारा मीडिया में सारी भर्ती प्रक्रिया को देखेगी. हर पद के लिए पांच से लेकर दस अभ्यर्थी इंटरव्यू के लिए छांटे जाएंगे.

एक अन्य सरकुलर में कहा गया है कि सहारा मीडिया में वित्तीय मामलों की पारदर्शिता के लिए कुछ कदम उठाए जा रहे हैं. इसके तहत टीवी-इलेक्ट्रानिक मीडिया से जुड़े सारे पेमेंट्स की संस्तुति एसआईटीवी के एडमिनिस्ट्रेटिव हेड राव बीरेंद्र सिंह करेंगे. न्यूजपेपर-प्रिंट मीडिया से जुड़े पेमेंट्स को पहले एसआईएमसी के प्रशासनिक हेड एए जैदी उर्फ अली अहमर जैदी ओके करेंगे. इन लोगों की संस्तुति के बाद पेमेंट्स के बिल एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर और सीईओ उपेंद्र राय के समक्ष स्वीकृति के लिए पेश किए जाएंगे.

सहाराश्री द्वारा जारी इन दोनों सरकुलर के कंटेंट से सहारा में चर्चाओं का बाजार गरम है. हर कोई इसे अपने अपने एंगल से देख रहा है.

देखें दोनों सरकुलर-

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

One comment on “सहारा में उपेंद्र राय बने एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर, राव बीरेंद्र सिंह और एए जैदी का पॉवर बढ़ा”

  • sanjay Mishra says:

    अब सहारा का सही मायनो में अच्छा समय शुरू हो रहा है. वो श्राप मनु के जाने के बाद अब सहारा समय हर मामलो में अच्छा कर रहा है.
    भगवान् से यही प्राथना है की वो श्राप फिर से सहारा पर कभी ग्रहण ना लगा दे

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *