दैनिक भास्कर मैनेजमेंट ने दिल्ली में संपादकीय के पांच कर्मियों से जबरन साइन कराया

सुप्रीम कोर्ट के आदशों की धज्जियां उड़ाते हुए दिल्ली यूनिट में दैनिक भास्कर मैनेजमेंट ने कर्मचारियों का उत्पीड़न जारी रखा है। पिछले हफ्ते कर्मचारियों की एकजुटता को देखकर जबरदस्ती हस्ताक्षर कराने वाले मैनेजमेंट के एजेंट भाग खड़े हुए थे लेकिन बुधवार को फिर चोरी-छिपे ऑफिस में आ धमके और कर्मचारियों को धमकाना शुरू कर दिया। एक-एक कर कैबिन में बुलाया और कहा कि ये लिखकर दो कि हमें मजीठिया मिल गया और हमें कोई वेजबोर्ड नहीं चाहिए।

एक कोरे कागज पर यह सब लिखाया जा रहा है। एक संपादकीय के अधिकारी और एचआर के एक अधिकारी ने मिलकर कर्मचारियों को धमकाया और कहा कि साइन कर दो वरना नौकरी से निकाल देंगे। रोजी रोटी के लिए तरसते रहोगे। इस दबाव में आकर चार रिपोर्टर एक सब एडिटर ने साइन कर दिया। लेकिन अधिकतर कर्मचारियों ने साहस दिखाते हुए साइन करने से मना कर दिया। कर्मचारियों ने कहा कि मामला सुप्रीम कोर्ट में है और यह माननीय उच्चतम न्यायालय का आदेश का उल्लंघन है। भास्कर कर्मचारियों के अनुसार पूरे ग्रुप में इसका उत्पीडऩ जारी है। लेकिन संबंधित लेबर कमिश्नर ने इस ओर से आंखें मूंद रखी हैं। मैनेजमेंट के साथ मिलकर उत्पीडऩ का खेल खेला जा रहा है।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *