Connect with us

Hi, what are you looking for?

वेब-सिनेमा

गुजरात की भाजपा नेता पूनम बेन की निर्वस्त्र फोटो वायरल

यह पूनम बेन हैं। पूनम पहले कांग्रेस में थीं और आज गुजरात के जामनगर से भाजपा की निर्वाचित जन प्रतिनिधि। राष्‍ट्रीय जनता दल में कई जिला इकाइयों की ओर से आजकल बिस्‍तर पर किसी पुरूष के साथ पूनम की ऑलमोस्‍ट निर्वस्त्र फोटो वायरल किया गयी है, जिसे कई अन्‍य प्रदेशों में शेयर किया जा चुका है। फोटो में पूनम उस पुरूष के सीने से लिपटी हुई हैं, चेहरे पर संतुष्‍ट और आनन्‍द का स्‍पष्‍ट समन्‍दर की लहरों जैसा उछलता भाव है। 

यह पूनम बेन हैं। पूनम पहले कांग्रेस में थीं और आज गुजरात के जामनगर से भाजपा की निर्वाचित जन प्रतिनिधि। राष्‍ट्रीय जनता दल में कई जिला इकाइयों की ओर से आजकल बिस्‍तर पर किसी पुरूष के साथ पूनम की ऑलमोस्‍ट निर्वस्त्र फोटो वायरल किया गयी है, जिसे कई अन्‍य प्रदेशों में शेयर किया जा चुका है। फोटो में पूनम उस पुरूष के सीने से लिपटी हुई हैं, चेहरे पर संतुष्‍ट और आनन्‍द का स्‍पष्‍ट समन्‍दर की लहरों जैसा उछलता भाव है। 

राजद की वैशाली इकाई ने फेसबुक पर उस फोटो को शेयर किया है। और देखते ही देखते उस वाल पर कमेंट्स की बौछार लग गयी। हालांकि चंद लोग ऐसे हैं जो ऐसी फोटो को सार्वजनिक करने पर ऐतराज दर्ज करा रहे हैं। लेकिन ज्‍यादातर तो उसे छिनार कह रहे हैं, तो कोई उसे …। कोई खुल कर गालियां दे रहा है तो मध्‍यम श्रेणी के भद्दे इशारे। किसी ने लिखा है कि:- “पूनम मेरी जान, आ जाओ एक बार छपरा, तो मजा आ जाए। पैसा ले लो, मजा दे दो”

Advertisement. Scroll to continue reading.

लेकिन एक बात बताइये। ऐसी फोटो देख कर छिछोरा आनन्‍द लेना तो अलग बात है। लेकिन जरा खुद के गिरहबान में झांक कर देखिये तो, कि आखिर पूनम ने इसमें क्‍या गलत किया है। खुद से पूछिये ना कि क्‍या कोई महिला, भले ही वह एमएलए हो, क्‍या नैसर्गिक सहवास का आनन्‍द नहीं उठा सकती है?

जिस फोटो को सपा और राजद के लोग वायरल करा चुके हैं, वह तो उन दोनों के नितान्‍त क्षणों की फोटो है, जो कोई भी महिला अपने पति, प्रेमी जैसे किसे अति-विश्‍वसनीय व्‍यक्ति के साथ ही गुजारती है। अब अगर किसी ने या किन्‍हीं कारणों के चलते पूनम के उन नितान्‍त निजी पलों के दृश्‍यों को सार्वजनिक कर दिया तो उसमें पूनम का क्‍या दोष? माना कि पूनम एक जन-प्रतिनिधि हैं, लेकिन उसके पहले वह एक महिला भी तो है, जिसके भीतर आवेग-उद्वेलन उमड़ते हैं।  ऐसा न भी हो तो भी, क्‍या किसी महिला को इस तरह नंगा करना राजनीतिक बेहूदगी और सार्वजनिक तौर पर द्रौपदी की तरह निर्वस्‍त्र करने जैसा कुकृत्‍य नहीं है।

Advertisement. Scroll to continue reading.

कुमार सौवीर के एफबी वाल से

Advertisement. Scroll to continue reading.
Click to comment

0 Comments

  1. patrakar

    July 22, 2015 at 10:21 am

    yaar kaun sa page hai link bhi de do … photo dhundhtey dhundhtey thak gaya hu…
    aakhir photo kaha hai.. batao to zara ham bhi dekhey aisa kya hai photo me.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

भड़ास को मेल करें : Bhadas4Media@gmail.com

भड़ास के वाट्सअप ग्रुप से जुड़ें- Bhadasi_Group_one

Advertisement

Latest 100 भड़ास

व्हाट्सअप पर भड़ास चैनल से जुड़ें : Bhadas_Channel

वाट्सअप के भड़ासी ग्रुप के सदस्य बनें- Bhadasi_Group

भड़ास की ताकत बनें, ऐसे करें भला- Donate

Advertisement