अमर उजाला में कई बड़ी यूनिटों के संपादक इधर-उधर, राजेश श्रीनेत की फिर हुई इंट्री

खबर है कि राजेश श्रीनेत फिर से अमर उजाला के हिस्से बन गए हैं और उन्हें अच्छी खासी जिम्मेदारी देते हुए गोरखपुर यूनिट का स्थानीय संपादक बना दिया गया है. राजेश श्रीनेत अमर उजाला के मालिक राजुल माहेश्वरी के करीबी माने जाते हैं. अभी तक राजेश श्रीनेत्र सतना से प्रकाशित मध्य प्रदेश जनसंदेश नामक अखबार के संपादक हुआ करते थे. राजेश श्रीनेत की अमर उजाला में वापसी को आश्चर्य की नजर से देखा जा रहा है. माना जा रहा है कि राजुल माहेश्वरी अपने पुराने भरोसेमंद लोगों पर दांव लगाना ज्यादा पसंद कर रहे हैं.

अभी तक अमर उजाला गोरखपुर के स्थानीय संपादक के रूप में काम कर रहे प्रभात सिंह का तबादला कम महत्वपूर्ण यूनिट मुरादाबाद कर दिया गया है. सूत्रों के मुताबिक बरेली में प्रभात का घर और परिवार है, इसलिए वह मुरादाबाद आने चाहते थे. वहीं कुछ लोगों का कहना है कि प्रबंधन ने रणनीतिक तौर पर उन्हें कम महत्वपूर्ण यूनिट का जिम्मा दिया है. मुरादाबाद के स्थानीय संपादक नीरजकांत राही को आगरा का संपादक बना दिया गया है. यह राही के लिए एक बड़ी छलांग है. आगरा के संपादक राजेंद्र त्रिपाठी को बनारस का संपादक बनाया गया है. बनारस के संपादक अजित वडरनेकर का तबादला झांसी यूनिट के संपादक पद के लिए कर दिया गया है. झांसी के संपादक हेमंत लवानिया रिटायर हो चुके है और एक्सटेंशन पर चल रहे थे, जिसकी अवधि पूरी हो गई.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *