डिप्टी एसपी ने कांग्रेस जिलाध्यक्ष पर एक करोड़ रुपये का मानहानि केस करने को शासन से अनुमति मांगी

रायबरेली के जिला कांग्रेस अध्यक्ष वीके शुक्ला ने बिना सोचे-विचारे, बिना प्रमाण एक डिप्टी एसपी पर कई गंभीर आरोप लगा दिए. इस बाबत कांग्रेस नेता ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी, निर्वाचन आयोग और पुलिस आब्जर्वर को लंबा चौड़ा मेल लिखा. शासन-प्रशासन की तरफ से जब आरोपों की अपने स्तर पर जांच कराई गई तो ये सब बेबुनियाद पाए गए.

अपनी छवि धूमिल किए जाने और मानहानि किए जाने से आहत डिप्टी एसपी विनीत सिंह ने शासन से कांग्रेस जिला अध्यक्ष पर मानहानि का मुकदमा करने की अनुमति मांगी है. डिप्टी एसपी ने इस बाबत जिलाधिकारी को पत्र लिखकर शासकीय अधिवक्ता की मांग की है. साथ ही एक करोड़ रुपये की मानहानि का केस कांग्रेस जिलाध्यक्ष और कांग्रेस पार्टी पर करने को लेकर अनुमति चाही है.

ज्ञात हो कि रायबरेली के डलमऊ क्षेत्र के क्षेत्राधिकारी विनीत सिंह बेहद सरल, सहज और मिलनसार व्यक्ति हैं. मीडियाकर्मियों के बीच खासे लोकप्रिय डिप्टी एसपी विनीत की कानून के प्रति पक्षधरता के चलते कुछ नेता निजी रंजिश मान कर छवि बिगाड़ने के खेल में जुट गए हैं. मूलत: जौनपुर के रहने वाले और आईटी बीएचयू से पढ़े विनीत को उनकी सेवाओं की खातिर डीजीपी पिछले साल सम्मानित कर चुके हैं.

डिप्टी एसपी विनीत सिंह

पढ़ें वो पत्र जो डिप्टी एसपी विनीत सिंह ने रायबरेली के डीएम को भेजा है-

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

One comment on “डिप्टी एसपी ने कांग्रेस जिलाध्यक्ष पर एक करोड़ रुपये का मानहानि केस करने को शासन से अनुमति मांगी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *