‘दिशा’ चैनल दिशाहीन होकर बंद होने की कगार पर

धर्मगुरु आचार्य सुधांशु जी के मालिकाना हक़ वाला ‘दिशा’ चैनल इस समय गंभीर आर्थिक अभाव से जूझ रहा है। दो-तीन महीनों से कर्मचारियों का वेतन नहीं मिला है। कर्मचारियों पर छंटनी की तलवार भी लटक रही है। सी.ई.ओ के रूप में हाल ही में लाये गए वेद शर्मा विदाई की कगार पर हैं। उनसे सारे अधिकार वापस ले लिए गए हैं।

‘दिशा’ चैनल डीटीएच के प्रमुख प्लेटफार्म से भुगतान ना करने के कारण पहले ही हटाया जा चुका है। केबल नेटवर्क पर भी भुगतान ना होने की वजह से चैनल दिखना बंद हो चुका है। कर्मचारियों में निराशा है। ‘दिशा’ चैनल का आगाज़ 2009 में हरिद्वार में लगे कुम्भ से वरिष्ठ पत्रकार माधव कांत मिश्रा (वर्तमान में महामंडलेश्वर मारतंडपुरी) के नेतृत्व में किया गया था। थोड़े ही समय में चैनल ने ना केवल देश बल्कि विदेश में भी अपना स्थान बना लिया था।

दिशा चैनल के आर्थिक सहयोगकर्ता कानपुर वाले काया परिवार बहुत पहले ही चैनल से पिंड छुड़ा चुके हैं। कलकत्ता के प्रसिद्ध बिल्डर जिन्होंने दिशा चैनल को संभाला था, वो भी अपने हाथ पीछे खींच चुके हैं। दिशा चैनल आज दिशाहीन होकर बंद होने की कगार पर है।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *