जेपी की सम्पूर्ण क्रांति के दौरान जान की परवाह किये बिना किशन ने लाठी-गोली के बीच जीवंत तस्वीरें खींची

: बिहार में फोटो पत्रकारिता के जनक थे किशन : पूर्वी भारत के अग्रणी छाया-पत्रकारों में शुमार रहे कृष्ण मुरारी किशन के असामयिक निधन पर रामजी मिश्र मनोहर मीडिया फाउंडेशन की ओर से आयोजित श्रद्धांजलि सभा में वक्ताओं ने उन्हें मरणोपरान्त पद्मश्री से सम्मानित करने की मांग की है।  बिहार चैम्बर ऑफ कॉमर्स कान्फ्रेंस हॉल में आयोजित श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए पूर्व उपमुख्यमंत्री श्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बिहार फोटोग्राफी में नवीनतम तकनीक का प्रयोग कृष्ण मुरारी किशन ने किया था। सही मायने में किशन बिहार में छाया पत्रकारिता के जनक थे। उन्होंने राज्य सरकार से मांग की स्व0 कृष्ण मुरारी किशन के तमाम चित्रों का संकलन प्रकाशित करे।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री डा0 जगन्नाथ मिश्र ने स्व0 किशन के प्रति अपनी श्रद्धा निवेदित करते हुए कहा कि किशन जितने देश में लोकप्रिय थे उतने प्रदेश में। देश-विदेश के पत्र-पत्रिकाओं में उनके असंख्य चित्र प्रकाशित हुए, जिससे बिहार का गौरववर्धन भी हुआ। बिहार विधान सभा में प्रतिपक्ष के नेता नंदकिशोर यादव ने कहा कि कृष्ण मुरारी के फोटो खींचने का कोण सर्वथा भिन्न था। हर उम्र के बीच उनकी लोकप्रियता का राज उनका हंसमुख व्यवहार रहा। उनकी स्मृतियां हमेशा जीवंत रहेंगी। फोटोग्राफी के दौरान भी वे मंचासीन लोगों को ऊंगलियों पर नचाते थे। प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष मंगल पांडेय ने कहा कि कृष्ण मुरारी किशन के निधन से पत्रकारिता जगत को अपूरणीय क्षति हुई है। शून्यता की पूर्ति निकट भविष्य में संभव नहीं है। संसद सदस्य अश्विनी कुमार चौबे अपने संस्मरण सुनाते हुए कहा कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण की सम्पूर्ण क्रांति के दौरान जान की परवाह किये बिना किशन ने लाठी-गोली के बीच जीवंत तस्वीरें खींची।

विधान पार्षद श्रीमती किरण घई ने उनके दुर्लभ चित्रों के प्रकाशन पर बल दिया। बिहार चैम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष ओपी साह ने केन्द्र सरकार से आग्रह किया कि वह कृष्ण मुरारी किशन को पद्मश्री से सम्मानित करे जिसका समर्थन चैम्बर के पूर्व अध्यक्ष श्री युगेष्वर पांडेय ने किया। बिहार विधान सभा में विरोध दल के मुख्य सचेतक अरूण कुमार सिन्हा ने कहा कि बहुआयामी व्यक्ति के धनी व्यक्ति थे कृष्ण मुरारी किशन। मंच का संचालन फाउण्डेशन के सचिव श्री प्रदीप जैन ने किया।

इस अवसर पर पटना जैन संघ के अध्यक्ष तन्सुख लाल बैद, बिहार इन्डस्ट्रीज एसोसिएषन की ओर से मनीष तिवारी, बिहार ललित कला अकादमी की ओर से विरेन्द्र कुमार सिंह और फाउण्डेशन के कोषाध्यक्ष अमर कुमार अग्रवाल ने भी स्व0 किशन के प्रति श्रद्धांजलि व्यक्त की। फाउण्डेशन के न्यासी श्री पंकज वत्सल ने फाउण्डेशन के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए अतिथियों के प्रति आभार व्यक्त किया। आयोजन को सफल बनाने में वरिष्ठ पत्रकार श्री ज्ञानवर्धन मिश्र सहित स्व0 किशन के परिजन एवं कई पुराने मित्र सक्रिय रहे।

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करेंBhadasi Whatsapp Group

भड़ास के माध्यम से अपने मीडिया ब्रांड को प्रमोट करने के लिए संपर्क करें- Whatsapp 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *