जितनी देर हम रहे, कैंसर पीड़ित पत्रकार सत्येंद्र के चेहरे पर मुस्कान बनी रही

Kumkum Singh : अभी तीन-चार दिन पहले सत्येन्द्र जी से उनके वैशाली स्थित निवास पर मिलना हुआ. दरअसल उन्हें देखने ही गये थे. सत्येन्द्र जी ‘बिज़नेस स्टैण्डर्ड’ अखबार से जुड़े हुए हैं. वह एक जुझारू और जिंदादिल पत्रकार हैं. दुःख हुआ यह देखकर कि वह मुंह के कैंसर से जूझ रहे हैं. पिछले दिनों राजीव गांधी कैंसर इंस्टिट्यूट, रोहिणी, दिल्ली में उनका ऑपरेशन हुआ है. उन्होंने बताया कि पहले तो उनकी जीभ का वो हिस्सा काट दिया गया जो कि प्रभावित था और फिर डॉक्टर्स को गले में 3-4 गांठे दिखाई दीं उनको भी निकाल दिया गया और फिर बायोप्सी के लिए भेज दिया गया.

लेकिन उस दिन वे बोलने की स्थिति में नहीं थे. केवल सुन रहे थे और जो कहना चाह रहे थे वह लिख कर बता रहे थे. जितनी देर हम वहां रहे हमने देखा कि उनके चेहरे पर हमेशा मुस्कान बनी रही। उनके बारे में उनकी पत्नी ने भी बहुत सारी बातें बताईं। उनकी पत्नी के चेहरे पर भी गजब का कॉन्फिडेंस था जिससे उनको स्वयं व सत्येन्द्र जी और साथ ही सत्येन्द्र जी की माँ को बहुत शक्ति मिली है. और अगले दिन फिर उनके घर गए. सत्येन्द्र जी का आगे का इलाज एम्स (AIIMS) में होना है. उसके लिए हमने डॉ यतीश अग्रवाल जी से बात की है उन्होंने पूरी तरह से हर संभव मदद करने के लिए कहा है. लेकिन सत्येन्द्र जी को हम सबकी भी मदद चाहिए। यह तो आप सभी जानते हैं कि कैंसर जैसी बीमारी के इलाज में कितना खर्च आता है. क्यों ना हम सब मिलकर अपने सामर्थ्य के अनुसार उनकी मदद करें। मैं अपील करती हूँ कि आप सभी से जो भी बन सके सत्येन्द्र जी की मदद करें। उनके बैंक अकाउंट का विवरण नीचे दे रही हूँ.

Satyendra Pratap Singh
Kotak Mahindra Bank
Ac No -01720030181324
Branch- KG Marg
New Delhi
IFSC- KKBK0000172

धन्यवाद.

कुमकुम सिंह के फेसबुक वॉल से.

इसे भी पढ़ें…

कैंसर पीड़ित पत्रकार सत्येंद्र की कहानी : 33 रेडियेशन के साथ 4-5 कीमोथेरेपी होगी, आर्थिक संकट से अवसाद

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code