पीएम से क्यों मिले मीडिया साम्राज्य वाले जेम्स मर्डोक और स्टार इंडिया के सीईओ उदय ?

जिस वक्त फिक्की मुंबई में अपना सालाना मीडिया सम्मेलन फिक्की फ्रेम्स कर रहा था, उसी दौरान ट्वेंटी फर्स्ट सेंचुरी फॉक्स के सह-सीओओ जेम्स मर्डोक ने गुरुवार, 26 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इस मुलाकात में मर्डोक के साथ स्टार इंडिया के सीईओ उदय शंकर भी शामिल थे। मर्डोक ने सूचना व प्रसारण मंत्रालय संभाल रहे वित्त व कॉरपोरेट मामलों के मंत्री अरुण जेटली मंत्री से भी मुलाकात की। लेकिन इन बैठकों में क्या हुआ, इसके बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं लग सका है।

मर्डोक ने इससे पहले 2011 में भारत यात्रा के दौरान मोदी से शिष्टाचार मुलाकात की थी। मई 2014 में देश के प्रधानमंत्री बननेवाले मोदी उस वक्त गुजरात के मुख्यमंत्री हुआ करते थे। स्टार इंडिया फिलहाल देश का सबसे बड़ा ब्रॉडकास्ट नेटवर्क है। वो मर्डोक के ट्वेंटी फर्स्ट सेंचुरी फॉक्स की एक सब्सिडियरी है। स्टार बेहद आक्रामक अंदाज में अपना मीडिया साम्राज्य बना रहा है। अपने टेलिविज़न मनोरंजन बिजनेस को जमाने के बाद कंपनी अपने स्पोर्ट्स बिजनेस को बनाने में जुटी हुई है। वो ब्रॉडकास्ट व मीडिया राइट्स को खरीदने पर अब तक अरबों डॉलर झोंक चुकी है। हाल ही में इसने अपने पोर्टफोलियो के एकमात्र गैप को भरने के लिए मा टीवी नेटवर्क के ब्रॉडकास्ट बिजनेस को खरीदा है। 

स्टार की हिंदी, मराठी, बंगाली, तमिल, कन्नड़ और मलयालम बाजार में मजबूत उपस्थिति है। साथ ही उसने स्टार वर्ल्ड और स्टार मूवीज़ जैसे अंग्रेजी मनोरंजन चैनलों से धाक जमा रखी है। कुछ समय पहले ही उसने अपने नए लॉन्च किए गए वीडियो-ऑन-डिमांड प्लेटफॉर्म, हॉटस्टार के आसपास तालमेल बनाने के लिए इंडियन एक्सप्रेस समूह से उसकी फिल्मी पत्रिका, स्क्रीन का मालिकाना हासिल कर लिया। 

अपने मूल बिजनेस को मजबूत करने में जुटा स्टार इस दौरान कम महत्व वाले धंधों – जैसे केबल टीवी कंपनी हैथवे केबल एंड डाटाकॉम, होम शॉपिंग चैनल स्टार सीजे अलाइव और एबीपी समूह के साथ टीवी न्यूज़ के संयुक्त उद्यम से बाहर निकल गया। हालांकि न्यूज़ का धंधा कंपनी के लिए बड़ी अहमियत रखता है। लेकिन सरकार द्वारा विदेशी स्वामित्व पर लगाई गई सीमा के चलते उसे इस बिजनेस से मजबूरन बाहर निकलना पड़ा। स्टार डायरेक्ट-टू-होम (डीटीएच) कंपनी में भी इक्विटी हिस्सेदारी रखता है। टाटा स्काई की 60 प्रतिशत इक्विटी टाटा संस के पास है, जबकि स्टार इंडिया के पास इसका 30 प्रतिशत मालिकाना है।

हिंदी टेलीविजन पोस्ट से साभार



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “पीएम से क्यों मिले मीडिया साम्राज्य वाले जेम्स मर्डोक और स्टार इंडिया के सीईओ उदय ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code