विधु शेखर का मानसिक दिवालियापन : सेलरी के लिए प्रदर्शन करने गए अपने कर्मचारियों पर लगाया डकैती का आरोप

पी7 न्यूज़ में कुछ रोज पहले सुबह के वक्त कर्मचारियों का एक जत्था फरीदाबाद स्थित एचआर हेड विधु शेखर के घर पहुंचने लगा था। पी7 के दफ़्तर पर भी कर्मचारी इकट्ठा हुए और फिर फरीदाबाद सेक्टर 37 पहुंच गये। वहां पहुंचने पर पता चला कि विधु शेखर की सोसायटी का गेट बंद कर दिया गया था और वहां 8-10 लठैतों को तैनात किया गया था। कर्मचारियों ने तय किया कि वो कोई ज़ोर जबरदस्ती नहीं करेंगे और शांति पूर्वक प्रदर्शन करेंगे। प्रदर्शन शुरू ही हुआ था कि वहां फरीदाबाद पुलिस पहुंच गई और कर्मचारियों में से कुछ को उठाकर थाने लेकर गई।

पता चला कि विधु शेखर ने पुलिस को ये कहकर बुलाया था कि उसके घर पर डकैती डालने के लिए बदमाश आए हुए हैं हालांकि पुलिसवालों को वहीं समझ जाना चाहिए था कि मसला कुछ और है और कर्मचारी वहां प्रदर्शन करने ही आए हैं लेकिन उन्होंने किसी की एक नहीं सुनी और कर्मचारियों को हिरासत में लेकर थाने ले गये। थाने में तब तक फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर का फोन पहुंच गया और फिर कर्मचारियों को ससम्मान वहां से विदा किया गया।

ऊधर पी7 न्यूज़ में भाई संजय कुमार अभी भी आमरण अनशन पर बैठे हुए हैं और फिलहाल उनकी हालत स्थिर हैं थोड़ा डिहाइड्रेशन हुआ है लेकिन वो अनशन पर डटे हुए हैं। शाम तक पी7 प्रबंधन ने एक और चाल चली और कुछ 5-7 कर्मचारियों के अकाउंट उनके फुल एंड फाइनल पेमेंट का थोड़ा-थोड़ा हिस्सा जमा कर दिया ये सोचते हुए कि ये लोग शांत हो जाएंगे लेकिन कर्मचारियों का मानना है कि जब तक उन्हें एक-एक पैसा उनकी शर्तों के मुताबिक नहीं मिल जाता वो धरना स्थल से हिलनेवाले नहीं हैं और हर दिन किसी न किसी के घर के बाहर प्रदर्शन जारी रखेंगे।

इसे भी पढ़ें…

केसर सिंह के घर के सामने पी7 के आंदोलनकारी मीडियाकर्मियों का प्रदर्शन

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *