अमर उजाला में ‘आरोग्य सेतु ऐप’ डाउनलोड करना अनिवार्य

मेरठ : गृह मंत्रालय के निर्देशानुसार प्रत्येक नागरिक द्वारा “आरोग्य सेतु ऐप” का प्रयोग अनिवार्य रूप से किया जाना है | इसके मद्देनजर राज्य सरकारों ने भी मीडिया संस्थानों समेत सभी सरकारी और निजी संस्थानों को एडवाइजरी जारी कर अपने-अपने कर्मियों से “आरोग्य सेतु ऐप” डाउनलोड करने के लिए निर्देश जारी करने को कहा है।

साथ ही लॉकडाउन के दौरान उन्हीं कर्मचारियों के कार्यालय परिसर में प्रवेश की अनुमति होगी, जिन्होंने “आरोग्य सेतु ऐप” डाउनलोड किया है। इसी के मद्देनजर अमर उजाला समेत दिल्ली-एनसीआर की कई कंपनियों और मीडिया संस्थानों ने अपने कर्मियोॉ को “आरोग्य सेतु ऐप” डाउनलोड करने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

अमर उजाला कोरपोरेट एचआर विभाग, मेरठ द्वारा अपने कर्मियों को जारी दिशानिर्देश के अंश देखें…

साथियो,

गृह मंत्रालय के निर्देशानुसार प्रत्येक नागरिक द्वारा “आरोग्य सेतु ऐप” का प्रयोग अनिवार्य रूप से किया जाना है | उम्मीद है की आप एक जिम्मेदार नागरिक की भूमिका निभाएंगे और सामाजिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह ऐप अपने मोबाइल फोन पर डाउनलोड करेंगे |

कृपया ध्यान रखें कि सिक्यूरिटी गेट पर इस ऐप को दिखाने के पश्चात ही कार्यालय परिसर में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी |

बेसिक मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहे साथी सरकार द्वारा जारी की गयी हेल्प लाइन न० 1921 पर कॉल करके अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं | ऐसे साथी प्राप्त हुए एसएमएस को दिखाकर ही कार्यालय परिसर में प्रवेश कर सकेंगे |

यह व्यवस्था दिनांक 7 मई 2020 (ब्रहस्पतिवार) से लागू होगी |

कोरपोरेट एचआर विभाग, मेरठ

अमर उजाला
164/1, मोहाकमपुर, दिल्ली रोड
मेरठ, पिन – 250002
PH : 0121-2513801
corphr@mrt.amarujala.com

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

One comment on “अमर उजाला में ‘आरोग्य सेतु ऐप’ डाउनलोड करना अनिवार्य”

  • manoj sharma says:

    अमर उजाला चोर संस्थान हो गया है।
    चिन्दी चोरी पर उतर आया है,एक तो पूरे लॉक डाउन में काम करवाया और जान की परवाह न करते हुए सबने काम किया पर उसका सिला 50% सैलरी दी और खुद की तनख्वाह के लिए कर्मचारी संस्थान के सामने हाथ फैलाने को मजबूर है तो उन्हें धमकी देता है चोर संस्थान।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code