‘समाचार प्लस’ पर डिबेट में पते की बात कम, भाषण ज्यादा करते हैं पत्रकार अमिताभ अग्निहोत्री

मैं किसी भी पत्रकार के बारे में लिखने से बचता हूँ लेकिन कई पत्रकारों की हरकतों की वजह से आज यह पोस्ट लिखनी पड़ रही है. वरिष्ठ पत्रकार अमिताभ अग्निहोत्री ‘समाचार प्लस’ पर जब डिबेट में बैठते हैं तो खुद ही बोलते रहते हैं, गेस्ट को बोलने का मौका ही नहीं देते हैं. सवाल पूछने की जगह भाषण देते हैं. 

टीवी पर कई पत्रकार/ एंकर को देखकर ऐसा लगता है जैसे वह कोई संत हैं जो लोगों को आदर्श सिखाता है. यही नहीं, एंकर कभी कभी नेताओं की तरह भाषण देने लगते हैं. ऐसे ही ‘समाचार प्लस’ के एक वरिष्ठ साथी हैं अमिताभ अग्निहोत्री. वह जब डिबेट में बैठते हैं तो खुद ही बोलते रहते हैं, गेस्ट को बोलने का मौका ही नहीं देते हैं. सवाल पूछने की जगह भाषण देते हैं. डिबेट में आये पार्टियों के नेता और अन्य लोग चुपचाप उनका भाषण सुनते रहते हैं. 

मेरा ऐसा मानना है कि एंकर को डिबेट में आये गेस्ट को अधिक मौका देना चाहिये और शायद यही पत्रकारिता भी है. अगर एंकर और उनके एडिटर को खुद ही भाषण देना है तो गेस्ट को बुलाने की क्या जरुरत है? पत्रकार भाषण नहीं देता है, वह केवल रिपोर्ट करता है…..अमिताभ जी के बारे में यह सिर्फ मेरी राय नहीं है बल्कि ढेर सारे लोगों व पत्रकारों की राय कुछ ऐसे ही है. कई लोगों ने मुझसे बातचीत में कहा कि अमिताभ का भाषण बेहद उबाऊ लगता है. हो सकता है, मैं गलत हूँ लेकिन मुझे और मेरे ढेर सारे लोगों को लगता है कि अमिताभ को भाषण और प्रवचन से बचना चाहिये.

देवकी नंदन मिश्रा के एफबी वाल से

भड़ास के माध्यम से अपने मीडिया ब्रांड को प्रमोट करें. वेबसाइट / एप्प लिंक सहित आल पेज विज्ञापन अब मात्र दस हजार रुपये में, पूरे महीने भर के लिए. संपर्क करें- Whatsapp 7678515849 >>>जैसे ये विज्ञापन देखें, नए लांच हुए अंग्रेजी अखबार Sprouts का... (Ad Size 456x78)

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करें- Bhadas WhatsApp News Alert Service

 

Comments on “‘समाचार प्लस’ पर डिबेट में पते की बात कम, भाषण ज्यादा करते हैं पत्रकार अमिताभ अग्निहोत्री

  • dharmendra sharma says:

    bhai, ye amitabh agnihotri jarur pahle satyanarfayan ki katha sunata rahta hoga, kaise kaise chutiye hain, jinko broadcast media ka acd nahi pata hai sale brodcaster ban baithe hain, abhijeet ne prashant bhushan ke bare me jo kaha tha bas wahi main iske baare me kahna chahta hun………..bakwas movies ke liye ”golden kela” award diya jata hai….waise ise bhi behad chutiyape ki baaton ke liye ”waahiyaat news presenter of the decade” ka award dena chahiye………maa kasam supar pakaau aadmi hai….pata nahi kahan bhains charata tha…..sale ko ye tak nahi pata ki communication is two way process….idiot no 1

    Reply
  • Ekdum sahi kaha aapne. Maine bhi yeh note kiya hai. Inke alawa ek aur hain, Jagdish Chandra, (ETV Head). woh aise behave karte hain jaise India ke President hain. Waise hee, festival pe viewers ke liye message dena. Jab woh foreign jaate hain President ya VP ke saath, to ETV breaking news chalata hai..”Jagdish Chandra ne President se sawal poochha”. Ek journalist ya Editor ko aise apne channel ka use self promotion ke liye karna shobha nahin deta.

    Reply
  • nitin wakankar says:

    ye bahut bada DALAL hai. iski janmkundli nikalo to pata chalega jahan bhi kaam kiya wahan kewal female staff ko fasane ka kaam krta tha. Total News ki sabhi ladkiyan isse pareshan rahti thi. kai ne naukari chor di thi. aaj bakchodi kr raha hai. iski pol patti jald hi khulne wali hai.

    Reply
  • Vikas Muruthal says:

    Deoki Nandan Mishra ki FB Wall par aaye comments-

    Pankaj Rai बिल्कुल सही बात है सर।
    See Translation
    Like · Reply · 3 · 5 hrs

    Brijendra Dubey right sir
    See Translation
    Like · Reply · 2 · 5 hrs

    Sandeep Mishra Satya hai mishra ji
    See Translation
    Like · Reply · 2 · 5 hrs

    Syed Hasnain Qamar Sir sadar pranam aap ki soch sahi hai amitabh g to kabhi kabhi apna apa hi kho detey hai
    See Translation
    Like · Reply · 2 · 5 hrs

    Gaurav Dubey Satyvachan
    Like · Reply · 2 · 5 hrs

    Saurabh Sharma Sute wale mafeya h kuch patrkar
    See Translation
    Like · Reply · 2 · 5 hrs

    Punit Shukla ask Amitabh Agnihotri? kya yah sahee hai?
    See Translation
    Like · Reply · 3 · 5 hrs

    Punit Shukla unka dosh nhi hai blki Farrukhabad District ka asr hai
    See Translation
    Like · 4 hrs
    Khabar Khabar

    Write a reply…

    अशोक कुमार शर्मा जो एंकर समझे भगवान है वो, मूरख है बहुत नादान है वो
    See Translation
    Like · Reply · 1 · 4 hrs

    Rajanish Pandey मिश्रा जी गेस्ट का लेवल देखे है एक दम बुरबक होते है …अमिताभ बोलते बोलते सारी सीमा लाँघ देते है।और लोगो को भी लगता है क्या बात है…ऐसी अतिवादी पत्रकारिता से बचाना चाहिये ।
    See Translation
    Like · Reply · 4 hrs

    Nazeer Malik देवकी भाई अमिताभ को मै टीवीतोड एंकर कहता हूं। मैने अपने लंबे पत्रकारिता जीवन में ऐसा ( क्या कहूं, मूर्ख घमंडी अज्ञानी चिरकुट, जो चाहें यूज कर लें) पत्रकार नही देखा। बडी हैरत हुई कि ऐक दिन भाई रहीस सिंह ने फेसबुक पर अमिताभ की शान में लंबा कसीदा लिखा था।
    See Translation
    Like · Reply · 1 · 4 hrs

    Nazeer Malik आपने एक सच लिखा, मेरी बधाई स्वीकार करें देवकी भाई।
    See Translation
    Like · Reply · 1 · 4 hrs

    Devendra Amar Aap KA reaction mujhe achha laga.
    See Translation
    Like · Reply · 4 hrs

    Vikash Kumar Sahara pranam sir.
    Bahut sahi kaha sir ji aapne. Unhi ke bakvash se pakar Mai samachar plas dekhna band kar Diya Hu.
    See Translation
    Like · Reply · 4 hrs

    Arvind Kumar Rai bhai sahab such kahana jaruri hota hai man jise man le aur log Jise sahi kahe vah kah dena chahiye Aap ne vahi kiya achchha kiya
    See Translation
    Like · Reply · 3 hrs

    Mohd Kamil Khan patrkarita ko aise log hi peeche le ja rahe hai. kagaj ki nav jyada din nahi chalti. tabhi to bar-bar remote ka istemal hota hai.ankar ko jyada bolne me kabliyat nahi hai ,kam bolne me hai. ab kaun samjhaye,is per bhi bolne lagenge.
    See Translation
    Like · Reply · 1 · 3 hrs

    Ashish Kumar Singh बिल्कुल सही कहा आप ने,
    See Translation
    Like · Reply · 3 hrs

    Ashutosh Singh सौ फीसदी सहमत हूँ आपसे।
    See Translation
    Like · Reply · 3 hrs

    Yasoda Srivastava केवल अमिताभ ही नही,चैनलो के तमाम बड़े एंकर हैं(इनमे महिला एंकर भी शामिल हैं) जो डिवेट के नाम पर भाषणबाजी करते हैं।खेद इस इस बात की है कि यह सब जानते हुए भी कभी कभी राजनीतिक दलो के जानकार प्रवक्ता भी डिवेट मे पंहुच जाते हैं। शायद इसलिए कि दर्शक उनका थोबड़ा ही देखकर धन्य हो लें।
    See Translation
    Like · Reply · 2 hrs

    Ranjeet Gupta रविश कुमार , अंजना प्रकाश , चौधरी , कई नाम है
    See Translation
    Like · Reply · 2 hrs

    Abbas Haider Pahli baat samachar plus channel ek dam third class channel hai phir uska Jo anchor amitab ek no Ka jahil aadmi hai Jo apne aage kisi ko kuch samajhta hi nahi hai usko kisi field Ki koi bhi knowledge nahi hai aur Iran turan Ki bakta hai main channel Ke malik se kahna chahunga Ki aap Ka channel Ka nukhsaan sirf is aadmi Ki wajah se hi ho raha hai jitna jaldi ho aap amitab agnihotri ko nikal Bahar Karen.
    See Translation
    Like · Reply · 2 hrs

    Arif Syed Right sir
    See Translation
    Like · Reply ·

    Reply
  • अखबार से उठकर आया और सीधे मैनेजिंग एडीटर बन बन गया..बनाने वाले भी नासमझ हैं,क्योंकि वो खुद पत्रकार नहीं थे जिनका रीयल स्टेट का कारोबार है…पूरे शो में अमिताभ सत्यनारायण की कथा बांचता रहता है..साथ बैठा एंकर उल्लू की तरह ताकता रहता है,कि ये कब बोलना बंद करे और उसे मौका मिले..इसे टीवी में काम के नाम पर केवल भाषण देना ही आता है

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *