व्यक्ति नोटिस देकर बोला, मैं अभी जिंदा हूं, तब नईदुनिया ने छापा खंडन

NaiDuniya

इंदौर। नईदुनिया के संभागीय पृष्ठ पर एक बस दुर्घटना के संबंध में गलत तथ्य के साथ ख़बर प्रकाशित हो गई थी। गत सोमवार पुणे से इंदौर आ रही बस खलटांका के पास पलट गई जिसमें सभी यात्री घायल हो गए। नईदुनिया में प्रकाशित ख़बर में इंदौर निवासी कमलकांत बाबूलाल शर्मा को दुर्घटना में मृत बताया गया। बाबू लाल शर्मा ने अगले दिन नईदुनिया को कानूनी तौर पर नोटिस थमा दिया। प्रधान संपादक श्रवण गर्ग ने धार ब्यूरो चीफ प्रेम विजय पाटिल को ग़लत ख़बर प्रकाशित करने लिए जमकर फटकार लगाई।

नोटिस मिलने के बाद नईदुनिया के जिम्मेदार हरकत में आए और 18 जुलाई के इंदौर संस्करण के संभागीय पृष्ठ पर फिर से वही खबर सिंगल कॉलम की प्रकाशित कर गलत खबर प्रकाशित करने के लिए माफी भी मांगी। बताया जाता है कि जिंदा व्यक्ति को मृत बताने की गलती के विरोध में कुछ लोगों ने इंदौर नईदुनिया के कार्यालय जाकर विरोध भी जताया। इसके बाद ग़लत समाचार भेजने वाले धार के ब्यारो चीफ प्रेम विजय पाटिल पर कार्रवाई के निर्देश दिए गए।

एक मीडियाकर्मी द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “व्यक्ति नोटिस देकर बोला, मैं अभी जिंदा हूं, तब नईदुनिया ने छापा खंडन

  • Ravan garg says:

    Sahab, Naidunia mai filwaqt sabkoch ghor arajakta mai chal raha hai…. Sharavan garg naam k ek jaanvar ne itana tanaav de rakha hai ki aisisaikado galtiya roz chap rahi hai…. Khair ab koi notice de tho hi kisi ka dhyan galti par jata hai… nahi tho garg k aane k baad tho is pagle k alava sayad hi koi akhabaar ko padta hoga… jagran ko pata nahi kya mitha lag raha hai ismai?

    Reply
  • RAVAN G ,
    aapki bhasha se aisa nahi lagta hai ki aap budhhijivi patrkar hai , aapki koe niji wajah ho sakti hai . lekin maryadao ka paln har vyakti ko krna chahiye . halki bhasha ke use karne se shravan garg jaise patrakar ke KAD me koe fark nhi padega . …..RAVAN GARG AAP SAHI ME RAVAN HO YA RAVAN SE BHI AAGE KI CHEEJ HO >>>>>>>>

    Reply
  • Ravan garg says:

    Mukhes Bhai…. Naidunia ka haalta sayad tumne dekhe nahi… ya tum unke chatokaar mai se ek ho…. par yaad rakho sharavn apne chaatokaron ko bhi har ek do maah mai badalta rahata hai 🙂 🙄

    Reply
  • ravan g
    mai patrakar nhi hoo ….. lekin patrakarita ka samman karta hoo …. aapka bhi krata hoo ….. mujhe to kewal aapki bhasha achhi nhi lagi thi .
    apni pida ko hum achhe shabdo me bhi abhivyakt kr sakte hai.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *