टाइम्स ग्रुप अपने मीडियाकर्मियों के साथ इससे भद्दा मजाक क्या करेगा!

टाइम्स ग्रुप में सभी यूजर्स के पास 2 मई को एक मेल आता है कि हम कुछ दिनों में आपका पैसा बढ़ा रहे हैं.. ये मेल होता है कंपनी के EXECUTIVE VICE PRESIDENT AND HEAD OF HUMAN RESOURCES, S. Srivathsan की तरफ से.. जिसे कंपनी के CEO, M.K.ANAND अप्रूव भी कर देते हैं.. और ये अप्रूवल भी सभी यूजर्स के पास जाता है..

टाइम्स ग्रुप की कई कंपनियों में यहां तक कह दिया जाता है कि 25 को लेटर मिलेंगे और 31 को पैसा बढ़ कर आएगा.. फिर टाइम्स नाउ नवभारत के लिए एक पार्टी आर्गेनाइज होती है.. और चर्चा चलती है कि इस पार्टी में MK. ANAND आकर एनाउंस करेंगे.. लेकिन ऐसा भी कुछ नहीं होता..

पैसा बढ़ाने वाले मेल को अब तक 28 दिन हो चुके होते हैं.. 31 तारीख को सब ये उम्मीद लगाकर बैठे होते हैं कि पैसा बढ़ कर आएगा.. लेकिन ऐसा कुछ नहीं होता.. मेल के बाद पूरा एक महीना बीत जाने के बाद भी संस्थान के कुछ दिन पूरे ही नहीं हुए..

टाइम्स नाउ नवभारत के लोगों के लिए ये संस्थान में पहला इन्क्रिमेंट था.. सब लोग उम्मीदें लगाए बैठे थे.. लेकिन इतनी बड़ी और पुरानी कंपनी ने इतना भद्दा मजाक करके ये बता दिया.. नाम बड़े और दर्शन छोटे.. ये कहावत बिल्कुल सही है.. इतना बड़ा और पुराना ग्रुप होने का क्या फायदा जब दो दिन पहले निकले चैनल आपसे बेहतर पॉलिसी लेकर बैठे हैं.. और कम ये कम आपके जैसा भद्दा मजाक तो नहीं करते..

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “टाइम्स ग्रुप अपने मीडियाकर्मियों के साथ इससे भद्दा मजाक क्या करेगा!

  • बृजेश मिश्र says:

    टाइम्स ग्रुप में हर साल apprisal होता है और जून -जुलाई में उसकी प्रक्रिया पूरी होती है। जिसका भी इन्क्रीमेंट होता है उसका पूरा एरियर अप्रैल माह से जोड़ कर भुगतान कर दिया जाता है। यही प्रक्रिया है।

    Reply
  • EMMC Worker says:

    सैलरी बढ़ाने को बोले हुए सिर्फ एक महीना हुआ है और आप धैर्य खो चुके हैं। इस देश में एक ऐसा भी दफ्तर है जहां पिछले पांच सालों से स्टाफ की सैलरी नहीं बढ़ी है। उस दफ्तर का नाम है ‘इलेक्ट्रॉनिक मीडिया मॉनिटरिंग सेंटर’ जो भारत सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय के अधीन आता है। ज़रा सोचिए, पिछले पांच सालों से सैलरी बढ़ने का इंतजार कर रहे कर्मचारियों पर क्या बीत रही होगी?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code