भास्कर चेयरमैन रमेश अग्रवाल की पत्नी की याचिका पर बहू-बेटों को नोटिस

रमेश अग्रवाल यानि भास्कर के चेयरमैन की सच्ची कहानी इंदौर के अखबार दबंग दुनिया ने प्रकाशित की है. पत्रकार विनोद शर्मा की बाइलाइन इस खबर को दूसरे अखबारों ने इसलिए नहीं प्रकाशित किया क्योंकि मामला चोर-चोर मौसेरे भाई का है. तू मेरी कहानी छिपा, मैं तेरी छिपाउंगा टाइप का गठबंधन है मीडिया हाउसेज में. इसीलिए दूसरों की जिंदगी में घुसकर ढेर सारी एक्सक्लूसिव खबरें फोटो निकालने छापने वाले मीडिया हाउसेज के मालिक एक दूसरे की कुत्ती कहानियों को छिपा-ढंक के रखते हैं.

दबंग दुनिया ने भास्कर की कच्ची सच्ची अच्छी गंदी कहानियां इसलिए छापता है क्योंकि भास्कर वालों ने एक जमाने में दबंग दुनिया के मालिक को काफी परेशान किया था. उसी से दुखी होकर दबंग दुनिया का प्रकाशन किया और भास्कर वालों को दौड़ाया. आप भी पढ़िए रमेश अग्रवाल के बुढ़ापे की सच्ची कहानी.

-यशवंत, एडिटर, भड़ास4मीडिया

अगर आपके पास भी कोई मीडिया कथा है तो भड़ास तक पहुंचाएं, bhadas4media@gmail.com पर मेल करें.

भास्कर अंदरुनी कथा के लिए इस शीर्षक पर भी क्लिक कर सकते हैं…

रमेश अग्रवाल की संपत्ति पर ‘मां’ के हक ने उड़ाई समूह संचालकों की नींद

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “भास्कर चेयरमैन रमेश अग्रवाल की पत्नी की याचिका पर बहू-बेटों को नोटिस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *