यौन कर्मी बनना कानूनन जुर्म नहीं!

राजीव तिवारी बाबा-

एलजीबीटी रिलेशनशिप और एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स को सहारा देने के बाद वूमेन इंपावरमेंट और इंप्लायमेंट के लिए कोर्ट की ‘क्रांतिकारी’ पहल।

धन्य है ये देश और यहां की अदालतें तो महान हैं।

हम सबको सामूहिक तौर पर शर्म आनी चाहिए….

ऐसे जज तो सबसे ज्यादा महान हैं जो अजब गजब फैसले देते हैं… आखिर ऐसे फैसलों से किसका भला होता है… देश का? समाज का?

अगर देश-समाज का ऐसे फैसलों से भला नहीं होता तो फिर सनसनी फैलाने और सुर्खियों में आने के मकसद से ये न्याय देना अन्याय है…

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

One comment on “यौन कर्मी बनना कानूनन जुर्म नहीं!”

  • फैसल खान says:

    कलियुग के माई बाप हैं ये लोग,जो चाहे फ़ेंसला दे दें

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *