अवैध तरीक़े से नौकरी से हटाए गए कर्मचारी पर वरिष्ठों ने कराया हमला!

दवा कम्पनी Zydus में कार्यरत रहे विनय तिवारी इन दिनों अपने साथ किए गए अन्याय की लड़ाई लड़ रहे हैं। उनकी अवैध तरीक़े से नौकरी खाने वाले सीनियर्स ने एक और अवैध काम कर दिया है। इन लोगों ने विनय का मनोबल तोड़ने और डराने धमकाने के लिए उन पर जानलेवा हमला करा दिया है।

इस लोकतंत्र में हर व्यक्ति को अपने ऊपर हुए अन्याय के खिलाफ बोलने का अधिकार है। इसी के तहत विनय तिवारी ने अपने ऊपर हुए अन्याय के खिलाफ लड़ने के लिए Zydus Wellness Products Ltd. के सीनियर्स (नीलेश शर्मा, शशांक गौर, ललित आहूजा) को आरोपी बनाया है। उधर नीलेश शशांक ललित लगातार विनय पर वार पर वार किए जा रहे हैं। लीगल नोटिस भेजना, फ़र्ज़ी एफआईआर कराना आदि।

ज्ञात हो कि एक्सपायरी प्रोडक्ट को न बेचने और गलत बातों को मानने से मना करने के बाद insubordination के नाम पर 2 घंटे में ही विनय तिवारी को टर्मिनेट किया जाता है। उसके बाद उनके और उनकी माता जी के ऊपर अहमदाबाद में केस और 60 लाख रुपये का मुकदमा किया जाता है। इस से भी पेट नहीं भरा तो विनय तिवारी को किराए के गुंडों को भेज कर धमकाया जाता है। केस न लड़ने और केस न करने की चेतावनी दी जाती है। बात न मानने पर परिवार समेत मार दिए जाने की धमकी दी जाती है।

विनय तिवारी ने अपने ऊपर हुए हमले के बाबत विस्तार से शिकायती पत्र में लिखा है। विनय ने पुलिस प्रशासन से अनुरोध किया है कि FIR को थाने में पंजीकृत करते हुए वादी को न्याय दिलाने के साथ दोषियों पर कार्यवाही करने की कृपा करें।

देखें पत्र-

पूरे प्रकरण को विस्तार से समझने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- zydus-wellness-vinay-kumar-tiwari-case

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code