नेता, अफसर, पत्रकार के भ्रष्टाचारी गठजोड़ ने चर्चित मैग्जीन ‘दृष्टांत’ का गला घोंटा

लखनऊ से अनूप गुप्ता के प्रधान संपादकत्व में प्रकाशित होने वाली मैग्जीन ‘दृष्टांत’ का भ्रष्ट तंत्र ने गला घोंट दिया है. खबर है कि इस मैग्जीन का डिक्लयरेशन कैंसल करते हुए अब आरएनआई भी निरस्त करने की सिफारिश कर दी गई है. इस मैग्जीन ने भ्रष्ट आईएएस नवनीत सहगल, भ्रष्ट पत्रकार हेमंत तिवारी, भ्रष्ट मंत्री महबूब अली समेत ढेरों भ्रष्टाचारियों के चेहरों से नकाब हटाया था. अनूप गुप्ता को उनकी साहसी पत्रकारिता के लिए पिछले दिनों दिल्ली में भड़ास4मीडिया की तरफ से प्रेस क्लब आफ इंडिया में आयोजित एक कार्यक्रम में भड़ास सम्मान से सम्मानित किया गया था.

सम्मान लेने के बाद दिल्ली से लखनऊ लौटे अनूप गुप्ता को पता चला कि उनके मैग्जीन का गला घोंटा जा चुका है. अनूप गुप्ता ने भड़ास4मीडिया से बातचीत में कहा कि ये भ्रष्ट गठजोड़ चाहे जो प्रयास कर ले, आज के डिजिटल दौर में मीडिया का मुंह पूरी तरह नहीं बंद किया जा सकता. अगर मैग्जीन के रूप में ये लोग प्रकाशन बंद कराते हैं तो फिर दृष्टांत को आनलाइन माध्यमों के जरिए प्रकाशित प्रसारित किया जाएगा. उधर, भड़ास4मीडिया के संपादक यशवंत सिंह ने अनूप गुप्ता को प्रस्ताव दिया है कि अपनी मैग्जीन को वो पीडीएफ फार्मेट में भड़ास4मीडिया पर प्रकाशित करावें ताकि उसे ज्यादा से ज्यादा पाठक डाउनलोड करके पढ़ सके. कुल मिलाकर अगर भ्रष्टाचारियों का गठजोड़ एकजुट होकर एक अच्छी साहसिक मैग्जीन को बंद कराने पर आमादा है तो हजारों हाथ अनूप गुप्ता के पक्ष में उठ खड़े होकर यह संदेश दे रहे हैं कि रुक जाने का नाम जिंदगी नहीं, नए दौर में नए तरीके के साथ युद्ध जारी रखिए.

दृष्टांत मैग्जीन के तेवर को जानने-समझने के लिए नीचे दिए गए शीर्षकों पर एक एक कर क्लिक करते जाएं>>

हेमंत तिवारी का भंडाफोड़ करने पर सतीत्व का पाठ पढ़ा रही पत्रकारिता की वेश्याएं : अनूप गुप्ता

xxx

‘दृष्टांत’ मैग्जीन ने यूपी सरकार के माननीय महबूब अली को क्यों बताया भ्रष्ट, पढ़ें पूरा विवरण

xxx

सूचना सचिव से लड़ाई भारी पड़ी, ‘दृष्टांत’ के संपादक अनूप गुप्ता का मकान आवंटन निरस्त

xxx

लखनऊ के पत्रकार अनूप गुप्ता पर कोर्ट के भीतर पुलिस कस्टडी के दौरान हमला

xxx

‘दृष्टांत’ पत्रिका ने छापी यूपी के एक महालूट की आंख खोलने वाली विस्तृत कहानी

xxx

लुटेरा अभियंता : आरोपी होने के बावजूद अरुण मिश्र बना सरकार का चहेता

xxx

‘दृष्टांत’ मैग्जीन के सम्पादक अनूप गुप्ता को अपनी हत्या की आशंका

xxx

साजिशों का सरगना : नवनीत सहगल के इशारे पर फंसाए गए थे संजीव अवस्‍थी!

xxx

लखनऊ में दलाल पत्रकारों की भीड़ के बीच अनूप गुप्ता होने का मतलब

xxx

सपा का भस्मासुर (तीन) : क्या कहती है जांच समिति की रिपोर्ट!

xxx

सपा का भस्मासुर (दो) : कमीशन के खेल ने कर दिया योजना को फेल

xxx

सपा का भस्मासुर (एक) : अरबों की योजना में लूट-पाट के मुखिया नवनीत सहगल ही थे!

xxx

कानून मेरे ठेंगे पर : सुप्रीम कोर्ट आदेश के बाद भी हेमंत तिवारी से नहीं की गई वसूली

xxx

हम हैं यूपी के पत्रकार, कानून हमारी जेब में!

xxx

पत्रकारिता की कब्र खोदकर कफनचोरों ने किया यूपी प्रेस क्लब पर कब्जा

xxx

अरबपति संपादक संजय गुप्‍ता के पास नहीं हैं किराए के 77 हजार रुपए!

xxx

दृष्‍टांत ने खोली फर्जी सर्कुलेशन से सरकारी खजाना लूटने वालों की पोल

xxx

मिशन से दलाली के धंधे में बदला अखबारों का प्रकाशन!

xxx

फर्जी सर्कुलेशन से यूपी में अरबों की लूट



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “नेता, अफसर, पत्रकार के भ्रष्टाचारी गठजोड़ ने चर्चित मैग्जीन ‘दृष्टांत’ का गला घोंटा

  • Rakesh Srivastava says:

    बेहतरीन कवरेज, सही मायने मे पत्रकारिता यही कहलाती है

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code