फरहान अख्तर और रितेश सिधवानी के खिलाफ फ़िल्म इंडस्ट्री के श्रमिकों ने दी असहयोग की चेतावनी

शशिकान्त सिंह

श्रमिकों का लंबे समय से बकाया मेहनताना नहीं दे रहा है फरहान अख्तर और रितेश सिधवानी का प्रोडक्शन हाउस मेसर्स एक्सल एंटरटेनमेंट

एशिया की सबसे बड़ी मजदूर यूनियन “फिल्म स्टूडियो सेटिंग एंड अलाइड मजदूर यूनियन” ने निर्माता फरहान अख्तर और रितेश सिधवानी की कंपनी मेसर्स एक्सेल एंटरटेनमेंट को एक पत्र लिखकर मांग किया है कि वे सिनेमा जगत के लगभग 300 से 400 श्रमिकों का लंबे समय से बकाया मेहनताना भुगतान करें अन्यथा फ़िल्म इंडस्ट्रीज के श्रमिक उनके खिलाफ स्वेच्छा से असहयोग जैसे कठोर कदम उठा सकते हैं।

फिल्म स्टूडियो सेटिंग एंड अलाइड मजदूर यूनियन के जनरल सेक्रेटरी गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव ने कहा है कि फरहान अख्तर और रितेश सिधवानी की कंपनी मेसर्स एक्सेल एंटरटेनमेंट ने मई 2022 से विभिन्न स्थानों जैसे वृंदावन स्टूडियो, दिशा स्टूडियो और टीजीआईएफ स्टूडियो – मड और वाराणसी में आउटडोर सेटिंग कार्य के लिए दैनिक वेतन भोगी श्रमिकों से उनकी वेब सीरीज के लिए काम कराया और इसके बदले श्रमिकों का दैनिक वेतन का भुगतान किया जाना चाहिए। उक्त प्रोडक्शन हाउस ने पिछले 3-4 महीनों से इन श्रमिकों के वेतन का भुगतान नहीं किया है और श्रमिकों का कुल बकाया लगभग 20-25 लाख रुपए के करीब है।

यूनियन की ओर से कहा गया है कि मैसर्स एक्सल एंटरटेनमेंट के हाथों इन गरीब श्रमिकों का बड़े पैमाने पर शोषण किया जाता है। मजदूरों को नौकरी जाने का इतना डर ​​है कि वे अपने साथ हुए इस घोर अन्याय के खिलाफ आवाज नहीं उठा सकते। हालांकि, यूनियन ने अब इस मामले को उक्त प्रोडक्शन हाउस और सरकारी अधिकारियों के समक्ष उठाया है और मामले में उनके हस्तक्षेप की मांग की है तथा उनसे उक्त बकाया बकाया का जल्द से जल्द भुगतान करने का अनुरोध किया है। फिल्म स्टूडियो सेटिंग एंड अलाइड मजदूर यूनियन के सभी सदस्यों की मांग है कि वंचितों की आवाज सुनी जाए और न्याय मिले।

यदि मामले को बिना समाधान के और विलंबित किया जाता है, तो श्रमिक उक्त प्रोडक्शन हाउस के खिलाफ असहयोग का आह्वान कर सकते हैं। उक्त निर्माता और प्रोडक्शन हाउस के खिलाफ किसी भी तरह के असहयोग के लिए किसी भी कर्मचारी या यूनियन प्रतिनिधि को जिम्मेदार नहीं ठहराया जाएगा। यूनियन ने प्रोड्यूसर बॉडी से अनुरोध किया है कि वे अपने डिफाल्टर सदस्यों के खिलाफ कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू करें और हमारे सदस्यों के लंबे समय से लंबित बकाया को जारी करने में हमारी मदद करें।

शशिकान्त सिंह

9322411335



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *