कवि और नेता कुमार विश्वास पर ‘आप’ महिला कार्यकर्ता के साथ अनैतिक संबंध को लेकर सोशल मीडिया पर माहौल गरम

आम आदमी पार्टी नेता और कवि कुमार विश्वास पर पार्टी की एक महिला कार्यकर्ता से अनैतिक संबंध का आरोप लगा है. मामला लोकसभा चुनावों के दौरान का है लेकिन यह प्रकरण सोशल मीडिया में अब गरम हुआ है. #ExposingKumarVishwas ट्विटर पर टॉप ट्रेंडिंग टॉपिक है. आरोप है कि पिछले साल लोकसभा चुनाव के दौरान अमेठी में उन्‍होंने एक महिला कार्यकर्ता के साथ अनैतिक रिश्‍ते बनाए. एक अंग्रेजी अखबार में इस बारे में खबर छपने के बाद सोशल मीडिया पर यह मुद्दा चर्चा में आ गया. कुमार विश्वास ने इन आरोपों को खारिज किया है. उन्होंने ट्वीट किया है- ”BJP पालित मीडिया का एक हिस्सा और उसके नेट-नकटे भक्त 2 साल के दुष्प्रचार का तीन नंबरी फल दिल्ली में खाकर भी काम पर जुटे है. गजब.”

इस प्रकरण के बाद सोशल मीडिया पर कुछ का यहां तक कहना है कि कहा अमेठी में हार के पीछे कुमार की यही हरकतें जिम्मेदार हैं. कुछ ट्वीट्स में कुमार की पत्नी के प्रति वफादारी और उनकी नैतिकता पर भी सवाल उठाए गए हैं. एक ट्वीट में कहा गया है कि कुमार की हरकत के बाद यह साफ हो जाता है कि आम आदमी पार्टी में महिलाओं को लेकर क्या नजरिया है. एक अन्य ट्वीट में कहा गया है कि क्या ऐसे ही ‘आप’ महिलाओं की रक्षा करेगी.

कुमार विश्वास पर व्यभिचार के आरोप को लेकर एक खबर अंग्रेजी अखबार में छपी है. इसके बाद ‘एक्सपोज कुमार विश्वास’ ट्विटर पर टॉप-5 में ट्रेंड कर रहा है. खबर के मुताबिक लोकसभा चुनाव के दौरान अमेठी में कुमार विश्वास के रहते हुए उनको लेकर शिकायत की गई है. शिकायत अजय वोहरा नाम के शख्स ने अरविंद केजरीवाल से 23 दिसंबर 2014 को सुबह 11.28 बजे ईमेल के जरिये की. इस ईमेल पर आम आदमी पार्टी के तमाम बड़े नेताओँ ने अपनी-अपनी राय और जांच की बात लिखी है.

शिकायत करने वाले अजय वोहरा के उस ई-मेल पर अरविंद केजरीवाल ने 23 दिसंबर 2014 को दोपहर 3 बजकर 4 मिनट पर कुमार विश्वास से पूछा है कि इस पर आपका क्या कहना है? इस पर कुमार विश्वास ने उसी दिन शाम 5 बजे अपना जवाब भेजा जिसमें लिखा कि- ”प्रिय अरविंद, श्री वोरा कौन हैं और इस प्रकार के मेल से उनका क्या आशय है मैं नहीं जानता ? किंतु अरविंद के प्रशान उठाने का निराकरण होना जरूरी है.. क्योंकि इसमें लगाए गए आरोपों में कोई ऐसा नहीं है जिसका उत्तर या तो मेरे पीएसी के साथियों सूचित हो या उन्हें ज्ञात न हो.”

इस ईमेल पर दिलीप पांडे 23 दिसंबर को रात 8 बजे टिप्पणी लिखते हैं. आशुतोष भी 23 दिसंबर को ही रात 11.39 बजे उसके बारे में लिखते हैं. इस ईमेल पर योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण ने भी अपनी-अपनी बातें लिखी. पार्टी का कहना है कि शिकायत वाले इस ईमेल पर शिकायतकर्ता के बारे में कोई जानकारी नहीं है और कोई शरारत करने के लिए भी इस तरह के ईमेल के जरिये झूठी शिकायत कर सकता है इसलिए हमने इस पर कोई जांच नहीं करवाई और इस चैप्टर को बंद कर दिया गया.

कुछ तो गड़बड़ जरूर है…. !!!!!

बताया जा रहा है कि लोकसभा चुनाव के दौरान अमेठी में एक वालंटियर महिला के साथ सोते हुए कुमार विश्वास को उनकी पत्नी ने पकड़ा. अंग्रेजी अखबार डीएनए में छपी खबर की मानें तो अखबार का दावा है कि उनके पास कुमार विश्वास और केजरीवाल के बीच साझा हुए ऐसे इमेल की सीरीज है जिसमें इस सनसनीखेज बाज का खुलासा हुआ है. खबर के अनुसार कुमार विश्वास अमेठी में आप महिला वालंटियर के साथ सोते थे. उन्हें आपत्तिजनक स्थिति में उनकी पत्नी ने भी रंगेहाथ पकड़ा था.

आम आदमी पार्टी के अजय वोहरा ने केजरीवाल को एक मेल भेजा है जिसमें उन्होंने कुमार विश्वास पर ये आरोप लगाये हैं. उन्होंने कुमार पर कालाधन भी लेने का आरोप लगाया है. 24 दिसंबर को भेजे इस मेल के बाद केजरीवाल ने वोहरा को इस बात का आश्वासन दिया कि वह इस मामले की जांच करायेंगे और कार्यवाही करेंगे. इसके बाद केजरीवाल ने संसदीय मामलों की कमेटी को इस मामले की जानकारी दी और आगे की कार्यवाही के लिए राय मांगी.

कुमार विश्वास ने केजरीवाल को भेजे मेल में कहा है कि केजरीवाल को खुद मुझे इस बारे में पूछकर मेरा पक्ष जानना चाहिए था बजाए इसके कि वोहरा की बात पर यकीन करने के. मेल में विश्वास केजरीवाल से अपनी इस मामले में राय की बात कहते हैं, साथ ही उनकी पत्नी का नाम इस मामले में घसीटने पर आपत्ति जताते हैं. वोहरा के इस मेल के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का दावा है कि अरविंद केजरीवाल के पास इस मामले की क्लिप पहले से ही मौजूद थी. यह बात उस परिपेक्ष्य में कही गयी है जिसमें कहा गया है कि वोहरा ने अपने मेल में विश्वास के खिलाफ सबूत के तौर पर ऑडियो टेप देने की बात कही है.

वोहरा अपने मेल में कहते हैं कि यह केजरीवाल का पहला सबसे बड़ा टेस्ट है जब उन्हें अपने सबसे करीबी मित्र के खिलाफ कदम उठाना था. उन्होंने कहा कि अगर मीडिया इस क्लिप का खुलासा करती है तो पार्टी की छवि को नुकसान पहुंचेगा, और वह खुद इस क्लिप को मीडिया में नहीं देंगे, बल्कि पार्टी के भीतर के लोकपास से इस मामले की जांच के बाद कार्यवाही करने की गुजारिश करेंगे.  इस मेल को प्रशांत भूषण, योगेंद्र यादव, दिलीप पांडे, आशुतोष, आशीष खेतान, मनीष सिसोदिया, आशीश तलवार, संजय सिंह आदि को भी भेजा गया है, जिसमें इन सभी नेताओं ने कहा है कि इस मामले में उचित कार्यवाही की जाएगी. योगेंद्र यादव कहते हैं कि यह आरोप छींटाकशी ज्यादा लगता है, बजाए सच्चाई के. लेकिन उन्होंने कहा कि वोहरा को अपनी बात कहने की आजादी है. भूषण ने इस मामले को लोकपाल को देने की बात कही है. सूत्रों का कहना है कि इस मामले में कभी भी जांच नहीं की गयी. हाल ही में उस मेल को केजरीवाल और विश्वास के बीच साझा करके उसे निपटा दिया गया था, ऐसे में देखने वाली बात होगी कि मीडिया में इस खबर के आने के बाद क्या केजरीवाल इस मामले में विश्वास की जांच करवायेंगे. कुमार विश्वास ने इन आरोपों को बीजेपी का प्रोपोगेंडा बताया है, उन्होंने आरोपों को बेबुनियाद बताया है, साथ ही उन्होंने इस खबर पर मीडिया पर जमकर हमला बोला है.

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *