पत्रकारों पर हमले के खिलाफ और सुरक्षा की मांग को लेकर लखनऊ व मऊ में मीडियाकर्मियों ने किया प्रदर्शन

पत्रकारों की लगातार हो रही हत्याओं व हमलों को लेकर राजधानी लखनऊ के पत्रकारों ने एकजुट होना शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में कल दर्जनों पत्रकारों ने हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर सामूहिक प्रदर्शन किया। महामहिम राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित करते हुए पत्रकारों पर लगातार हो रहे हमलों की जाँच हेतु विशेष प्रकोष्ठ बनाये जाने की मांग उठाई गई। इस अवसर पर न्यूज़ पेपर एसोसिएशन ऑफ़ उत्तर प्रदेश द्वारा राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त पत्रकार राजेंद्र प्रसाद द्वेदी पर हाल ही में परिवहन कार्यालय लखनऊ में हुए हमले में की जा रही विवेचना में हीलाहवाली बरते जाने पर भी पत्रकारों ने नाराजगी व्यक्त की। साथ ही लापरवाह व दोषी अधिकारयों के विरुद्ध शीघ्र कार्यवाही किये जाने की मांग महामहिम राज्यपाल को ज्ञापन देकर की।

हज़रतगंज स्थित गाँधी प्रतिमा पर एकत्रित राजधानी के पत्रकारों ने कहा कि आज के दौर में निर्भीक पत्रकारिता करना खतरों से खेलने जैसा होता जा रहा है। कुछ वरिष्ठ पत्रकारों ने भारत में बढ़ती पत्रकार हत्याओं का जिक्र करते किया। पिछले साल आयी अंतर्राष्ट्रीय संगठन ‘कमेटी टू प्रोटेक्ट जर्नलिस्ट्स’ द्वारा जारी रिपोर्ट का हवाला देते हुए बताया कि युद्धग्रस्त देशों के बाद दुनिया भर में भारत ही ऐसा देश है जहां पत्रकारों को सबसे अधिक खतरा है और जहां सबसे अधिक पत्रकारों की हत्याएं भी होती हैं। मारे गए पत्रकारों में अधिकांश पत्रकार शहरों व कस्बों में काम करने वाले होते हैं जहां भ्रष्टाचार का बोलबाला है और उसे उजागर करने का मतलब स्थानीय अफसरशाही, राजनीतिक नेताओं और गुंडों से दुश्मनी या पंगा लेना है। ऐसे में हम पत्रकारों को संगठित रहकर पत्रकार सुरक्षा हेतु पुरजोर मांग उठानी चाहिए। प्रदर्शन में रामानंद शास्त्री, नावेद शिकोह, संजय शर्मा, कामरान अहमद, शशिनाथ दुबे, रिजवान चंचल, बीबी सिंह, वशीउल्ला, तमन्ना फरीदी, राजेश श्रीवास्तव, रामप्रसाद दिवेदी सहित दर्जनों पत्रकार शामिल रहे।

बताते चलें कि परसों 4पीएम के संपादक संजय शर्मा और दर्जनों पत्रकारों ने सीएम आवास के सामने धरना दिया था। इसके चलते मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ द्वारा पत्रकारों के साथ बीएचयू की घटना में पत्रकारों पर हुए हमले की रिपोर्ट को तलब भी किया गया। महामहिम राज्यपाल को कल ज्ञापन सौपकर पुन: पत्रकारों ने पत्रकार सुरक्षा हेतु आवाज़ उठाई। उधर वरिष्ठ पत्रकार हेमंत तिवारी ने भी बनारस पहुंचकर घायल पत्रकारों की ऍफ़आईआर लाज कराते हुए दोषियों के खिलाफ शीघ्र कार्यवाही की मांग की।

जन जागरण मीडिया मंच के राष्ट्रीय महासचिव रिजवान चंचल की रिपोर्ट. संपर्क : मोबइल-7080919199


मऊ में मोटरसाइकिल जुलूस निकाल, डीएम को सौंपा ज्ञापन

मऊ। बीएचयू में कवरेज के दौरान पुलिस द्वारा पत्रकारों पर लाठीचार्ज के विरोध में सोमवार को उत्तर प्रदेश के मऊ जिले के पत्रकारों ने मोटरसाइकिल जुलूस निकाला और कलेक्ट्रेट पहुचंकर जमकर नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्यवाई की मांग को लेकर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। ज्ञापन के माध्यम से पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग की।  ज्ञापन सौपने वालो में वेद मिश्रा, दुर्गा किंकर सिंह, विजय मिश्रा, अरुण सिंह, हसनैन आजमी, प्रवीण श्रीवास्तव, पुनीत श्रीवास्तव, अप्पू सिंह, वीरेंद्र सरोज, अमित यादव, जाहिद इमाम, मो.अशरफ, सरफराज अहमद, सुमित, नुरूल अफजल, विपिन सिंह,  मो.इमरान, इरफ़ान अहमद आदि पत्रकारगण मौजूद रहे।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *