फिल्म-टीवी आर्टिस्टों की हड़ताल 14वें दिन भी जारी, महाराष्ट्र सरकार ने बुलायी 30 को बैठक

मुंबई में हो रही बरसात के बाद भी हड़ताल पर बैठे फिल्म और टीवी कामगारों का हौसला 14वें दिन भी कम नहीं हुआ है। वहीं महाराष्ट्र सरकार ने 30 अगस्त को दोपहर साढ़े बारह बजे फेडरेशन आफ वेस्टर्न इंडिया सिने इंप्लाईज और निर्माताओं की बैठक मंत्रालय में बुलायी है। यह बैठक महाराष्ट्र सरकार के कामगार मंत्री संभाजी पाटिल निलंगेकर ने मंत्रालय की सातंवी मंजिल पर स्थित परिषद सभागृह क्रमांक पांच में बुलायी है। इसमें भाजपा के मुंबई अध्यक्ष और विधायक आशीष शेलार, पूर्व विधायक तथा नगरसेवक अतुल शहा, प्रधान सचिव (कामगार), कामगार आयुक्त, फेडरेशन आफ वेस्टर्न इंडिया सिने इंप्लाईज के पदाधिकारी और प्रतिनिधि तथा प्रोड्यूसर असोसिएशन के प्रतिनिधि और अन्य संबंधित लोग मौजूद रहेंगे। यह जानकारी कामगार मंत्रालय की ओर से विशेषकार्य अधिकारी संतोष राउत ने आज एक पत्र जारी कर दी है।

फेडरेशन आफ वेस्टर्न इंडिया सिने इंप्लाईज के प्रेसिडेंट श्री बीएन तिवारी और जनरल सेक्रेटरी दिलीप पिठवा के मुताबिक फेडरेशन लंबे समय से मांग करता रहा है कि आठ घंटे की शिफ्ट हो और हर अतिरिक्त घंटे के लिये डबल पेमेंट हो। हर क्राफ्ट के सभी कामगारों, टैक्निशियनों और कलाकारों आदि की चाहे वह मंथली हो या डेलीपैड, पारिश्रमिक में तत्काल वाजिब बढ़ेत्तरी, बिना एग्रीमेंट के काम पर रोक, मिनीमम रेट से कम पर एग्रीमेंट नहीं माना जायेगा। साथ ही जॉब सुरक्षा, उत्तम खानपान और सरकार द्वारा अनुमोदित सारी सुविधायें और ट्रेड यूनियन के प्रावधान हमारी प्रमुख मांग है। मगर निर्माता हमारी मांग को लगातार नजरअंदाज कर रहे हैं।

बॉलीवुड में काम कर रहे ये कामगार अपना नया एमओयू साइन करवाना चाहते हैं, जिसकी मियाद पिछली फरवरी में खत्म हो चुकी है। ये एमओयू हर ५ साल में साइन होता है। इस बार नए एग्रीमेंट में कामगारों की मांगों में उनका मेहनताना, सुरक्षा, समय पर भुगतान, काम करने की समय सीमा और बीमा शामिल हैं। इनके मुताबिक, इनका मेहनताना तीन से छह महीने बाद मिलता है। १८-१८ घंटे काम करवाया जाता है। अपनी विभिन्न मांगों को लेकर फ़िल्म और टीवी कामगार तथा महिला कलाकार और टेक्नीशियन पिछले १४ दिन से हड़ताल पर हैं। इन हड़ताल करने वालों का कहना है जब तक हमारी मांग नही मानी जाती हमारी हड़ताल जारी रहेगी। फिल्म और टीवी  इंडस्ट्रीज में काम करने वाले 2.50 लाख कर्मचारी हड़ताल पर हैं। फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एंप्लॉयज संगठन के साथ 22 और संगठन भी हड़ताल पर गए हुए हैं. कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से कई फिल्म, सीरियल की शूटिंग और कई रियल्टी शो पर इसका असर पड़ रहा है।

मुंबई से पत्रकार शशिकांत सिंह की रिपोर्ट. संपर्क : ९३२२४११३३५

इसे भी पढ़ें…

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *