Connect with us

Hi, what are you looking for?

टीवी

ब्लैकमेलिंग मामले में ‘सुदर्शन न्यूज’ चैनल के मालिकान भी संदेह के घेरे में! लीपापोती के लिए सारे घोड़े खोले!!

जिन चार लोगों को ब्लैकमेलिंग मामले में गिरफ्तार किया गया है, उनसे पूछताछ और मोबाइल काल डिटेल चेक करने के बाद दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के शक के दायरे में सुदर्शन न्यूज चैनल के एक मालिकान भी आ गए हैं. चैनल के बड़े मालिक हैं सुरेश चह्वाणके. इनके छोटे भाई भी एक मालिक हैं जिनका नाम है राम चह्वाणके. सुदर्शन न्यूज की एसआईटी के लोग राम चह्वाणके के अधीन रहकर काम करते थे. सुदर्शन न्यूज के गिरफ्तार रिपोर्टरों ने क्राइम ब्रांच की पूछताछ में बताया है कि उगाही का एक हिस्सा वह चैनल के मालिक को देते थे.

जिन चार लोगों को ब्लैकमेलिंग मामले में गिरफ्तार किया गया है, उनसे पूछताछ और मोबाइल काल डिटेल चेक करने के बाद दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के शक के दायरे में सुदर्शन न्यूज चैनल के एक मालिकान भी आ गए हैं. चैनल के बड़े मालिक हैं सुरेश चह्वाणके. इनके छोटे भाई भी एक मालिक हैं जिनका नाम है राम चह्वाणके. सुदर्शन न्यूज की एसआईटी के लोग राम चह्वाणके के अधीन रहकर काम करते थे. सुदर्शन न्यूज के गिरफ्तार रिपोर्टरों ने क्राइम ब्रांच की पूछताछ में बताया है कि उगाही का एक हिस्सा वह चैनल के मालिक को देते थे.

सूत्रों के मुताबिक सुदर्शन न्यूज के पीसीआर में वरिष्ठ पद पर काम करने वाला एक शख्स स्टिंग और ब्लैकमेलिंग के धंधे में मध्यस्थ की भूमिका निभाता था. यह शख्स अपने मालिक और एसआईटी के रिपोर्टरों के बीच पुल का काम करता था. यह सब इसलिए किया जाता था ताकि किसी भी रूप में उगाही में चैनल मालिक की संलिप्तता न उजागर हो. सूत्रों के मुताबिक सुदर्शन न्यूज के मालिकान अपने उगाही करने वाले रिपोर्टरों को पक्का लेटर नहीं देते. ये मेंटली तैयार रहते हैं कि कल को अगर कोई रिपोर्टर उगाही या ब्लैकमेलिंग में पकड़ा गया तो उसका जुड़ाव चैनल से खारिज कर उसे उसके हाल पर छोड़ देंगे. इस बार भी ऐसा ही हुआ. चैनल ने इन लोगों को अपना रिपोर्टर मानने से इनकार कर दिया. साथ ही माइक आईडी और प्रेस कार्ड को फर्जी करार दिया.

Advertisement. Scroll to continue reading.

पर दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने आरोपियों से पूछताछ के बाद जो जानकारी मिली उसकी तहकीकात के लिए इन आरोपियों के मोबाइल काल डिटेल निकाले तो कई नए तथ्य सामने आए. सुदर्शन न्यूज के कई बड़े पदाधिकारियों से आरोपियों की लगातार बात हुई है. इससे पता चलता है कि सब कुछ चैनल के आकाओं के जानकारी में होता था. जिस मामले में सुदर्शन न्यूज के रिपोर्टरों की गिरफ्तारी हुई है वह एक करोड़ रुपये की ब्लैमेलिंग का मामला था जिसमें से चालीस लाख रुपये सुदर्शन वाले ले चुके हैं. दिल्ली पुलिस की टीम अब सुदर्शन न्यूज के मालिकों से पूछताछ की तैयारी कर रही है. हालांकि इस मामले को दबाने और लीपापोती कराने के लिए सुरेश चह्वाणके ने सारे घोड़े खोल दिए हैं और केंद्र से लेकर दिल्ली राज्य तक के नेताओं, अफसरों को साधने में लगे हैं.

उल्लेखनीय है कि दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने सुदर्शन न्यूज के कुछ रिपोर्टरों को संगठित तौर पर ठगी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. यह गिरोह स्टिंग ऑपरेशन के बाद लाखों रुपयों की फिरौती वसूलता था. हाल ही में इस गैंग ने वेस्ट दिल्ली के एक पैथलॉजी लैब में इसी तरह का स्टिंग ऑपरेशन अंजाम देने के बाद 40 लाख रुपये की फिरौती वसूली थी. इसी लैब मालिक की शिकायत पर क्राइम ब्रांच ने इस गिरोह का पर्दाफाश किया है. पुलिस पूछताछ में इस गैंग ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं. इनके निशाने पर दिल्ली के नर्सिंग होम, पैथालॉजी लैब और कॉल गर्ल्स रैकेट वगैरह होते थे. इन्होंने बताया कि फिरौती की रकम का एक हिस्सा चैनल के मैनेजर और चैनल के एक मालिक को देते थे.

Advertisement. Scroll to continue reading.
Click to comment

0 Comments

  1. Abhishek

    November 2, 2014 at 4:49 am

    ब्रेकिंग यह है कि सुद एकेडमी के एक लड़की के साथ चैनल के डायरेक्टर ने रामलीला रचाई और तौफे में गिफ्ट भी दी

  2. Rahul chaudhary

    October 31, 2014 at 7:36 am

    बाबा राम देव को ब्लैकमेल किया था
    लडकिया भी सप्लय करता है अपनी PA के जरिए

  3. Ajit

    November 1, 2014 at 2:10 pm

    सुदर्शन चैनल काफी बदनाम हो चुका है ! कहा जाता है कि इसका मालिक़ भाजपा के कुछ नेताओं (जिनमें एक पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष) से पैसों का जुगाड़ करता है ! हिंदुत्व के नाम पर लोगों को ठगता है (वैसे ही जैसे मुस्लिमों का रहनुमाई का दम भरने वाले नेता) ! अपने यहाँ के लोगों को सैलरी भले ही ना दे पर खुद की संपत्ति में काफी इज़ाफ़ा कर चुका है ! शिर्डी के एक छोटे से गाँव में किसानी और छोटा सा धंधा करने वाले चव्हानके ब्रदर्स , ने कैसे चैनल का लाइसेंस ले लिया और कहाँ से पैसे का इंतज़ाम करते हैं , ये रहस्य आज भी बना हुआ है ! योग्य व्यक्तियों को ये दोनों भाई टिकने नहीं देते ! कर्मचारियों को आपस में लड़ाना और अंग्रेजों की “फूट-डालो , राज करो” , चव्हानके ब्रदर्स के खून में लगता है ! स्त्रीलिंग और पुल्लिंग ,यिम से स्त्रीलिंग का आकर्षण दोनों भाइयों (खासकर, रामदास) में है , इसके चलते भी इस चैनल की बदनामी और नाकामी सामने आयी है !

  4. praveen

    October 31, 2014 at 12:48 pm

    girane ki bhi had hoti hai yaar.

  5. D D MISHRA

    October 31, 2014 at 5:00 am

    😐 😐 😐 😐 😐 😐 😆 😆 😆 😆 😆 😆 😆 :-* :-* :-* :-*

  6. atul tyagi

    October 31, 2014 at 6:00 am

    haram khouri ki bhi haad hoti hai…..kaha tak giroge janab….ramdas…..kabhi to kabhi kabhi kuch…..kabhi aayashi….to kabhi ladkiyo ko anchor banane ka lalach dekar…..rijhana….sudhar jao…

  7. Abhishek

    October 31, 2014 at 9:31 am

    ब्रेकिंग यह है कि सुद एकेडमी के एक लड़की के साथ चैनल के डायरेक्टर ने रामलीला रचाई और तौफे में गिफ्ट भी दी,सब कुछ ठीक रहा तो शोले को बहुत ही जल्द चैनल के स्क्रीन पर होगा

  8. santosh singh

    November 14, 2014 at 7:51 am

    Bap re suresh chauhanke jaisa koi frod pure media jagt me nahi hoga.pure bhart me sabse pahle fernchiji dekar paisa thagne ka kam kiya.aaj tak kisi ka paisa nahi diya.apne chanail me ladkiy ko kam dekar shosan kiya. bahut gol-gol bat karne me mahir hai.ek namber thag hai.kitna jagah badl diya hai.aaj tak fernchiji ka kisi ka paisa nahi diya.isko badi se badi saja honi chahia

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

भड़ास को मेल करें : [email protected]

भड़ास के वाट्सअप ग्रुप से जुड़ें- Bhadasi_Group_one

Advertisement

Latest 100 भड़ास

व्हाट्सअप पर भड़ास चैनल से जुड़ें : Bhadas_Channel

वाट्सअप के भड़ासी ग्रुप के सदस्य बनें- Bhadasi_Group

भड़ास की ताकत बनें, ऐसे करें भला- Donate

Advertisement