Alibaba के दफ्तर में पुलिस का छापा, आरोपी GM फरार

गुड़गांव में Alibaba Group के ऑफिस समेत कई ठिकानों पर पड़ी पुलिस की रेड, आरोपी GM फरार, आरोपी को भगाने में कंपनी पर शक… Alibaba Group की कंपनी UCWeb के अधिकारी और कंपनी दोनों ही, देश के कानून से भागने की जितनी पुरजोर कोशिश कर रहे हैं, उतना ही वो इसमें फंसते जा रहे हैं। हाल ही में गाजियाबाद कोर्ट ने Alibaba Group की कंपनी Alibaba Mobile Business Group / UCWeb के भारत और इंडोनेशिया ऑफिस के General Manager Damon Xi के खिलाफ दो बार गैर जमानती गिरफ्तारी वारंट निकाल चुकी है।

कोर्ट ने डैमन शी उर्फ Yu Xi के अलावा एक अन्य चाइनीज कर्मचारी स्टीवन शी उर्फ Peiwen Shi के खिलाफ दो बार गैर जमानती वारंट निकाला हुआ है। इन दोनों को ही गिरफ्तार करने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस ने गुड़गांव पुलिस के साथ मिलकर ज्वाइंट ऑपरेशन के तहत 17 मई को छापा मारा।

पुलिस ने गुड़गांव स्थित Time Tower बिल्डिंग में कंपनी के ऑफिस और Essel Tower के कई फ्लैट्स पर छापा मारा, जहां कंपनी के कई चाइनीज कर्मचारी टूरिस्ट और बिजनस विजा पर भारत आकर गैरकानूनी तरीके से ना केवल काम करते हैं बल्कि यहां रहते भी हैं।

जब पुलिस कंपनी के ऑफिस पहुंची तो वहां से दोनों आरोपी फरार थे। हैरत की बात ये कि कंपनी मानने को ही तैयार नहीं है कि ये दोनों कर्मचारी कंपनी के कर्मचारी हैं, जबकि खुद कंपनी ने ही Damon Xi को दुनियाभर में Alibaba Mobile Business Group के General Manager के तौर पर ना केवल प्रस्तुत किया बल्कि मीडिया को दर्जनों इंटरव्यू भी दिए। कंपनी की इंडिया HR Head यामिनी सिम्हा ने इस बारे में पुलिस को लिखित बयान भी दिया है, जिसे पुलिस 28 मई को गाजियाबाद कोर्ट में होने वाली अगली सुनावई में पेश करेगी।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “Alibaba के दफ्तर में पुलिस का छापा, आरोपी GM फरार

  • पत्रकार होते हुए आपको रिपोर्ट नहीं लिखनी आ रही लगता है छः काकारों का सिद्धांत आप भूल चुके हैं?? पूरी घटना में आप ये बताना भूल गए की आखिर छापे मारे क्यों?? अलीबाबा के ऑफिस में आखिर रेड पड़ी क्यों?? महोदय कृपया पूरी खबर विस्तार से बताये जिससे आपके पाठक खबर की तह तक जा सकेl धन्यवाद l

    Reply
  • Kunwar Adhiraj says:

    प्रिय अमित, कितना अच्छा होता यदि आप इसी बात को शिष्टाचारी शब्दों में कह देते। हम तब आपको और भी अधिक विद्वान समझते।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *