दीपक द्विवेदी की किताब ‘इम्पावरिंग द मार्जिन्लाइज्ड’ का उपराष्ट्रपति ने किया विमोचन

नई दिल्ली। दैनिक भास्कर उत्तर प्रदेश के चीफ एडीटर एवं नागरिक फाउन्डेशन के फाउन्डर प्रेसीडेन्ट दीपक द्विवेदी की पुस्तक इम्पावरिंग द मार्जिन्लाइज्ड का विमोचन उपराष्ट्रपति डा. हामिद अंसारी के आवास पर आयोजित एक समारोह में किया गया श्री द्विवेदी द्वारा लिखित इस पुस्तक में यूनाईटेड नेशन्स् समेत कई राष्टीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय संस्थानों द्वारा देश के ग्रामीण क्षे़त्रों को विकसित करने के लिए किये जा रहे विभिन्न प्रयासों को रेखांकित किया गया हैं।

उपराष्ट्रपति डा.हामिद अंसारी ने अपने आवास पर आयोजित समारोह में पुस्तक का विमोचन करते हुए कहा कि एक पत्रकार की दृष्टि से ग्रामीण क्षेत्रों को विकसित करने के लिए किये जा रहे प्रयासों के क्रियान्वयन के बारे में एक नई सोच का संदेश दिया गया है। जो कि भविष्य में इन संस्थाओं के लिए  कार्यक्रम क्रियान्वयन की दिशा में प्रभावी बनाने  में एक कारगर प्रयोग साबित हो सकता है। उन्होंने का कि काफी समय के बाद पत्रकारों द्वारा राष्टीय विकास के प्रति नजरिया बदलने एवं सक्रिय भूमिका निभाने की जो दिलचस्प पहल सामने आई है वह बहुत ही प्रशंसनीय  एवं सराहनीय है। उन्होने आश्वस्त किया कि इस पुस्तक का वह खण्ड़ सबसे महत्वपूर्ण दिखता है जिसमें स्थानीय पत्रकारों की भूमिका को अहम बताया गया है और उनका उपयोग राष्ट्र निर्माण की दिशा में वालन्टियर के रूप में किये जाने के लिए उठाया गया एक ठोस कदम है।

पुस्तक के परिचय आलेख के लेखक पदमश्री जे एस राजपूत ने पुस्तक को राष्ट्र के विकास में  अत्यन्त उपयोगी बताते हुए कहा कि राष्ट के विकास में यह पुस्तक मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि पत्रकारों की भूमिका सिर्फ खबरों तक ही सीमित नही होनी चाहिए। उन्होंने पत्रकारों के रचनात्मक सहयोग और उनके व्यवहारिक स्वरूप पर भी प्रकाश डाला और श्री द्विवेदी की मेहनत और उनकी सोंच की भी सराहना की।

इस मौके पर पुस्तक के लेखक वरिष्ठ पत्रकार दीपक द्विवेदी ने कहा कि निकट भविष्य में स्थानीय एवं जिला स्तरीय पत्रकारों को संगठित कर उन्हें राष्ट्रीय विकास की धुरी से जोडा जायेगा। इसके लिए ग्राम्य विकास के प्रत्येक कार्यक्रमों से पत्रकारों को जोडनें के लिए राष्ट्रीय मुहिम चलाई जायेगी ताकि पत्रकारों को राष्टनिर्माण में राष्टनायक के रूप में विशेष पहचान दिलाई जा सके। श्री द्विवेदी ने कहा कि उपराष्ट्रपति ने आज यहां पर जो दीप जलाया है उसका अन्तिम पडा़व गांव की पंचायतें होंगी ताकि हर गरीब को योजनाओं का वास्तविक लाभ मिल सकें। उन्होंने घोषणा की शीघ्र ही कई भाषाओं में यह पुस्तक और नागरिक डायलाग मैग्जीन प्रकाशित की जायेगी। इस मौके पर जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला, प्रतिष्ठित उद्योगपति अशोक चतुर्वेदी, सांसद नरेश अग्रवाल, राजीव शुक्ला सहित बड़ी संख्या में गणमान्य अतिथि उपस्थित रहे।



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *