Connect with us

Hi, what are you looking for?

सुख-दुख

डाइवोर्स सेलिब्रेट… डाइवोर्स फोटोशूट… देखें तस्वीरें!

मणिका मोहिनी-

पता नहीं, डायवोर्स को सेलिब्रेट करके क्या होगा? और कितने आधुनिक बनोगे? रिश्तों का मरना सेलिब्रेट करोगे? चलो, फिर सबका मरना सेलिब्रेट करो, माता-पिता का, भाई-बहन का, बेटा-बेटी का, किसी को न छोड़ना। और हां, सिर्फ़ डायवोर्स को सेलिब्रेट करोगे? पति के मरने को नहीं? चुभा ना? लौट जाओ पीछे। इतनी आधुनिकता नहीं चाहिए।

Advertisement. Scroll to continue reading.

Tamil TV actress Shalini celebrates divorce with unique photoshoot.

यह शोशेबाजी ग्लैमर की दुनिया से जुड़ी एक टी वी अभिनेत्री की है। जितने लोग इसका समर्थन कर रहें हैं, उन्हें मेरी खुली चुनौती है कि ईश्वर न करे, यदि उनके घर परिवार में कभी ऐसी आपदा, नहीं नहीं, खुशी का अवसर आए तो वे इसे जरूर celebrate करें और फोटोशूट फेसबुक पर डालें ताकि मित्र भी इस खुशी में शामिल हो सकें।


सुजाता चोख़ेरबाली-

Advertisement. Scroll to continue reading.

तलाक़ को औरत के लिए कलंक मानना सिखाया समाज ने, ऐसे में यह देखकर चिढ़ होना स्वाभाविक है कि औरतें उस कलंक और मानसिक त्रास से मुक्त होने की कोशिश करें। थोड़ा उदार बनिए। सबसे अच्छा है कौन कैसे जीवन में कोप करता है उससे मतलब ही न रखिए। आप उनके लिए कुछ नहीं कर सकते। इसलिए किसी को भी आपकी राय की परवाह क्यों करनी चाहिए?


मृत्युंजय कुमार-

दो तीन दिन से ये फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल है। इसमें एक मोहतरमा अपना तलाक फोटोशूट करवा रही हैं। जिस पार्टनर के साथ कभी उन्हें जीने मरने की कसमें खाई होंगी, उसकी फोटो को लतियाते हुए डाइवोर्स सेलिब्रेट किया जा रहा है।

Advertisement. Scroll to continue reading.

मुझे लगता है कि आजकल की पीढ़ी सूतिया है, जिसे न प्रेम करना आता है और न ही प्रेम से अलग होना। कितनी अभागी महिला होगी वह जो एक पार्टनर के साथ बिताए सुंदर यादों को सहेज नहीं पाई और कितना नकारा होगा वह पार्टनर जो इसके दिल में छोटी सी जगह भी नहीं बना पाया। कितना खोखला रहा दोनों का प्रेम और नासमझ रही दुनिया जो दोनों की इस चोंचलेबाजी को प्रेम मान बैठी।

कोई राह चलते बस, ट्रेन में मिल जाए तो लोग नंबर अदला-बदली कर लेते हैं। इस उम्मीद के साथ विदा होते हैं कि ईश्वर ने चाहा तो फिर किसी मोड़ पर मिलेंगे। लेकिन इनके कथित प्रेम और लिवइन में इतनी भी गुंजाईश नहीं रही।

हम किसी बोझिल रिश्ते को ताउम्र ढोने की सलाह नहीं दे रहे।
राधा और कृष्ण भी अलग हुए। लौट आने का वादा करके कृष्ण वृंदावन से भाग गए। राधा को भी पता था कि ये लौटेंगे नहीं। सो जाते-जाते कह सुनाया- वृंदावन से भाग सकते हो, मेरे मन से नहीं।

Advertisement. Scroll to continue reading.

आगे कृष्ण और राधा दोनों ने अपनी-अपनी जिंदगी बसाई। ब्रह्मावैवर्त पुरान में जिक्र मिलता है कि राधा ने वृंदावन के ही एक यादव से शादी कर ली। उधर, कृष्ण भी अपनी रानी-पटरानियों संग रहने लगे। दोनों अटूट प्रेम करते थे, लेकिन पता था कि साथ रहना अब संभव नहीं, तो प्रेम से अलग हो गए। अलगाव के बाद भी प्रेम बना रहा, लांछन, आरोप गौण रहे।

आज के शब्दों में कहें तो राधा और कृष्ण का ब्रेकअप हो गया। दोनों फिर कभी नहीं मिले। लेकिन आज भी दोनों के प्रेम का उदाहरण दिया जाता है।

Advertisement. Scroll to continue reading.

आजकल के लड़के-लड़कियां खाली चाट-पकौड़ी और पेड़ा खाने वृंदावन जाते हैं। ऐसी पीढ़ी प्रेम का शीघ्रपतन ही करा सकती है। इनके प्रेम में न कोई अंजाम होगा और न ही ये इसे सुंदर मोड़ देकर छोड़ सकते हैं।

कोई सद्गुरू हो जो इन नासमझों को प्रेम करना और प्रेम में नफरत करना सिखाए। हीर-रांझा, एडम-ईव, बैजू बावड़ा और मीराबाई की कहानी सुनाए। प्रेम में प्रेम से अलग होना, बिछोह के बाद भी प्रेम करना सबसे बड़ी कला है।

Advertisement. Scroll to continue reading.

आभा शुक्ला-

किसी महिला ने डिवोर्स यानी तलाक का फोटोशूट कराया… लोग जजमेंटल हो गए कि लो औरत होकर तलाक की खुशियां मना रही है…. क्या जमाना आ गया है…. राम राम राम….

Advertisement. Scroll to continue reading.

पर ये किसी ने नहीं सोचा कि हो सकता है उसकी शादीशुदा जिंदगी इतनी खराब हो कि तलाक उसके लिए नया जन्म लेकर आई हो…. सोशल मीडिया पर बैठकर मै या आप ये तय नहीं कर सकते कि उस महिला का उसके पति से ताल्लुक कितना जिल्लत भरा था जिसके टूटने पर वो खुशी मना रही है….

शायद ये तलाक का फोटोशूट वो याद है जो उसको हमेशा याद दिलाएगा कि कब और किस तरह वो एक टॉक्सिक हो चुकी रिश्ते से बाहर निकली थी….

क्यों दुखी होना चाहिए तलाक के बाद महिला को….? क्योंकि वो महिला है….? जिंदगी में टॉक्सिक रिश्तों के टूटने को हमेशा सेलिब्रेट करना चाहिए…. और शायद यही किया इस महिला ने…. बड़ी हिम्मत का काम किया….. ये महिला जो भी है इसको मेरा ढेर सारा प्यार…. जीवन को देखने के इसके नजरिए को मेरा सलाम….

Advertisement. Scroll to continue reading.

इसे कहते हैं जीवन का हर लम्हा खुलकर जीना……

Advertisement. Scroll to continue reading.
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

भड़ास को मेल करें : [email protected]

भड़ास के वाट्सअप ग्रुप से जुड़ें- Bhadasi_Group_one

Advertisement

Latest 100 भड़ास

व्हाट्सअप पर भड़ास चैनल से जुड़ें : Bhadas_Channel

वाट्सअप के भड़ासी ग्रुप के सदस्य बनें- Bhadasi_Group

भड़ास की ताकत बनें, ऐसे करें भला- Donate

Advertisement