इमेज बनाने में जुटे शिवराज की छवि का सरकारी विज्ञापन कहीं सत्यानाश तो नहीं कर रहे?

दिल्ली के हिन्दुस्तान टाइम्स में मध्य प्रदेश सरकार का दो पेज का विज्ञापन है। पहले और दूसरे पेज पर टाटा स्टील का विज्ञापन है जबकि तीसरे और चौथे पेज पर मध्य प्रदेश सरकार का यह विज्ञापन है। इस कारण अखबार का पहला पेज आज पांचवा (असल में सातवां) पेज है। जाहिर है अतिरिक्त पैसे देकर छपवाया गया है।

अक्सर मै ऐसे विज्ञापन नहीं देखता हूं पर पहला पेज ढूंढ़ते हुए इन विज्ञापनों के मजमून पर नजर पड़ ही जाती है। अंग्रेजी में शीर्षक है मध्य प्रदेश रीवोल्यूशनाइजिंग डेवलपमेंट। अब मैं इसपर बात नहीं करूंगा। दूसरे का शीर्षक अखबार के पहले पेज का बच्चा (पेज पांच) पढ़ते हुए दिख गया।

यह भी एक दावा ही है, सक्षम नेतृत्व ने मध्य प्रदेश में क्रांति कर दी। शीर्षक पढ़ते ही मुझे यह तस्वीर याद आई। यह फोटो ऐसी कि अंग्रेजी में एमपी सीएम गूगल करते मिल गई। सरकारी पैसे से छपने वाले विज्ञापन ऐसे उल्टा असर करें तो सरकार का क्या जाता है। वैसे भी कहा जाता है, बदनाम हुए तो क्या नाम नहीं हुआ। जय हो सक्षमता की।

वरिष्ठ पत्रकार और अनुवादक संजय कुमार सिंह की रिपोर्ट। संपर्क anuvaad@hotmail.com

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *