बड़ौदा ग्रामीण बैंक ने एक निजी कंपनी का बीमा अपने ग्राहकों को जबरन बेचना शुरू किया

अटल पेंशन योजना व प्रधानमन्त्री बीमा योजना को ठेंगा दिखाकर आजकल बड़ौदा ग्रामीण बैंक एक निजी कंपनी का बीमा अपने ग्राहकों को जबरन बेंच रही है। इसके लिये शाखा प्रबन्धकों पर जबरन पॉलिसी बेचने का दबाव है। जो प्रबन्धक इस बीमा कंपनी इंडिया फर्स्ट की पॉलिसी नहीं बेचेंगे उन्हें चार्जशीट मिलेगी। उत्पीड़न होगा और इन्क्रीमेंट रुकेगा। इस बीमा कंपनी का कोई कर्मचारी नहीं, अधिकारी नहीं व अभी तक यूपी में कोई कार्यालय भी नहीं।

बैंकों पर दबाव डालकर बड़ौदा यूपी ग्रामीण बैंक के चेयरमैन ने अब तक ग्राहकों की मर्जी के बिना उनके खातों से पैसा सीधा इस बीमा कंपनी के खाते में डाल दिया। शिकायत यह भी है कि बड़ी संख्या में इस बीमा कंपनी के बॉन्ड ग्राहकों को नहीं मिल रहे हैं। सवाल उठता है कि बैंक जहां अधिकारियों कर्मचारियों की संख्या पहले से कम है, वहां कोई निजी बीमा कंपनी अगर बैंक संसाधनों व अधिकारियों से अपना व्यवसाय कराएगी तो आम उपभोक्ताओं का क्या होगा।

ये वो संदेश है जो सभी ब्रांच मैनेजरों को भेजा गया है…

All BH’s are advised to login atleast 2 new indiafirst mahajivan policies and maximum renewels on login days, scheduled on 19-5-2016 & 20-5-2016

रिपोर्ट- अनिल मधुकर, संपर्क : anilshuklamadhukar@gmail.com

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *