पंजाब में पत्रकार को जबरन पेशाब और शराब पिलाने का मामला, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज

चण्डीगढ़, 16  अप्रैल। शनिवार को जिला मुक्तसर के शहर गिदड़बाहा के एक पत्रकार को कांग्रेसी विधायक के करीबियों द्वारा मारपीट करने और उसे जबरी मूत्र व शराब पिलाने के मामले में पुलिस ने गिदड़बाहा ट्रक यूनियन के प्रधान समेत 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस को कड़ी चेतावनी दी है और प्रकरण को मेरिट के आधार पर निपटाने को कहा है. साथ ही पत्रकार व उसके परिवार को सुरक्षा मुहैया करवाने के भी निर्देश दिये हैं.

कैप्टन ने सरकारी अधिकारियों व पार्टी साथियों को प्रशासनिक एवं पुलिस के काम में दखलंदाजी न करने की बात कठोरता से कही है. सीएम के मीडिया सलाहाकार रवीन ठुकराल ने एक जानकारी में बताया कि चीफ मनिस्टर ने बिना किसी सियासी प्रभाव से न्याय मुहैया करवाने को यकीनी बनाने के लिए कहा है. श्री ठुकराल ने बताया कि उन्होंने संबंधित पत्रकार से बात किया है. पत्रकार को बता दिया है कि मुख्यमंत्री ने भरोसा दिया है कि इस मामले में कानून अपना कार्य करेगा और निष्पक्ष जांच द्वारा आरोपियों के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी.

गिदड़बाहा से पंजाबी दैनिक के पत्रकार शिवराज राजू का आरोप था कि विधायक के करीबी शनिवार को उसकी दुकान में जबरी आ घुसे. उसे न सिर्फ मारा पीटा बल्कि उसे पेशाब और शराब भी पिलाई गई. उसके वीडियो क्लिप भी बनाये गए. आरोप के अनुसार पिस्तौल की नोक पर उसे धमकाया गया और नाक से लकीरें निकलवाई गई. जगमार्ग से बातचीत में शिवराज राजू ने बताया कि उसने ट्रक यूनियन के प्रधान चरणजीत सिंह ढिल्लों के परिवारिक विवाद को लेकर खबरें छापी थी, जिससे वे खफा था. कथित आरोपियों का सियासी प्रभाव ऐसा था कि राजू को गिदड़बाहा के अस्पताल ने दाखिल ही नहीं होने दिया, जिससे वह पास के शहर बठिण्डा के अस्पताल में दाखिल हुआ.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *