FED EX जैसी कंपनी के सरोकार की असलियत…. पढ़िए न्यूयार्क टाइम्स में STEVEN GREENHOUSE की विस्तृत रिपोर्ट…

Vineet Kumar : वैसे तो FED EX जैसी कंपनी सीएसआर के तहत दुनियाभर की सरोकार, मानवता और अधिकार की बात करती है और समय-समय पर खिलाड़ियों सहित बुद्धिजीवियों, कलाकारों को इस काम के लिए सम्मानित भी करती रहती है. लेकिन अपने कामगारों का वेतन और हक मारने की बारी आती है तो वो वालमार्ट जैसी कंपनी से पीछे नहीं है.

FED EX ने अपने चालकों से लगातार दस-दस घंटे काम लिए और जब उन्हें ओवरटाइम देने की बारी आयी तो साफ पल्ला झाड़ दिया..इतना ही नहीं जो उनके स्थायी कामगार नहीं है, कॉन्ट्रेक्ट पर रखे गए हैं, उनका हक बुरी तरह मारा  जाता है. पढ़िए न्यूयार्क टाइम्स में STEVEN GREENHOUSE की विस्तृत रिपोर्ट…

http://www.nytimes.com/2014/09/01/business/more-workers-are-claiming-wage-theft.html?_r=0

युवा मीडिया विश्लेषक विनीत कुमार के फेसबुक वॉल से.




भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code