कुठियाला दोबारा बने कुलपति….और शुरू हुआ चाटुकारिता का खेल

MLCU 640x480

तमाम नियम कानूनों को ताक पर रखते हुए, मध्य प्रदेश सरकार ने बृजकिशोर कुठियाला को 4 साल के लिए, माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता एवं संचार विश्विद्यालय का कुलपति नियुक्त कर दिया। बृजकिशोर कुठियाला 2010 से विश्विद्यालय के कुलपति हैं और उनका पहला कार्यकाल इस साल जनवरी में पूरा हो गया था। जिसे पहले 6 महीने के लिए बढ़ाया गया था। विश्विद्यालय के महापरिषद की बैठक में उन्हें दुबारा नियुक्त किया गया। इसके साथ ही विश्विद्यालय में चाटुकारिता का खेल शुरू हो गया। कुठियाला जी के सम्मान में ढोल नगाड़ों के बीच स्वागत कार्यक्रम आयोजित किया गया।

कई विभागों ने पोस्टर के माध्यम से अपना समर्थन प्रदर्शित किया। सोशल नेटवर्किंग साइट पर कुलपति के लिए सवागत सन्देश लगाये गए। इन्हें छात्रों ने शेयर और लाइक किया। कुछ छात्रों ने मेल में कमेन्ट्स भेजे। कई विभागों में अपने आप को कुलपति का करीबी साबित करने की होड़ लग गई है। कइयों को इनाम भी मिलने लगे हैं। आगे आगे देखिये होता है क्या…

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *