CBI में तैनात मोदी के खास अफसर के खिलाफ दो करोड़ रुपये घूस लेने की एफआईआर, मीडिया ने साधी चुप्पी

Sheetal P Singh : CBI ने अपने ही वरिष्ठता क्रम में डायरेक्टर के बाद दूसरे स्थान पर नियुक्त अफसर को दो करोड़ की घूस लेने के आरोप में बुक किया। यह अफसर गुजरात कैडर के आईपीएस हैं और मोदी जी के प्रिय बताए जाते हैं। वर्तमान डायरेक्टर सीबीआई से इनका लंबा विवाद चल रहा है। इनके और ED के एक बहुचर्चित अफसर राजेश्वर सिंह के बीच भी भारी विवाद हैं। CBI catches its insider thief Rakesh Asthana for accepting Rs.2 crores from dubious meat exporter Moin Qureshi to settle cases.

Arun Maheshwari : सीबीआई में मोदी जी का गुजरात से लाया गया खास अधिकारी, विशेष निदेशक राकेश अस्थाना दो करोड़ रुपये की घूस लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया है। उसने एक हवाला कारोबारी और मांस व्यापारी से उसके खिलाफ पुराने मामले को कमजोर करने के लिये घूस ली है। अस्थाना के खिलाफ पहले से ही और छ: मामलों में सीबीआई जांच कर रही है और काफी दिनों से सीबीआई के प्रमुख आलोक वर्मा से उसकी ठनी हुई है। उसके बारे में कहा जाता था कि वह सीधे प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करता है इसीलिये आज तक किसी कार्रवाई से बचा रहा है। सीबीआई ने उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। अस्थाना के साथ ही रॉ का भी एक बड़ा अधिकारी सामंत कुमार गोयल पकड़ा गया है।

Santosh Singh : सीबीआई का न० 2 राकेश अस्थाना पर सीबीआई ने ही भ्रष्टाचार का मुकदमा दर्ज किया है। मतलब खेल शुरू हो गया> लेकिन इतनी बड़ी खबर पर मीडिया की खामोशी क्या कहती है?

Vijay Shanker Singh : सीबीआई के अपर निदेशक राकेश अस्थमा 2 करोड़ की रिश्वत लेते पकड़े गए। इन्हें सीबीआई की आंतरिक शाखा जो सीबीआई के ही अफसरों पर निगाह रखने के लिये गठित होती है, ने पकड़ा है। यह रिश्वत मांस के एक्सपोर्टर मोइन कुरेशी से उनके एक मुक़दमे में मोइन की मदद करने के एवज में ली जा रही थी। सीबीआई ने इनके निलंबन के लिये पीएमओ को लिखा है। राकेश अस्थाना गुजरात कैडर के आपीएस अफसर हैं और पीएम के नजदीकी अधिकारी भी हैं। सीबीआई ने रॉ RAW के वरिष्ठ अधिकारी सामंत कुमार गोयल को भी पकड़ा है। यह रिश्वत किसी मनोज कुमार के नाम से दी जा रही थी। सीबीआई ने मुक़दमा दर्ज कर लिया है। राकेश अस्थाना जब सीबीआई में नियुक्त हुए थे तभी से विवादित थे। उनके ऊपर तब भी भ्रष्टाचार के अनेक मामले चल रहे थे। लेकिन प्रधानमंत्री की निकटता के कारण उन्हें सीबीआई में लाया गया था।

The Central Bureau of Investigation (CBI) has booked its own crooked Special Director Rakesh Asthana for accepting Rs. 2 crores as bribe to sabotage the probe against controversial meat exporter Moin Qureshi. CBI also caught the Research and Analytical Wing (RAW)’s No: 2 officer Samant Kumar Goel for fixing the deal between Qureshi and Asthana to close the probe. CBI’s Anti-Corruption Unit 3 has arrested one Manoj Kumar, the middleman who gave money to settle the case on October 16. Senior CBI officials confirmed this unprecedented development and said that a First Information Report (FIR) was registered against Asthana on October 15 and Manoj Kumar has confessed and recorded his statement before the Magistrate on giving bribes. The deal was brokered by RAW officer Goel for Rs.5 crores and CBI special wing intercepted the conversations and Rs.2 crores was already paid.

Manoj Kumar admitted to CBI that he was paying bribe to Asthana on behalf of Qureshi, who is facing several cases from the CBI. The FIR names Rakesh Asthana, Moin Qureshi and Manoj Kumar as accused. The FIR also said that RAW’s senior officer Samant Kumar Goel, 1984 batch IPS officer from Punjab cadre was also part of the extortion gang in CBI and facilitated Qureshi in closing the case by paying bribe. At present Goel is not made as accused in the FIR, though it detailed his role in facilitating bribe to Asthana. CBI team has recorded his statement and may soon add him also as accused along with Asthana. The Punjab cadre IPS officer Goel is No: 2 in External Affairs intelligence agency RAW and serving in the rank of an Additional Secretary and head of the West Asia Desk. Sources said that he was in regular touch with Qureshi and his conduits in Dubai. Recently National Security Advisor Ajit Doval found that Goel is dealing with many shady characters in Dubai and submitted a dossier on this regard.

सौजन्य : फेसबुक

पढ़ें राकेश अस्थाना का पक्ष….

मैंने नहीं, सीबीआई चीफ ने लिए हैं दो करोड़ रुपये : राकेश अस्थाना (स्पेशल डायरेक्टर, सीबीआई)

कुछ और संबंधित पोस्ट पढ़ें…

सीबीआई रिश्वतकांड : छप्पन इंच के गुब्बारे में एक और छेद हो गया मितरों!

xxx

देश में वाकई भ्रष्टाचार के खिलाफ निर्णायक लड़ाई चल रही है मितरों! देखें कुछ सीन

xxx

वर्मा को अस्थाना ने ठीक करने की कोशिश की, अस्थाना को वर्मा ने ठीक कर दिया… मोदी देखते रह गए!

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *