कैरवां मैग्जीन का खुलासा- डोभाल के बेटे की कंपनी टैक्स हेवन में!

Ravish Kumar : टैक्स हेवन के ख़िलाफ़ डोभाल मगर उनके बेटे की कंपनी टैक्स हेवन में.. कैरवां पत्रिका का खुलासा… डी-कंपनी का अभी तक दाऊद का गैंग ही होता था। भारत में एक और डी कंपनी आ गई है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और उनके बेटे विवेक और शौर्य के कारनामों को उजागर करने …

मोदी-शाह ने टैक्सपेयर्स के पैसे पर चल रहीं सारी संस्थाएं विपक्षी नेताओं के खिलाफ खड़ी कर दी हैं!

Satyendra PS : अटल बिहारी के टाइम सीबीआई चीफ ने अम्बानी के यहां छापा मरवाया था तो सीबीआई चीफ की नौकरी चली गई थी। नरेंद्र मोदी के टाइम सीबीआई चीफ ने राफेल जांच शुरू कराया और बगैर किसी छापा छपहरा के सीबीआई चीफ की नौकरी चली गई! अम्बानी कॉमन हैं, सीबीआई चीफ पोस्ट कॉमन है। …

जस्टिस सीकरी का ‘इंसाफ’ : रिटायरमेंट के बाद हुजूर को सरकार भेजेगी लंदन!

Ravish Kumar : हिन्दी में पढ़ने पर यह लिखा मिलेगा कि जस्टिस सिकरी को रिटायरमेंट के बाद लंदन स्थित कॉमनवेल्थ सेक्रेटेरियल आर्बिट्रल ट्राइब्यूनल का सदस्य बनाया जाएगा। चार साल क लिए यह नियुक्ति होती है। छह मार्च को जस्टिस सिककी रिटायर हो रहे हैं। मनीष छिब्बर ने दि प्रिंट के लिए यह ख़बर लिखी है। …

पत्रकार नरेंद्र नाथ ने किया ‘मोदी बनाम ऑल’ के झूठ का पर्दाफाश, आप भी पढ़ें

Narendra Nath : बीजेपी, उनके सपोर्टर और तमाम टीवी डिबेट में कहा जा रहा है कि मोदीजी को हराने के लिए सारे विपक्षी दल एक हो गये हैं। यह चुनाव “मोदी बनाम ऑल” है। एक तरफ मोदी जी हैं तो दूसरी तरफ विपक्ष के सारे नेता एक हैं। अब इसकी हकीकत देखें… कृपया हमें अनुसरण …

जस्टिस सिकरी के रवैये से पूरे देश में न्यायिक शुचिता को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं!

कहते हैं जो दिखता है वो होता नहीं, जो होता है वो दिखता नहीं, कुछ कुछ ऐसा है मामला सीबीआई के तत्कालीन निदेश अलोक वर्मा का है। अब वे भ्रष्टाचार और कर्तव्य में लापरवाही के आधार पर हटाए गए या फिर राफेल जाँच से लेकर मेडिकल प्रवेश घोले जैसे मामलों को लेकर हटाए गए आय …

जस्टिस सीकरी ने अपनी ही अदालत की नाक क्यों काट ली?

अपने-अपने भ्रष्टाचारी…. सीबीआई, सवर्णों का आर्थिक आरक्षण और अध्योध्या विवाद- इन तीनों मसलों पर गौर करें तो हम किस नतीजे पर पहुंचेंगे ? सरकार, संसद, सर्वोच्च न्यायपालिका और विपक्ष — सबकी इज्जत पैंदे में बैठी जा रही है। सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा को सर्वोच्च न्यायालय ने 77 दिन के बाद अचानक बहाल कर दिया …

The Reservation Jumla

कहीं आर्थिक आरक्षण भी चुनावी जुमलेबाजी तो नहीं? लोकसभा चुनाव के सौ-पचास दिन पहले अचानक संविधान संशोधन द्वारा आर्थिक आरक्षण के कदम को मोदीजी का मास्टर स्ट्रोक बताया जा रहा है.!दूसरी तरफ इसे तीन राज्यों के नतीजे और 80 सीटों वाले यूपी में सपा-बसपा गठबंधन से उपजी घबराहट में लिया गया फैसला बताने वालों की …

मीडिया मालिकों के ‘भक्त’ पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ आम मीडियाकर्मियों ने शुरू की मुहिम

मजीठिया वेज बोर्ड न मिलने से नाराज मीडियाकर्मियों ने पीएम मोदी के खिलाफ राहुल गांधी को पत्र भेजा… पीएम नरेंद्र मोदी अपने मूल स्वभाव में एलीट समर्थक और आम जन विरोधी हैं. यही कारण है कि वे हर मसले पर साथ बड़े लोगों का लेते हैं और छोटे लोगों को उनके हाल पर मरने-तपड़ने के …

10% आरक्षण से कम से कम 31% को मूर्ख बनाए रखने का लक्ष्य!

Sanjaya Kumar Singh : 10% आरक्षण से कम से कम 31% को मूर्ख बनाए रखने का लक्ष्य! एंटायर पॉलिटिकल साइंस वालों- वोट की फसल तैयार होने में समय लगता है। अब खेत बोने से फसल समय पर तैयार नहीं होगी। कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

गरीब सवर्णों को आरक्षण का लॉलीपाप सुप्रीम कोर्ट में नहीं टिक पाएगा!

गरीब सवर्णों को 10% आरक्षण फिलहाल बीरबल की खिचड़ी है! Pradyumna Yadav : मोदी कैबिनेट की बैठक में आज सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण दिए जाने के फैसले को मंजूरी मिल गई है. आर्थिक आधार पर आरक्षण देने का फैसला कोई नया नहीं है. आज से पहले नरसिम्हाराव की सरकार ने 25 सितंबर , 1991 …

मौसम विज्ञानी ‘जी ग्रुप’ भी पलटी मारने को तैयार, राहुल गांधी को गई चिट्ठी पढ़ें

पीएम मोदीजी की खराब होती हवा और राहुल का चढ़ता सियासी पारा देख कई मौसम विज्ञानी पलटी मारने को तैयार होते दिख रहे हैं. इसी क्रम में ‘जी न्यूज’ ने भी सक्रियता दिखाई है. भाजपा और मोदी की भरपूर भक्ति दिखाने और कांग्रेस समेत सारे गैर-भाजपा पार्टियों को जमकर गरियाने वाले जी न्यूज को अब …

क्या मोदी के लिए काम करती हैं एएनआई वाली स्मिता प्रकाश? पढ़ें, सोशल मीडिया पर क्या है चर्चा!

Shesh Narain Singh : कृपया किसी इंटरव्यू के हवाले से Smita Prakash की निष्पक्षता पर सवालिया निशान न लगाएं। मैं स्मिता प्रकाश को जानता हूँ, वे ANI की शीर्ष पत्रकार और संचालक हैं। ANI की लाइव फीड बहुत सारे चैनल इस्तेमाल करते हैं। टीवी डिबेट में मैने कई बार स्मिता के साथ चर्चा की है। …

एक भक्त ने यशवंत को ‘कुत्ता, कमीना और सूअर’ कहा…. देखें फिर क्या हुआ!

Yashwant Singh : एक गालीबाज भक्त का माफीनामा देखिए…. वैसे, भक्त भी मनुष्य ही होते हैं। अगर वे क्षमा दिल से मांग लेते हैं तो उन्हें माफ कर देना चाहिए। मैंने माफ किया शिवा! वैसे भी, जिन शब्दों को तुम गाली मानकर मुझे कहे हो, उन शब्दों के प्रतीक रीयल जीवों से मैं बेहद प्यार …

वायरल हुईं इन कुछ तस्वीरों से पीएम मोदी की सोशल मीडिया पर ब्रांडिंग हुई धड़ाम, देखें

Sheetal P Singh : काल्पनिक दुनिया के रुपहले पर्दे की तारिकाओं की शादी हमारे मीडिया स्पेक्ट्रम के बहुत बड़े हिस्से में आजकल पसरी हुई है। कल इसी में से एक प्रियंका और निक के विवाह का दिल्ली में रिसेप्शन था जिसमें चुनावों और G20 की व्यस्तताओं के बावजूद देश के प्रधानमंत्री शरीक हुए। लोगों ने …

दिल्ली में किसान मार्च का गुस्सा ऐसे निकला… ‘मोदीज नोज इन नेहरूज रोज’

आपको अपने अखबार में ये खबर दिखी क्या? प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को जोधपुर में एक रैली में कहा, “ये गुलाब का फूल लगा करके घूमने वाले लोगों को बगीचे का ध्यान था, उनको खेतों का कोई ज्ञान नहीं था, उनको किसान के पसीने का ज्ञान नहीं था।” कृपया हमें अनुसरण करें और हमें …

च्यांग काई शेक के चीन से भी बुरा हाल है संघियों के भारत का

च्यांग काई शेक का जन्म चीन के चीकियांग प्रान्त में चिकोउ नामक कस्बे के एक साधारण परिवार में 1887 में हुआ था। च्यांग ने सैनिक शिक्षा के अतिरिक्त चीन के प्राचीन ग्रंथों और आधुनिक विषयों का भी अध्ययन किया। टोकियो में सैनिक कॉलेज में अध्ययन के दौरान वह चीन की राष्ट्रवादी पार्टी कुओमितांग (KMT) के …

सीबीआई अफसर के नए खुलासे से भूकंप, कैबिनेट मंत्री से लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार तक फंसे!

केंद्रीय जांच ब्यूरो के उप महानिरीक्षक एमके सिन्हा का आरोप… आर्थिक अपराधियों को भागने देने के वास्ते सहूलियत देने के तार अजीत डोवल से भी जुड़े…. मोदी सरकार के एक वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री पर एक बड़े व्यापारी को जांच से बचाने के लिए करोड़ों रुपये रिश्वत लेने का आरोप…. सीबीआई अफसर ने हलफनामे के साथ …

यशवंत ने जमाने बाद दिल्ली में लखनऊ जिया! पढ़ें भाऊ के बुक लांच समारोह की रिपोर्ट

Yashwant Singh : ज़माने बाद दिल्ली में लखनऊ को जिया। भाऊ Raghvendra Dubey के बुक लांच आयोजन में इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में जो जुटान हुई, उसमें मुझे नखनऊ मिल गया। गुरुवर Anil Kumar Yadav, Ravindra Ojha, Suresh Bahadur Singh, खुद राघवेंद्र दुबे भाऊ संग जो मस्ती मटरगश्ती बतकही पियक्कड़ी लुहेड़ई हुई, उसने मुझे 20 साल …

भास्कर ग्रुप ने रवीश कुमार से प्रायोजित सवाल पूछे!

Girish Malviya कल देश के तथाकथित सबसे बड़े अखबार दैनिक भास्कर में पत्रकार रवीश कुमार से जो प्रायोजित 10 से 12 सवाल पूछे गए, उनमें से चार सवाल देखिए… कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

अमेरिकी पत्रकार राष्ट्रपति से भिड़ जाता है, भारतीय पत्रकार ‘साहेब’ से पूछता है-‘आज डिबेट किस टॉपिक पर करें!’ देखें वीडियो

जांबाज अमेरिकी मीडिया बनाम दलाल भारतीय मीडिया… एक अमेरिकी मीडिया है जो सब से ताकतवर राष्ट्रपति से भिड़ गई… एक हमारी दलाल मीडिया है रोज पूछती है- ”साहब बताइये आज क्या करें आपके लिए!” कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

ऐसा शीर्षक सिर्फ नभाटा में दिखा…

सबरीमला मंदिर विवाद हिन्दी अखबारों में नहीं के बराबर छपा है। सूचनाएं जरूर छपी हैं पर हाल के दिनों में सुप्रीमकोर्ट द्वारा 10 से 50 साल की महिलाओं को भी मंदिर प्रवेश की इजाजत दिए जाने के बाद से मामला गर्म है और इसपर राजनीतिक रोटियां भी सेकीं जा रही हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह …

पत्रकार से पॉवर ब्रोकर बने डॉ प्रणय रॉय का पाखंड और एनडीटीवी का पतन – भाग (4)

नियम अद्भुत होते हैं. नियमों को तोड़ना सरल नहीं होता. उनके विरुद्ध किसी काम के लिए अतिरिक्त ऊर्जा की जरूरत होती है. उदाहरण के लिए गुरुत्वाकर्षण बल को ही लीजिए. पृथ्वी की सीमा में आसमान से कोई चीज धरती पर ही गिरेगी. आइजक न्यूटन ने इसका एक फॉर्मूला भी बताया है. उस फॉर्मूले पर चर्चा …

मोदी राज की ‘उपलब्धि’! सत्तर साल में पहली बार हुआ है…. केंद्रीय जांच एजेंसी की भी जांच होगी!

Anil Saxena : सीबीआई प्रकरण…. देश की सर्वोच्च जांच एजेंसी की भी अब जांच होगी। सर्वोच्च न्यायालय ने आज रिटायर्ड जज की निगरानी में सीवीसी को 2 हफ्ते में घूसखोरी के पूरे घटनाक्रम की जांच कर रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है। नए अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव को कोई भी नीतिगत फैसला लेने पर रोक …

अगर आरोप लगना ही हटाने का आधार है तो CVC चेयरमैन केवी चौधरी सबसे पहले हटाए जाएं!

Girish Malviya  सीवीसी : एन इनसाइड स्टोरी…. अरुण जेटली ने जो सीबीआई में चल रहे मौजूदा विवाद के बारे में कहा कि, सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना को हटाने का निर्णय केंद्र सरकार ने केंद्रीय सर्तकता आयोग (सीवीसी) की सिफारिशों के आधार पर लिया है. कृपया हमें अनुसरण करें और हमें …

करप्ट CBI का सच सब जान गए… यहां बड़े मामले बेनतीजा रख कर फाइल क्लोज कर दी जाती है!

Paramendra Mohan : भ्रष्टाचार सर्वत्र व्याप्त है, सब जानते हैं, लेकिन सीबीआई में भ्रष्टाचार का मौजूदा खुलासा वाकई देश की आंखें खोलने वाला है। भ्रष्टाचार की जांच करने वाली जांच एजेंसी का खुद हद दर्जे की भ्रष्टाचारी होना एक हिला देने वाला खुलासा है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब खुद सीबीआई निदेशक और स्पेशल …

मोदी के मीडिया प्रबंधन पर भारी पड़ा जेटली का मीडिया प्रबंधन : ओम थानवी

Om Thanvi : जेटली पर राहुल के आरोप की खबर नहीं ही दी अखबारों ने… इससे जाहिर है कि जेटली का मीडिया प्रबंध बड़ा गहरे पैठा हुआ है! मोदी का कुछ कमज़ोर पड़ गया है। कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

रॉ, आईबी, ईडी और सीबीआई सब के सब एक दूसरे के पीछे पड़ी हैं : अजीत अंजुम

Ajit Anjum : देश की प्रीमियर एजेंसियों का गजब हाल हो गया है… सरकार ने जिस CBI चीफ को जबरन छुट्टी पर भेजा, उसी घर जासूस तैनात हो गए. धरे गए तो पता चला आईबी वाले थे… सीबीआई के नंबर एक वर्मा के एक के पीछे सरकारी जासूस हैं.. नंबर दो अस्थाना भी छुट्टी पर. …

रवीश कुमार ने पूछा- सीबीआई की ‘पार्वती’ और ‘पारो’ में से किसे चुनेंगे देवदास हुज़ूर!

आपने फ़िल्म देवदास में पारो और पार्वती के किरदार को देखा होगा। नहीं देख सके तो कोई बात नहीं। सीबीआई में देख लीजिए। सरकार के हाथ की कठपुतली दो अफ़सर उसके इशारे पर नाचते नाचते आपस में टकराने लगे हैं। इन दोनों को इशारे पर नचाने वाले देवदास सत्ता के मद में चूर हैं। नौकरशाही …

सीबीआई में गैंगवार की इनसाइड स्टोरी क्या है?

Girish Malviya  सीबीआई : एन इनसाइड स्टोरी… 2013 में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को ‘पिंजरे में बंद तोता’ और ‘मालिक की आवाज़’ बताया था. ऐसा नही है कि मोदी राज में कुछ परिवर्तन आया. परिस्थितियां आज भी वही हैं. लेकिन कल एक अभूतपूर्व घटनाक्रम सामने आया है. कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

CBI ने CBI पर रेड मार दी… DSP गिरफ्तार… मोदी के यहां दोनों ‘युद्धरत’ IPS तलब!

Sheetal P Singh : CBI ने CBI पे रेड मारी… सात अजूबे थे दुनिया में… आठवीं अपनी जोड़ी! CBI RAW ED CVC PMO और पुलिस सब दो फाड़. आला अफ़सर एक दूसरे को भ्रष्ट साबित करने में जुटे. ऐसा तमाशा कभी न हुआ. वाह परधान जी वाह. कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: