यूपी में पत्रकार सुधीर दीक्षित पर ट्रैक्टर चढ़ाकर हत्या की कोशिश, मुकदमा दर्ज

विधायक संजय सिंह गंगवार के निर्देश पर सदर कोतवाली प्रभारी स्वयं करेंगे मुकदमे की विवेचना… सरकारी भूमि / भवनों / संपत्तियों आदि पर समाजसेवी बनकर अवैध कब्जा करने वाले दे रहे थे धमकियां…

पीलीभीत। भू माफियाओं की धमकियों के बीच पत्रकार सुधीर दीक्षित पर ट्रैक्टर चलाकर उनकी हत्या का प्रयास करने के मामले में कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। मुकदमा आईपीसी की धारा 307, 506, 338, 279 के तहत ट्रैक्टर चालक पर दर्ज किया गया है। विवेचना स्वयं कोतवाली प्रभारी एसके द्विवेदी करेंगे।

दर्ज रिपोर्ट में उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के जिला अध्यक्ष व बरेली से प्रकाशित दैनिक युवा हस्ताक्षर के ब्यूरो चीफ सुधीर दीक्षित ने कहा कि वह पत्रकारिता के जरिए समाज में व्याप्त भ्रष्टाचार व सरकारी भूमि/भवनों/संपत्तियों आदि पर समाजसेवी बनकर अवैध तरीके से कब्जा करने व कराने वालों की खबरें छापते रहते हैं।बीते दिनों भी उन्होंने ऐसी कई तथ्य पूर्ण खबरें प्रकाशित की हैं, इससे उन्हें जान माल की धमकियां मिल रहीं थीं। फिर भी वह अपने कर्तव्य पथ पर इन धमकियों को नजरअंदाज कर बढ़ते रहे। नौ अगस्त को वह मोटरसाइकिल संख्या यूपी-26 एच/6846 से कलेक्ट्रेट जा रहे थे। दोपहर लगभग 12 बजे संजय रॉयल पार्क के सामने बायीं ओर से एक व्यक्ति ने नाम से संबोधित कर इशारे से रोका और बातचीत करने लगा। वहां पर स्टार्ट खड़े एक ट्रैक्टर पर उसका चालक मोबाइल पर बात कर रहा था।

रिपोर्ट के मुताबिक सुधीर के रुकते ही जान से मारने के इरादे से ट्रैक्टर चालक ने ट्रैक्टर चलाकर उन्हें जोरदार टक्कर मार दी, जिससे सुधीर वहीं पर गिर गए। मौके पर अनुज प्रताप सिंह व सौरभ दीक्षित व अन्य भीड़ आ जाने पर सुधीर पर जान से मारने की नीयत से ट्रैक्टर चढ़ाने वाला व इशारे से उनको रोकने वाला भाग गया। रिपोर्ट में कहा गया कि ट्रैक्टर मौके पर ही रह गया। ट्रैक्टर का रंग नीला-सफेद है। ट्रैक्टर स्वराज कंपनी का है और उसका मॉडल- 744 एफई है। ट्रैक्टर का इंजन नंबर- 43.10251 एसटीबी 04111 तथा चेसिस नंबर- डब्ल्यूएससीबी 45622192581 है। सुधीर को 108 एंबुलेंस से जिला चिकित्सालय पीलीभीत लाकर भर्ती कराया गया। हालत गंभीर होने पर ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया गया। 12 अगस्त को समय करीब 10-11 बजे रात सुधीर को ट्रामा सेंटर से लाकर जिला अस्पताल पीलीभीत में भर्ती कराया गया है। सुधीर के कूल्हे की हड्डी टूटी हुई है और वह चलने फिरने से असमर्थ हैं। जीवन के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

विधायक बोले- कोतवाल साहब यह हादसा नहीं, हत्या की कोशिश है

शहर विधायक संजय सिंह गंगवार गुरुवार को पत्रकार सुधीर दीक्षित को देखने उनके आवास पर पहुंचे। उन्होंने जीवन से संघर्ष कर रहे पत्रकार सुधीर की मिजाज पुर्सी की और हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। विधायक ने उन्हीं के आवास पर कोतवाली प्रभारी एसके द्विवेदी को बुलवाया और अपने सामने तहरीर दिलवाकर तत्काल मुकदमा दर्ज करने को कहा। विधायक संजय सिंह गंगवार ने कोतवाल से कहा कि यह रोड एक्सीडेंट नहीं है, मुझे सब जानकारी हो चुकी है। इस पर वह अलग से वार्ता करके क्लू देंगे। विधायक ने कोतवाल से इस गंभीर मामले की स्वयं विवेचना करने को कहा।

पत्रकार को देखने उनके आवास पर पहुंचे जिले भर से लोग

पत्रकार सुधीर दीक्षित को देखने और उनका हालचाल जानने के लिए बड़ी संख्या में जिले भर के लोग उनके आवास पर पहुंच रहे हैं। उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के मंडल अध्यक्ष निर्मल कान्त शुक्ल, नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष प्रभात जायसवाल, बसपा के पूर्व प्रत्याशी व शहर के प्रमुख सर्जन डॉ. शैलेंद्र गंगवार, बरखेड़ा विधानसभा क्षेत्र से राष्ट्रीय लोक दल के प्रत्याशी रहे ठाकुर निरंजन सिंह, कांग्रेेस के जिला अध्यक्ष हरप्रीत सिंह चब्बा, सहायक रजिस्ट्रार विजय सिंह, डॉ. योगेंद्र नाथ मिश्र, दैनिक जागरण केे ब्यूरो प्रभारी देवेंद्र देवा आदि ने मिजाज पुर्सी की। उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के प्रांतीय अध्यक्ष सियाराम पांडेय “शांत” व प्रांतीय महामंत्री रमेश शंकर पांडे ने टेलीफोन पर पत्रकार सुधीर दीक्षित का हालचाल जाना और उनकी लड़ाई हर स्तर पर लड़ने का आश्वासन दिया।

वरिष्ठ पत्रकार निर्मलकांत शुक्ला की रिपोर्ट.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *