‘ताई’ ने तार दिया अभिलाष खांडेकर, हरीश कश्यप, पंकज क्षीरसागर को

दैनिक भास्कर से जुड़े अभिलाष खांडेकर की लोकसभा टीवी से जुड़ने की ख़बरें हैं। दिव्य भास्कर (मराठी) को महाराष्ट्र में स्थापित करने के बाद पिछले दिनों अभिलाष को भास्कर प्रबंधन ने दिल्ली ऑफिस में तैनात कर दिया था! ये पोस्टिंग अभिलाष को रास नहीं आ रही थी, और वे भास्कर छोड़ने के रास्ते खोज रहे थे। इसी बीच इंदौर की सांसद सुमित्रा महाजन (ताई) के लोकसभा अध्यक्ष बनने से अभिलाष की परेशानी ख़त्म हो गई और उन्होंने ‘ताई’ से अपने पुराने संबंधों के तार जोड़कर लोकसभा टीवी में जाने की जुगाड़ बना ली!

वे किस पद पर जा रहे हैं, इस बात की तो पुष्टि नहीं हो सकी, पर जब लोकसभा अध्यक्ष ने नाम आगे बढ़ाया है तो तय है कि कुर्सी बड़ी ही होगी! अभिलाष अकेले पत्रकार नहीं हैं, जिन्होंने सुमित्रा महाजन से संबंधों की जुगाड़ बैठाकर दिल्ली में कुर्सी कबाड़ ली है! इंदौर के कुछ और पत्रकार जो सुमित्रा महाजन के बेटे मंदार महाजन की चिलम भरते थे, वे भी ‘ताई’ के निजी स्टॉफ में जगह पाने में कामयाब हो गए हैं और कुछ कोशिश में लगे हैं। अभी इनमें से दो पत्रकारों हरीश कश्यप और पंकज क्षीरसागर के नाम पता चले हैं। इनमें पंकज तो पत्रकार भी नहीं हैं, वे ‘नईदुनिया’ के कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन विभाग में काम करते थे, पर सभी को पत्रकार बताते रहे हैं। इसी से जुड़ी एक खबर ये भी है कि लोकसभा सचिवालय ‘लोकसभा टीवी’ और ‘राज्यसभा टीवी’ को मिलकर ‘पार्लियामेंट टीवी’ बनाने की तैयारी की जा रही है। इसके पीछे एक कारण ये भी है कि राज्यसभा के सभापति को राज्यसभा टीवी के अधिकार क्षेत्र से बाहर करना है।

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करें-

https://chat.whatsapp.com/Bo65FK29FH48mCiiVHbYWi

Comments on “‘ताई’ ने तार दिया अभिलाष खांडेकर, हरीश कश्यप, पंकज क्षीरसागर को

  • akhilesh shukla says:

    अभिलाष खांडेकर के भी किस्से कम नहीं हैं, हिंदुस्तान टाइम्स से लेकर दैनिक भास्कर तक। उन्हें विशेष प्रयोजन के तहत ही नियुक्ति दी जाती रही हैं। महाराष्ट्र भी किसी मकसद से ही भेजे गए थे और दिल्ली भी मकसद से ही लाए गए थे। कई विवादों में घिर चुका है।

    Reply
  • ABHILASH KHANDEKAR MATLAB DUSRO SE COLUMN LIKHWAKAR APNE NAME SE CHAPWANE WALA… HINDI, ENGLISH, MARATHI KI KHABRE TRANSLATE KARKE IDHAR UDHAR KARNE WALA… IAS, IPS SE DOSTI GANTH K APNA ULLU SIDHA KARWANE AUR APNI JEB BHARNE WALA.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *