Connect with us

Hi, what are you looking for?

सियासत

मोदी राज में अदाणी की पहली बड़ी हार, बंद किया एफपीओ, निवेशकों को पैसा लौटायेंगे

BreakingNews #AdaniEnterprises decides to call off it’s FPO in the interest of its subscribers

बड़ी खबर आ रही है कि अडानी एंटरप्राइजेज ने अपना एफपीओ बंद करने का एलान कर दिया है। साथ ही इस एफ़पीओ में जिन जिन निवेशकों ने पैसा लगाया था उनका पैसा लौटाने का निर्णय ले लिया है।

Advertisement. Scroll to continue reading.

देखें स्टॉक एक्सचेंज को दिया गया पत्र-

देखें अड़ानी ग्रुप की प्रेस रिलीज़-

Adani Enterprises won’t go ahead with its fully subscribed follow-on public offer; will refund FPO proceeds….

अडानी समूह की प्रेस विज्ञप्ति का हिंदी अंश

अदानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड, (एईएल) के बोर्ड ने अभूतपूर्व स्थिति और मौजूदा बाजार में उतार-चढ़ाव को देखते हुए एफपीओ की आय लौटाकर और पूर्ण किए गए लेनदेन को वापस लेकर अपने निवेशक समुदाय के हितों की रक्षा करना है। बोर्ड इस अवसर पर हमारे एफपीओ के लिए आपके समर्थन और प्रतिबद्धता के लिए सभी निवेशकों को धन्यवाद देता है। एफपीओ के लिए सब्सक्रिप्शन कल सफलतापूर्वक बंद हो गया। पिछले सप्ताह स्टॉक में उतार-चढ़ाव के बावजूद, कंपनी, के व्यवसाय और प्रबंधन में आपका विश्वास बेहद आश्वस्तकारी और विनम्र रहा है।

Advertisement. Scroll to continue reading.

हालाँकि, आज बाजार अभूतपूर्व रहा है, और आज हमारे शेयर की कीमत में उतार-चढ़ाव आया है। इन असाधारण परिस्थितियों को देखते हुए, कंपनी के बोर्ड को लगा कि इस मसले पर आगे बढ़ना नैतिक रूप से सही नहीं होगा। निवेशकों का हित सर्वोपरि है और इसलिए उन्हें किसी भी संभावित वित्तीय नुकसान से बचाने के लिए, बोर्ड ने एफपीओ के साथ आगे नहीं बढ़ने का फैसला किया है। हम अपने बुक रनिंग लीड मैनेजर्स (बीआरएलएम) के साथ काम कर रहे हैं ताकि आय वापस की जा सके।

हमारी बैलेंस शीट सुदृढ़, और कैशफ्लो सुरक्षित संपत्ति के साथ बहुत मजबूत स्थिति में है, और हमारे पास अपने ऋण को चुकाने का एक त्रुटिहीन ट्रैक रिकॉर्ड है। इस निर्णय का हमारे मौजूदा परिचालनों और भविष्य की योजनाओं पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। हम दीर्घकालिक मूल्य निर्माण पर ध्यान केंद्रित करना जारी रखेंगे और वृद्धि आंतरिक संसाधनों द्वारा प्रबंधित की जाएगी। बाजार में स्थिरता आने के बाद हम अपनी पूंजी बाजार रणनीति की समीक्षा करेंगे। हमें पूरा विश्वास है कि हमें आपका सहयोग मिलता रहेगा। हम पर आप ने जो विश्वास जताया है, उसके लिए धन्यवाद।

Advertisement. Scroll to continue reading.

ज्ञात हो कि हिंडनबर्ग की रिपोर्ट के बाद दुनिया भर में अड़ानी की साख ख़त्म होने से इस समूह को ही नहीं बल्कि भारतीय शेयर मार्केट को भी झटका लगा है। नीचे दिए गए स्क्रीनशॉट को देखिए। इस खबर के बाद से ही आज शेयर मार्केट धड़ाम होना शुरू हुआ-


अंतरराष्ट्रीय बाज़ार विश्लेषक क्या सोचते हैं, ये देखिए…

वरिष्ठ पत्रकार शीतल पी सिंह की प्रतिक्रिया-

Advertisement. Scroll to continue reading.

असाधारण ख़बर। अड़ानी ग्रुप अपनी शीर्ष कंपनी का FPO कल शेयर बाज़ार से वापस उठाने जा रहा है । Adanient नाम से मशहूर इस कंपनी के FPO को कल ही देश के दूसरे प्रमुख सेठों ने जेब से पैसा डाल कर संकट से उबारा था । खबरें थीं कि देश की सबसे बड़ी राजनीतिक शख़्सियत की सलाह/धमकी पर यह सब हुआ था । RW की सोशल मीडिया प्रोफ़ाइलों ने इसे IND inc का देशभक्ति का कारनामा बताया था

लेकिन आज बाज़ार में जब यह शेयर तीस फ़ीसदी से भी ज़्यादा गिर गया, एक स्विस बैंक ने ग्रुप के बांड लेना अस्वीकार कर दिया, आस्ट्रेलिया के शेयर बाज़ार के नियंत्रकों ने अपने यहाँ जाँच बिठा दी तो देश के सर्वोच्च स्तर पर फ़ायर फ़ाइटिंग शुरू हुई। चारों तरफ़ से पड़ रहे बेहद दबाव में अड़ानी ग्रुप ने यह फ़ैसला लिया है लेकिन कल बाज़ार में इसकी धज्जियाँ उड़नी तय थीं इसलिए कोई चारा भी नहीं था ।

Advertisement. Scroll to continue reading.
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

भड़ास को मेल करें : Bhadas4Media@gmail.com

भड़ास के वाट्सअप ग्रुप से जुड़ें- Bhadasi_Group_one

Advertisement

Latest 100 भड़ास

व्हाट्सअप पर भड़ास चैनल से जुड़ें : Bhadas_Channel

वाट्सअप के भड़ासी ग्रुप के सदस्य बनें- Bhadasi_Group

भड़ास की ताकत बनें, ऐसे करें भला- Donate

Advertisement