मोदी सेल्समैन हैं अडानी के… श्रीलंका का ये खुलासा तो यही बता रहा है!

शीतल पी सिंह-

श्रीलंका की इलेक्ट्रिसिटी अथारिटी के मुखिया ने वहाँ की संसदीय समिति की जाँच में बयान दिया कि श्री लंका के राष्ट्रपति राजपक्षे ने उससे कहा था कि भारत के प्रधानमंत्री के दबाव के चलते अड़ानी ग्रुप को 500 मेगावाट का प्रोजेक्ट सीधे दे दिया जाय !

पिछले कुछ वर्षों में श्रीलंका तमाम क़िस्म की भारतीय मदद पर निर्भर है । उसके लिए भारतीय प्रधानमंत्री की इस सदिच्छा का सम्मान न करना मुमकिन नहीं था ।

फ़िलहाल मामला खुलने के बाद अब संबंधित व्यक्तियों ने दूसरा दबाव पड़ने पर अपने बयान बदल लिए हैं । महान मोदीजी का डंका विश्वव्यापी है । विश्वगुरु जो ठहरे !

कृष्णन अय्यर-

PM मोदी पर श्रीलंका की संसद में अडानी के लिए प्रोजेक्ट मांगने के सीधे आरोप लगे है..श्रीलंका संसद का VDO चल रहा है..पहले भी राफेल घोटाले में PM मोदी अम्बानी के लिए काम कर रहे थे, ये आरोप लग चुके है..विदेशों की संसद में PM मोदी पर सीधे भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे है..और PM मोदी/बीजेपी/मीडिया चुप है..

  • अक्टूबर 2021 : गौतम अडानी श्रीलंका जा कर प्रेसिडेंट राजपक्षे से मिल कर व्यापार की बात करता है..
  • 24/11/2021 : श्रीलंका के प्रेसीडेंट उस देश के बिज़ली बोर्ड के चेयरमैन फर्डीनानदो को बुला कर कहते है कि भारत के PM मोदी उनपर दबाव डाल रहे है ताकी 500MW का विंड पॉवर प्रॉजेक्ट अडानी को दिया जाए..(सोचिए मोदी विदेश यात्राओं में क्या करता है)
  • ये प्रॉजेक्ट अडानी को मिल भी जाता है..यानी PM मोदी ने श्रीलंका के प्रेसिडेंट को दबाव में ले कर प्रॉजेक्ट अडानी को दिला दिया..(सेल्समैन मोदी!!)

★मोदी ने अडानी को प्रॉजेक्ट दिलवाया..अडानी ने मोदी को क्या दिया? ये तो वाज़िब सवाल है..मोदी कोई समाजसेवा तो कर नही रहा..

  • ये सारी बातें श्रीलंका बिज़ली बोर्ड के चेयरमैन फर्डीनानदो साहब श्रीलंका की संसद में बता भी देते है..संसदीय कार्यवाही का vdo पूरी दुनिया देख रही है..(vdo उपलब्ध है)
  • श्रीलंका की संसद में बोला गया कि अडानी उनके देश को दुगने दाम में बिज़ली बेच कर लूट रहा है..

★अब एक अदृश्य दबाव : फर्डीनानदो साहब कहते है मैंने PM मोदी पर “झूठ” बोला..क्यो झूठ बोला? बेवज़ह ऐसे कैसे भारत के PM पर झूठ बोला? मज़ाक है?

★फर्डीनानदो को तो श्रीलंका के प्रेसिडेंट ने मोदी के दबाव के बारे में बताया था..यानी श्रीलंका के प्रेसिडेंट ने झूठ बोला? मोदी जैसे विश्वगुरु पर झूठ कैसे बोला?

★झूठ कैसे हो सकता है जबकि वो प्रॉजेक्ट अडानी को मिल चुका है..और श्रीलंका की जनता को दुगनी बिज़ली दरों से अडानी लूट रहा है..

PM मोदी पर श्रीलंका संसद के माध्यम से डायरेक्ट अडानी के लिए काम करने के आरोप है..ये PM मोदी का भ्रष्टाचार क्यो नही माना जाए? अगर मोदी में हिम्मत है तो श्रीलंका से रिश्ते ख़तम करे और अडानी श्रीलंका का प्रॉजेक्ट छोड़ दे..वरना लोग कहेंगे कि चौकीदार चोर है..

★क्या अडानी “नॉमिनी ऑफ दी इंडियन गवर्नमेंट” है? अगर है तो भारत क्या अडानी का है? क्या मोदी ने भारत की “रजिस्ट्री” अडानी के नाम कर दी है?

  • 2021, श्रीलंका में “वेस्ट कंटेनर टर्मिनल प्रॉजेक्ट”, कोलोंबो (WCT) के ठेके की बात भारत से चल रही थी..
  • इस प्रॉजेक्ट के लिए श्रीलंका बारबार अडानी को “नॉमिनी ऑफ दी इंडियन गवर्नमेंट” बता रहा था..ये सब ऑफिसियल बातें है..
  • हालांकि भारत सरकार इस बात को नकार रही थी..पर क्या श्रीलंकाई इतने बेवकूफ़ है कि बेवज़ह अडानी को “नॉमिनी ऑफ दी इंडियन गवर्नमेंट” बता देंगे?
  • यानी ऐसा माहौल बनाया गया कि श्रीलंका को लगने लगा कि अडानी भारत सरकार का ही हिस्सा है..और भारत सरकार भी बेवकूफ़ नहीं है कि ऑफिसियल रूप से अडानी को “नॉमिनी ऑफ दी इंडियन गवर्नमेंट” बता दे..ये सब ख़ेल है..

फाइनली, सेप्टेंबर 2021 में श्रीलंका में WCT का ठेका अडानी को ही मिला..

◆ श्रीलंका कोई इस्लामिक देश नही है कि हम कह सके : मोदी/अडानी को बदनाम करने की इस्लामिक साज़िश है..श्रीलंका तो हमारे रहमोकरम पर जिंदा है..

◆ संसद सार्वभौम होती है..विदेशों की संसद में मोदी-अडानी के व्यापारिक रिश्तों पर बयान दर्ज़ हो रहे है..अडानी को विदेशों में भारत सरकार का नॉमिनी कहा जा रहा है..ये मोदी का डंका बज रहा है या कारनामें “नंगे” हो रहे है?

यही आरोप अगर कांग्रेस पर लगे होते तो हंगामा बरपा होता..पर याद रखिए, सारी बाते दर्ज़ हो चुकी है..आज़ नही तो कल : दोनो को इंसाफ़ तक पहुंचाया जाएगा..

(सोर्स : The Wire)

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code