भाजपा सांसद हरीश द्विवेदी कलमकारों को निशाना बना रहे हैं

बस्ती सांसद हरीश द्विवेदी ने सोशल मीडिया पर अपने खिलाफ पोस्ट लगाने को लेकर 7 लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया है. इनमें ज्यादातर कलम के सिपाही हैं. कुछ तो इनके लोकसभा क्षेत्र के साथी रहे हैं.

उधर सांसद का कहना है कि ये लोग सपाई बसपाई व कांग्रेसी हैं. सांसद का आरोप है कि ये लोग इनकी छवि खराब कर रहे हैं

 

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

One comment on “भाजपा सांसद हरीश द्विवेदी कलमकारों को निशाना बना रहे हैं”

  • चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामाजी says:

    ब्राम्हणों व कलमकारों को ही निशाना बना रहे हैं भाजपा सांसद हरीश द्विवेदी… आज बस्ती सांसद हरीश द्विवेदी द्वारा शोषल मीडिया पर अपने खिलाफ पोस्ट लगाने को लेकर 7लोगों पर दर्ज कराये गये रिपोर्ट के मुताबिक जिन 5 नामों का खुलासा हुआ है वो सभी ब्राम्हण हैं इतना ही नहीं अधिकांश इनके लोकसभा के साथी रहे हैं या फिर वो कलम के सिफाही हैं जबकि सांसद जी की माने तो ये लोग सपाई बसपाई व कांग्रेसी हैं यही है सत्ता का गुरुर जो अपनों को दरकिनार कर गैरों को अपना बैठे हैं हजूर माननीय सांसद जी का आरोप है कि ये लोग इनकी छवि खराब कर रहे हैं क्या कभी सांसद महोदय ने कारण जानने का प्रयास किया कि जिस कार्यकर्ता को चुनाव दौरान गाडी व तेल देना तो दूर हम पानी न पिला सके वो सत्ता के ताण्डव की चिंता किये बगैर स्वंम् प्रत्यासी बन जान हथेली पर रखकर दिन रात जूझ कर इन्हें विजय दिलाया वो छवि खराब क्यों करेगा आज आप कह रहे हो हमें मुसलमानों से वास्ता नहीं वो सपाई हैं कल आप कहोगे कि दलित से वास्ता नहीं वो बसपाई हैं शेष पुराने कांग्रेसी हैं तो भला आपका है कौन जो कभी बूथ लूटते थे या आपके कार्यकर्ताओं की हंसी उडाते थे या आपको लडाई में ही नहीं मानते थे सच मानें तो आप स्वंम् कांग्रेसी हो गये हैं सपा बसपा के लोगों को साथ में लेकर स्वंम् भाजपा व भाजपा की विचारधारा से दूर हो गये हैं अरे सांसद जी छवि तो आपने स्वंम् अपनी खराब की है दोष दूसरों पर मढ रहे हैं कभी आपदा राहत हर मंच से उठाने वाले आप या आपके विधायकों ने वंचित लोगों को आपदा राहत का पैसा दिलाने की दिशा में प्रयास किया क्या भ्रष्टाचार का पर्याय बताने वाले पूर्व मंत्री राजकिशोर सिंह या रामप्रसाद जी के कार्यों का जांच कराया क्या या फिर आपके आरोप बेबुनियाद थे अथवा स्वंम् उसी पद्धति को आप भी अपना चुके हैं सांसद जी आप व आपके विधायक जी विधानसभा के पूर्व चंगेरवा में बन रहे चीन की दीवाल की ईंट उजडवाने की बात करते थे पर ऐसा क्या हो गया कि कभी चंगेरवा नरेश पूर्व मंत्री राजकिशोर जी के सुपुत्र जिलापंचायत अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास तो दूर नाम लेकर आरोप लगाने का भी साहस नहीं दिखाया अथवा जिलापंचायत के तहत सराहनीय विकास कार्य चल रहे हैं आ जाते हैं आपके मूल विषय अमोढा के विकास पर आज तक ए.एन.एम.सेंटर किराये के भवन पर संचालित है उसका अपना कोई भवन नहीं बना पूर्व में अमोढा में 200से उपर लोहिया आवास बन चुके हैं जबकि आपके शासन में पचास आवास भी नहीं बने हैं अधिकांश घर आज भी शौचालय विहीन हैं सभी पात्रों को पेंशन राशन आवास नहीं मिल पाया है और तो और सडक किनारे स्थित तालाब में आज तक पानी नहीं दिखा तो शेष गांवों की दशा क्या होगी सच तो यह है जनपद के सवर्णों पंडितों ही नहीं हर वेवाक बोलने वालों के लिए आपका यह कृत्य किसी एस.सी.,एस.टी.एक्ट से कम नहीं हैं वास्तव में आपको एक भाजपा या सांसद एक्ट बनवाना था जिसके तहत भाजपा या सांसद के खिलाफ लिखने या बोलने वालों पर स्वतः संग्यान में लेकर सम्बन्धित थान्हों द्वारा अभियोग दर्ज कर जेल भेजने का प्राविधान होता आप रिपोर्ट दर्ज कराने के पूर्व आप यह भूल गये कि सिद्धान्त हेतु क्रान्ति की लौ जलाने वालों को न मुगल दबा पाये न ही अंग्रेज यहां तक कि इंदिरा गांधी द्वारा जारी इमरजेन्सी भी किसी की आवाज न दबा सकी अन्त में मैं कहना चाहूंगा कि यदि आपके द्वारा दर्ज कराया गया केस 24घंटे के अन्दर वापस न हुआ तो हम खुद आपके खिलाफ न केवल वादा खिलाफी का केस दर्ज कराने की मांग करेंगें अपितु सैकडों लोगों के साथ अपनी गिरफ्तारी देगें सांसद जी ये संख्या कम न समझना कारण लोकसभा के दौरान चौरासी कोसी परिक्रमा के तहत पूरे जनपद से सौ लोगों की गिरफ्तारी नहीं हुई थी जबकि ईश्वर ने चाहा तो आपके स्वतंत्रता की अभिव्यक्ति के खिलाफ दमनात्मक रुख को देखते हुए ये संख्या बढ भी सकती है आप चाहें तो मेरे भी इस लेख के विरूद्ध मेरे खिलाफ भी केस दर्ज करा दें मैं डरने या पीछे हटने वाले नहीं हैं
    आपके लिए तो मैं कहना चाहूंगा कि
    अपनों पे जुलम गैरों पे रहम सत्ता के वहम में जुर्म न करें
    कारण सत्ता किसी की बपौती नहीं है अपितु सत्ता की चाभी जनता की बपौती है जिसे चाहे देकर राजा बना दे जिसे चाहे छीनकर रंक बना दे
    चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामाजी
    Editor At VL News
    vivek.pal843@gmail.com

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *