CM ममता तो खुलकर भिड़ गईं PM मोदी से!

विक्रम सिंह चौहान-

ममता बनर्जी ने मोदी से दूसरी लड़ाई का उदघोष कर दिया है. कल दो डिसीजन ममता ने लिए वो सामान्य नहीं थे. पहला मोदी के मीटिंग के तुरंत बाद उनको मीटिंग में बोलने का अवसर न देने पर किया गया प्रेस कॉन्फ्रेंस.

उन्होंने साफ कर दिया वे बाकी 9 मुख्यमंत्रियों की तरह चुप नहीं बैठेंगी. उन्होंने हमला किया. साफ-साफ बोलीं मुझे वैक्सीन पर बात करना था, लेकिन हमको बोलने नहीं दिया गया, सभी सीएम पुतले की तरह बैठे थे.

इससे ममता ने देश को बता दिया कि संघीय व्यवस्था में देश के पीएम मुख्यमंत्रियों की बात नहीं सुन रहे हैं.वह भी तब जब महामारी आई हुई है. वे सुनते भी हैं तो सिर्फ बीजेपी के मुख्यमंत्रियों की बात. दूसरा बड़ा डिसीजन ममता ने लिया वह है राज्यपाल जगदीप धनकड़ को हटाने को लेकर.

ममता ने निर्णय लिया है कि वे विधानसभा का विशेष सत्र बुलाएंगी और इसमें राज्यपाल को हटाने को लेकर प्रस्ताव पारित करेंगी. ममता ने कहा है राज्यपाल बीजेपी के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं. ममता ने इससे पहले राष्ट्रपति को चिट्ठी लिख राज्यपाल को वापस बुलाने की मांग कर दी है.

इससे पता चलता है जो बीजेपी सीबीआई के आड़ में नारदा स्टिंग मामले में ममता को कमजोर करने चले थे, वह उन्हें बहुत भारी पड़ने वाला है.

ममता के पीछे बंगाल की जनता की ताकत है. ममता न तो राज्यपाल को छोड़ रही हैं और न मोदी को.

मोदी के सलाहकार लगता है छुट्टी पर चले गए हैं, कोई बेवकूफ ही होगा जो उन्हें ममता से उलझने की सलाह दे रहे हैं.

ममता ने बंगाल में मोदी को धूल चटाई है. पूरे देश की नज़र ममता पर है. उन पर किया गया हर हमला उन्हें हर दिन मजबूत और आक्रमक बना रहा है. लग रहा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी की बेटी हार तो किसी से नहीं मानने वाली!


सौमित्र राय-

देश के इतिहास में यह पहली बार होगा कि भ्रष्टाचार के मामले में राज्यपाल गवाही देगा।

जी हां। सीबीआई ने नारदा घूसखोरी में बंगाल के गवर्नर जगदीप धनकड़ को 61 गवाहों की फेहरिस्त में जोड़ दिया है।

असल में बंगालियों ने बीजेपी और आरएसएस को ऐसा सबक सिखाया है कि इसका ज़ख्म उसे ताउम्र याद रहेगा।

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

One comment on “CM ममता तो खुलकर भिड़ गईं PM मोदी से!”

  • waah.. lekhak ko lagta hai ki woh ek matra bhudhidhjivi hain… mamta ne jis tarah rajnaitik hinsa ko badhawa diya hai uske liye toh in mahoday ne kuch bola nhi balki mamta ki image ko whitewash karne k liye tarah tarah ke visheshan prayog kiye ja rahe hain. ab woh din chale gaye ki aap log kuch bhi ulti kar do or janta usko sach maan le

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *