छंटनी के चलते दैनिक जागरण गोरखपुर में मची अफरा-तफरी

गोरखपुर दैनिक जगरण ऑफिस के मीडिया कर्मियों में भय और दहशत का माहौल व्याप्त है। दर्जन भर लोगों को निकाल दिया गया है, पिछले 1 महीने में। आज 19 अगस्त को सीनियर जर्नलिस्ट एसपी सिंह, बच्चा पांडेय को जनरल मैनेजर ने बुलाकर इस्तीफा मांगा। इस पर दोनों लोगों ने इस्तीफा देने से मना कर दिया।

एसपी सिंह 31 अगस्त तक छुट्टी पर चले गए हैं। आज सुबह संपादक ने ग्रामीण इंचार्ज सिंधु मिश्रा को किसी खबर के बहाने 3 रेड स्टार देकर उनको भी इस्तीफा देने का संकेत दे दिया है।

कई चपरासियों को भी नौकरी से निकाल दिया गया है। जुलाई महीने में कोरोना पॉजिटिव पाये जाने पर विज्ञापन विभाग में कार्यरत अंजना गुप्ता को कार्यमुक्त कर दिया गया। अकाउंट सेक्शन से 2 कर्मचारियों को निकाला गया है।

रिपोर्टरों को विज्ञापन लाने के लिए रोज प्रताड़ित किया जा रहा है। इसी क्रम में जागरण के बच्चा अखबार आई नेक्स्ट के विज्ञापन मैनेजर विश्वनाथ तिवारी को टर्मिनेट कर दिया गया। 4 एसोसिएट को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है।

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

One comment on “छंटनी के चलते दैनिक जागरण गोरखपुर में मची अफरा-तफरी”

  • मेरे बारे में गलत सूचना आपने दी है। मैं अभी जागरण का हिस्सा हूं। रही बात gm की तो मेरी उनसे कोई मुलाकात नहीं हुई है। मैं चूंकि पत्नी की तबीयत खराब है, इसलिए लखनऊ आया हूं। राममनोहर लोहिया में उसका इलाज चलता है, लिहाजा मुझे यहां आना पड़ा। जिस दिन मुझसे इस्तीफा मांगा जाएगा, बगैर कहे आपसे इसकी जानकारी शेयर करूंगा। और मुझे किसी का कोई डर भय नहीं है। वैसे भी मुझे दो बार इसके पहले जागरण जागरण छोड़ना पड़ा है। तीसरी बार भी अगर छोड़ना पड़ा तो मैं अपनी मर्जी से छोडूंगा किसी के दबाव में नहीं।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *