दिनेश पाठक ग्यारह मीडियाकर्मियों की नौकरी खाने पर आमादा

हिंदुस्तान अखबार के पूर्व स्थानीय संपादक दिनेश पाठक आजकल hindnews24x7 डाट काम चला रहे हैं. आरोप है कि इन्होंने इस पोर्टल में कार्यरत 11 लोगों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है.  इन 11 पत्रकारों को हटाकर hindnews24x7 डाट काम को जबरन कानपुर से बंद करवा दिया. दिनेश पाठक ने हिन्द न्यूज़ के मालिक उद्योगपति गुलशन धूपर से कथित तौर पर डील कर ली है कि इस साइट को कानपुर से बंद करिये और इसे वो लखनऊ से चलाएंगे. बताया जाता है इसके एवज में वह कंपनी से अच्छी खासी रकम हर महीना लेंगे.

हिन्द न्यूज़ में बहुत बेहतर काम हो रहा था. पिछले एक साल में यहाँ डेली पेज व्यू 50 लाख के पार तक पहुँच गए थे. दिनेश पाठक की यहां भूमिका मार्गदर्शक की थी लेकिन मालिकों पर पूरा होल्ड इन्हीं का है. एक साल में कंपनी का इन्होंने करीब 1 करोड़ खर्च करवा दिया. इन्हीं पैसों से वो अपनी वेबसाइट INDIAN LETTER चलाते थे. कंपनी जब भी इनसे रेवेन्यू की बात करती तो हर बार टीम के ऊपर ये भार डाल दिया जाता था कि टीम ने ख़बरों में कोताही बरती है जिसकी वजह से रेवेन्यू पर असर पड़ रहा है. पाठक जी तीन हजार रुपए में कॉपी पेस्ट वाले लड़के रखते हैं जिनका टारगेट पूरे दिन में 30 ख़बरों को हैडिंग के साथ कॉपी करना होता है.

दिनेश पाठक को पहले हिन्दुस्तान अखबार फिर लाइव टुडे चैनल से हटाया गया. हिन्द की तरह वो कई साइटों को चलवाने का ठेका लेते रहे हैं. लखनऊ से चलने वाले पूरी दुनिया डॉट कॉम भी इन्हीं में से एक है. जहां जहां गए, वहां वहां बंटाधार हुआ. फिलहाल तो हिन्द न्यूज़ के 11 पत्रकारों से कहा गया है कि लिखकर दो कि आप लोग निजी कारण से नौकरी छोड़ रहे हैं.

ये मेल hindnews24x7 में कार्यरत कर्मियों ने भड़ास को भेजा है.

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Comments on “दिनेश पाठक ग्यारह मीडियाकर्मियों की नौकरी खाने पर आमादा

  • Shubhendu shukla says:

    Good news koi bhi ho galat karne waale hr insan ke saath media ko news likhne ki misaal waala media bhadas sabse alag aur ek hao

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *