देखें लिस्ट, किसे किसे मिला कुलिश अवार्ड 2018 & 2019

जयपुर। राजस्थान पत्रिका समूह की ओर से उत्कृष्ट पत्रकारिता के लिए 11 हजार अमरीकी डॉलर पुरस्कार राशि वाले कर्पूर चंद्र कुलिश (केसीके) इंटरनेशनल अवार्ड फॉर एक्सीलेंस इन जर्नलिज्म के वर्ष 2018 और 2019 के विजेताओं की घोषणा कर दी गई है। वर्ष 2018 के विजेता लखनऊ के अभिषेक गौतम रहे हैं, जबकि 2019 का यह पुरस्कार यूएसए के फेरगस शील ने जीता है।

नवभारत टाइम्स के पत्रकार अभिषेक को 2018 की मानवीय पहलू पर आधारित ‘भिखारियों की दुनिया की पड़ताल’ शीर्षक समाचार शृंखला के लिए पुरस्कृत किया जाएगा, वहीं यूएसए स्थित आइसीआइजे संस्थान के फेरगस को भारत सहित विभिन्न देशों के समाचार पत्रों में प्रकाशित समाचार ‘चाइना केबल्स’ के लिए विजेता घोषित किया गया है। ‘भिखारियों की दुनिया की पड़ताल’ के तहत समस्या व अनछुए पहलू उजागर करने के लिए अभिषेक 6 दिन तक भिखारियों के बीच रहे और वहां रात भी बिताई।

इन समाचारों का व्यापक असर हुआ और लखनऊ में स्थानीय प्रशासन ने भिखारियों के लिए आवास बनाया। करीब 70 भिखारी, जो शारीरिक रूप से अक्षम नहीं थे, उनको सिलाई, कढ़ाई जैसे कार्यों का प्रशिक्षण दिया गया। जिला कल्याण समिति ने करीब 100 भिखारियों को वापस अपने घर भिजवाया। इससे शहर को भिखारी मुक्त बनाने का प्रयास सफल हो गया।

इसी तरह 2019 की चयनित प्रविष्टि ‘चाइना केबल्स’ के लिए यूएसए, आयरलेंड, ब्रिटेन, स्वीडन, स्पेन, फ्रांस, इजराइल व आस्ट्रेलिया सहित 14 देशों के 17 मीडिया समूहों के 75 पत्रकारों की टीम ने दुनियाभर में खुफिया तरीके से चीन में शिविरों में रखे गए हजारों उइगर मुस्लिम परिवारों की स्थिति को लेकर काम किया। इससे संबंधित समाचारों का 9 भाषाओं में प्रकाशन हुआ।

इन यातना शिविरों को लेकर अमरीका और यूरोपीय देशों की सरकारों ने दखल किया और कई देशों की सरकारों ने चीनी अधिकारियों से बात की। ब्रिटेन व जर्मनी ने चीन से इन शिविरों का निरीक्षण करने के लिए अन्तरराष्ट्रीय दल भेजने की अनुमति मांगी, वहीं चीन की सरकार ने इन खबरों को तथ्यहीन बताया और दस्तावेज नष्ट कर दिए। बाद में इन यातना शिविरों को भी बंद कर दिया गया।

दोनों वर्षों के लिए प्राप्त प्रविष्टियों के मूल्यांकन के लिए निर्णायक मंडल में भारत के पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त एस वाई कुरैशी, पूर्व आर्मी कमांडर अरुण साहनी, ब्रिटेन के लेखक मार्टिन गुडमेन, लोकनीति विशेषज्ञ विक्रम मेहता, अमूल समूह के प्रबंध निदेशक आर एस सोढ़ी और राजस्थान पत्रिका समूह के प्रधान सम्पादक गुलाब कोठारी शामिल रहे।

मेरिट अवॉर्ड के लिए 17 प्रविष्टियों का चयन

जयपुर। राजस्थान पत्रिका समूह की ओर से वर्ष 2018 और 2019 के कर्पूरचंद्र कुलिश (केसीके) इंटरनेशनल अवार्ड फॉर एक्सीलेंस इन जर्नलिज्म के लिए 17 मेरिट अवॉर्ड दिए जाएंगे। समूह की ओर से जारी परिणाम के अनुसार वर्ष 2018 में ‘मलयाला मनोरमा’ (पलक्कड, केरल) के एम शाजिल कुमार को ‘अट्टापडी फेल्ड’, ‘दैनिक जागरण’ (भागलपुर, बिहार) के अश्चिनी कुमार सिंह की टीम को ‘बाजार में बचपन’, ‘द हिन्दू’ (गुरुग्राम, हरियाणा) के अशोक कुमार को ‘द आउटसाइडर्स ऑफ हरियाणा’, यूएसए के आइसीआइजे संस्थान के फेरगस शील की टीम को ‘इम्प्लांट फाइल्स’, ‘द वीक’ (बैंगलूरु, कर्नाटक) की मिनी पी थॉमस को ‘स्कार्स, सीन एंड अनसीन’, मलेशिया के ‘द स्टार मीडिया’ (सेलांगर) समूह की इआन यी और उनकी टीम को ‘रिफ्यूजी नो मोर’, दैनिक जागरण (जमशेदपुर) के शशि शेखर व उनकी टीम को पोलियो खुराक अभियान का घोटाला उजागर करने, ‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ (जयपुर) के शोएब खान को जल संकट, दीपिका डेली (त्रिवेंद्रम) के रिचार्ड जोसेफ को ‘ऑन द बैंक्स ऑफ द कर्मणा रिवर’ और दैनिक जागरण (कार्वी चित्रकूट) के शिव स्वरूप अवस्थी ‘शिवा’ को ‘बदहाली पाठा की’ समाचार के लिए मेरिट अवार्ड दिया जाएगा।

इसी तरह वर्ष 2019 में दैनिक जागरण (आगरा) के उमेश चन्द्र शुक्ला को ‘ज्योति बार्बर: ए गर्ल ड्रेस्ड एज ए बॉय, रन्स ए सैलून फॉर मैन’, नाइजीरिया के ‘द केबल’ के फिसायो सोयोम्बो को ‘अंडरकवर इंवेस्टिगेशन ऑन नाइजीरियाज क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम’, ‘द हिन्दू’ (गुरुग्राम, हरियाणा) के अशोक कुमार को ‘फ्रॉम वेल्स टू कुंडाज, ए स्टीप स्विच फॉर हरियाणा विलेजेज’ ‘बिजनस स्टैण्डर्ड’ (नई दिल्ली) के सोमेश झा को ‘पॉलिटिक्स ऑफ डेटा इन इंडिया’, ‘दैनिक जागरण’ (जमशेदपुर) के शशि शेखर को ‘ग्रामीणों ने श्रमदान कर बनाया पानी बैंक’, ‘द हिन्दू’ (केरल) के के. एस. सुधी को ‘ए लेक एट द क्रॉस हेयर्स ऑफ डेवलपमेंट’ व उससे जुड़े 25 अन्य समाचार और संयुक्त अरब अमीरात के ‘गल्फ न्यूज’ (शारजहां) के मजहर फारूकी को ‘गल्फ न्यूज अनकवर्स ग्लोबल जॉब रैकेट’ समाचार के लिए मेरिट अवार्ड प्रदान किया जाएगा।

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *