मिलिंद के इस्तीफे पर एबीपी न्यूज ने मुंह खोलाा, पुण्य और अभिसार प्रकरण पर चुप्पी

एबीपी न्यूज की तरफ से भड़ास के पास एक मेल आया है. इसमें मिलिंद खांडेकर के एबीपी न्यूज से जाने के बारे में विस्तार से कहा-बताया गया है. लेकिन पुण्य प्रसून को चैनल से निकाले जाने और अभिसार शर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने के मामले में एबीपी न्यूज प्रबंधन चुप है. अन्यथा इसका भी उल्लेख होना चाहिए था.

एबीपी यानि आनंद बाजार पत्रिका समूह देश का जाना-माना मीडिया हाउस है और सत्ता विरोधी बेबाक पत्रकारिता के लिए मशहूर है. एबीपी समूह का द टेलीग्राफ अखबार इन दिनों अपने तेवर के कारण चर्चा का विषय रहता है. पर द टेलीग्राफ तो दिल्ली से निकलता नहीं, और न ही पूरे देश के जनमानस तक इसकी पहुंच है. यह अंग्रेजीदां तबके और कोलकाता के इलाके तक सीमित है. पर एबीपी न्यूज चैनल राष्ट्रीय चैनल है और पूरे देश में देखा जाता है.

मोदी सरकार आते ही इस चैनल से संपादक शाजी जमां को हटाया गया. अब पुण्य प्रसून बाजपेयी को गुडबाय कह दिया गया. अभिसार शर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने की खबर है. संपादक मिलिंद खांडेकर भी गुडबॉय कर गए हैं. तो क्या माना जाए, एबीपी समूह के मालिक अवीक सरकार के पत्रकारीय तेवर फिलहाल सत्ता के मोटे डंडे या मोटे बंडल के फेर में फुर्र हो चुके हैं? लगता तो यही है.

पुण्य प्रसून बाजपेयी के मास्टर स्ट्रोक के साथ जिस तरह सिग्नल गायब करने का खेल किया गया, फिर पुण्य को ही ठिकाने लगा दिया गया, वह बताता है कि एबीपी न्यूज चैनल भी सत्ता के दबाव-डर में चलने को मजबूर हो गया है. फिलहाल वो प्रेस रिलीज पढ़ें जो मिलिंद खांडेकर से संबंधित है और एपीबी न्यूज की तरफ से भड़ास के पास भेजा गया है…

-यशवंत, एडिटर, भड़ास4मीडिया


Mr Milind Khandekar- Managing Editor, ABP News has decided to move on

Mr Milind Khandekar- Managing Edito, ABP News has decided to move on from organization after a 14 year long successful stint.

Commenting on this development, Mr Avinash Pandey, COO, ABP News Network says – ‘ Mr Khandekar has been instrumental in shaping and strengthening the editorial structure at ANN during this illustrious association. His service has been indeed much valuable to the organization. It has been an honor working with a wonderful colleague like him all these past years. We wish him boundless success in all his future endeavors.’

Mr Milind Khandekar says-‘14 years is a long time and I remember this incredible journey very fondly.My association with ANN started with Hindi Channel and gradually transcended into digital and regional(Bengali,Marathi and Gujarati) channels of ANN as well.Overall,it has been a fulfilling and a remarkable experience’

With Mr Khandekar moving on, Mr.Rajnish Ahuja who’s currently the Associate Managing Editor,ABP News will be taking charge of ABP News editorial on an interim basis.


इन्हें भी पढ़ें….

संबंधित खबरें…

‘मास्टर स्ट्रोक’ पर सत्ता का पावर स्ट्रोक : ये सुपर इमरजेंसी है सर… बस ऐलान नहीं हुआ है…

xxx

रात नौ बजते ही एबीपी न्यूज की स्क्रीन काली होने के घटनाक्रम का वीडियो के जरिए विनोद कापड़ी ने किया खुलासा

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *