न्यूज18हिंदी में नंगई से भरी तस्वीरों और घटिया कंटेंट का बोलबाला

‘आईबीएनखबर’ के नाम से चलने वाली वेबसाइट आईबीएन7 न्यूज चैनल की री-ब्रांडिंग के बाद ‘न्यूज18 हिंदी’ नाम से संचालित है. पोर्टल की लीडरशिप भी बदली है. पोर्टल की हालत सुधारने के लिए नीधीश त्यागी को लाया गया. उन्हें एडिटर (लैंगुएज) पद मिला. वेबसाइट के कंटेंट को बेहतरीन बनाने की जिम्मेदारी उन्हें दी गई. लेकिन हो उल्टा रहा है. जो नई टीम आई है वह अब न्यूज18 हिंदी का बेड़ा गर्क करने में लगी है.

न्यूज18 हिंदी अबतक साफ सुथरी खबरिया वेबसाइट के तौर पर जानी जाती थी. जयदीप कार्णिक के आने के साथ जो धार और धमक आईबीएनखबर को मिली थी, वो अब लगातार कुंद होती जा रही है. नई टीम न्यूज18हिंदी को भास्कर की राह पर सॉफ्ट पोर्नॉग्राफी और बकवास कंटेंट से भर रही है.

न्यूज18 हिंदी में नेटवर्क18 यानि अंबानी के पैसों पर नोएडा से हैदराबाद तक लंतरानी की जा रही है. यहां हिट्टस का दबाव डाला जा रहा है. पर कंटेंट कैसा हो, इसकी चर्चा तक नहीं की जा रही. यही नहीं, अडाणी, अंबानी, मोदी, आरएसएस, भाजपा, केजरीवाल, आम आदमी पार्टी की खबर छापने से पहले दस बार सोचते हैं. रोज चार बार एडिटोरियल मीटिंग होती है, जिसमें सिर्फ समय खराब होता है. पहले उसी समय में 10 खबरें हो जाती थी, और अब सिर्फ प्लानिंग होती है.

खास बात ये है कि हायरिंग के नाम पर लगातार ये लोग बेहूदा सवाल करते हैं. पहले जिनको हायर किया, उनका टेस्ट तक नहीं हुआ. और अब सभी को टेस्ट के नाम पर बुलाते हैं और टहलाकर वापस भेज देते हैं. यहां सिर्फ पैरवी पर ही लोग लाए जा रहे हैं. उसमें भी एक खास विचारधारा के लोगों को भरते जा रहे हैं.

न्यूज18 हिंदी में काम करने लायक माहौल तक नहीं रह गया है. कई पुराने और लंबे समय से काम कर रहे लोग इस्तीफा देकर चले गए. दरअसल, यहां लोग भास्कर, बीबीसी और लल्लनटॉप जैसी मानसिकता वाले ही भरे हैं. यही वजह है कि कंटेंट साफ सुथरे की जगह सेमी पॉर्न बनकर रह गया है. अब जरा इस हेडलाइन और कंटेंट के साथ ही तस्वीर पर नजर डालें. एक मासूम रीडर शायद इस मक्कारी से अनजान ही होगा…

PHOTO GALLERY: बॉलीवुड की हसीनाओं की फिटनेस का सीक्रेट
http://hindi.news18.com/photogallery/actresses-in-bollywood-prefer-yoga-for-their-fitness-and-beauty-972551.html

हेडलाइन का मतलब क्या है और खबर के साथ क्या ये वाकई कुछ ‘टाइट’ करने के ही चक्कर में हैं?

आलिया की सिक्योरिटी ‘टाईट’ है
http://hindi.news18.com/news/entertainment/bollywood/alia-bodyguard-fired-972792.html

इस नई टीम में चीफ कॉपी एडिटर और डीएनई के तौर पर जो लोग मोटी सैलरी में लाए गए हैं उनमें से अधिकतर की कॉपी ट्रेनी लेवल की है। ये 80 शब्दों में स्टोरीज करते हैं जो न तो 300 शब्दों की क्राइटेरिया में फिट बैठता है, और न ही उसमें इन्फॉर्मेंशन नाम की कोई चीज होती है। हां, अब अगर कुछ बढ़ता जा रहा है, तो वो है नंगई से भरी तस्वीरें और घटिया कंटेंट।

अब बीबीसी-भास्कर से आए जिन लोगों को भरा जा रहा है, वो कर भी क्या सकते हैं? बॉस उनसे शायद इसी कंटेंट की मांग कर रहा है। पुराने लोगों की टीम में वैसे भी कोई कद्र नहीं है। सोशल मीडिया के नाम पर बकवास लोगों को भरा जा रहा है। सीएनएन की बिल्डिंग में बाकायदा 4 लोगों को बैठाया भी जा रहा है। पर सोशल मीडिया पर भी ये सिवाय नंगई के और कुछ नहीं परोस रहे। यही वजह है कि आईबीएनखबर के जो नियमित पाठक थे, वो अब न्यूज18हिंदी से दूरी बना रहे हैं। अब ये जगह कंटेंट की जगह पॉर्न पसंद करने वालों की बन रही है।

एक मीडियाकर्मी द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “न्यूज18हिंदी में नंगई से भरी तस्वीरों और घटिया कंटेंट का बोलबाला

  • News18 ka baap says:

    Yeh log to nangai par utar aaye hain. Inke yahan purush models kaose kapde utarte hain jaisi ghatiya khabren chalti hai. Ab maine news18india padhna hi chhod diya hai. Sports ki khabre bhi ghatiya. Ye tyagi kar kya raha hai yahan? Budhauti mr prem kavitaaye likhta hai aur ldkiyo ko kitaab dekar unse padhwata hai. Seduce karta hai. Kya pata rate bhi rangeen karta ho. Manisha uski item bhi aa gai hai ab to. Chela ajay chutiya hai. Dum hilata hai aur afsar to naukri bacha raha hai. Ummeed hai use ki uske Bure din jaayenge. Sala ye Bhi nalayak hi tha. Alok jaise achhe bande ke pichhwade pe laat marke use bihaar fenk diya gaya hai.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code