नियमित प्रकाशित हो रहे सप्ताहिक अखबारों के साथ राजस्थान सरकार का सौतेला व्यवहार

नियमित प्रकाशित हो रहे सप्ताहिक अखबारों के साथ सरकार का सौतेला व्यवहार… राजस्थान सरकार के अनेक कार्यक्रमो, सूचनाओं के जारी विज्ञापनों से साप्ताहिक अखबारों को दूर रखा जाता है… जबकि वीकली न्यूज़पेपर के साथ, साथ, छोटे, मझोले अखबार सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को प्रमुखता से प्रकाशित कर रहे है…

सरकार प्रदेश में प्रकाशित हो रहे साप्ताहिक अखबारों की ओर भी अपना ध्यान आकृष्ठ करें…. सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार साप्ताहिक अखबारों के लिए राजस्थान संवाद क्लासिफाइड विज्ञापन जारी नहीं करता है। वर्षभर में 4, 5 विज्ञापनों के अलावा सरकार की ओर से प्रदेश में प्रकाशित हो रहे साप्ताहिक अखबारों को कोई विज्ञापन जारी नहीं किया जाता…

सरकार को साप्ताहिक, मासिक अखबारों की ओर भी ध्यान देना चाहिए…

Jagruk Janta Hindi News Paper
jagrukjantanews@gmail.com



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code