सूर्या समाचार ने जयपुर ब्यूरो से संजय वर्मा को हटाया, यूनिट जमा नहीं कराने पर एफआईआर

जयपुर : सूर्या समाचार ने जयपुर में अपने ब्यूरो के रिपोर्टर संजय वर्मा को तत्काल प्रभाव से टर्मिनेट कर दिया है। संजय पर कैमरा यूनिट जमा नहीं करने के कारण जयपुर के ज्योति नगर थाने में एफआईआर भी कराया गया है।

बताया जाता है कि सुधीर सुधाकर ने अपने कार्यकाल के दौरान धौलपुर के स्ट्रिंगर संजय वर्मा को जयपुर ब्यूरो में रखवाया था, वह भी ब्यूरो हेड के पद पर। देखें संजय वर्मा के खिलाफ एफआईआर अमिताभ भट्टाचार्या ने दर्ज कराया है। एफआईआर में संजय के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाए गए हैं। देखें एफआईआर की प्रति-

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “सूर्या समाचार ने जयपुर ब्यूरो से संजय वर्मा को हटाया, यूनिट जमा नहीं कराने पर एफआईआर

  • संजय वर्मा जयपुर says:

    छापने से पहले सच्चाई जानना भी जरूरी होता है इस मामले को लेकर कंपनी के f.i.r. करता अमिताभ भट्टाचार्य द्वारा लिखित रूप में 31 जुलाई 2019 को ही माफी भी मांग ली गई है और पुलिस थाना ज्योति नगर में लिखित में भी दे दिया गया है कि हमारा संजय वर्मा से कोई विवाद नहीं है और इस मामले में हम कोई कार्यवाही नहीं चाहते कंपनी पर राजस्थान और जयपुर भी रोका रहने का तकरीबन ₹400000 बकाया पिछले चार-पांच महीने से चल रहा है कंपनी कर्मचारियों को जिला रिपोर्टरों को पिछले छह-सात महीने से भुगतान समय पर नहीं कर रही है और कईयों को अभी तक भुगतान नहीं किया है सूर्या समाचार कर्मचारियों का वेतन तथा अन्य मदों का पैसा खाना चाहता है कमोबेश यही हाल हरेक राज्य के ब्यूरो का है, झारखंड बिहार मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ मैं भी यही हाल है कंपनी कर्मचारियों का वेतन खाने में लगी हुई है

    Reply
  • संजय वर्मा जयपुर says:

    इस मामले की सच्चाई भी जानना आपको जरूरी था सूर्या समाचार पर जयपुर राजस्थान ब्यूरो के कर्मचारियो के वेतन का करीब ₹2लाख रुपए बकाया पिछले छह-सात महीने से चल रहे हैं तथा राजस्थान के 33 जिलों की रिपोर्टरों का भी 8 महीने से 2-3 लाख बकाया है, सूर्या समाचार ने भुगतान नहीं किया है उपरोक्त मामले में अमिताभ भट्टाचार्य द्वारा जो f.i.r. 31 जुलाई 2019 को ज्योति नगर थाना जयपुर में कराई थी उसमें अमिताभ भट्टाचार्य लिखित में माफी भी मांग ली है और पुलिस थाने में लिखकर दे दिया है कि संजय वर्मा से हमारा कोई विवाद नहीं है ना ही कोई सामान बकाया है लेकिन उसके बाद भी 10 अगस्त को आपने यह पोस्ट छापी छपवाने वाले ने आप से पूरे तथ्य छुपाए सूर्यसमाचार जैसी कंपनियां कर्मचारियों का वेतन तथा अन्य मदों का पैसा खा रही हैं और बेचारे पत्रकार लाचार हैं सूर्य समाचार ने राजस्थान के ब्यूरो का ही नहीं बल्कि झारखंड बिहार मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों के रिपोर्टरों का भी पैसा खा लिया है काम कराने के बाद कंपनी किसी को भी पैसे नहीं दे रही है। मनमर्जी से पैसे काट रही है कोई भी कारण अगर पूछता है तो उसको बाहर का रास्ता दिखाने की भी धमकी दी जा रही है अमिताभ भट्टाचार्य से लोग कंपनी मैनेजमेंट को गलत जानकारियां देकर कंपनी का भट्टा बैठाने में लगे हुए , मैनेजमेंट को इस पर विचार करना चाहिए जिससे कंपनी अच्छी तरह से चल सके क्योंकि कर्मचारियों के बिना कोई भी संस्थान नहीं चलती और कर्मचारियों का पैसा खाकर भी कोई कंपनी आगे नहीं बढ़ सकती है।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *