बीएसए का ट्रांसफर रोकने के लिए पत्रकारों ने लिखा सिफारिशी पत्र

गोंडा के बेसिक शिक्षा अधिकारी संतोष कुमार देव पांडेय का तबादला मिर्ज़ापुर जनपद के लिए हुआ था जिसको रुकवाने के लिए मंत्री उपेन्द्र तिवारी, सांसद बृज भूषण शरण सिंह, सांसद कीर्तिवर्धन सिंह समेत 6 विधायकों ने मुख्यमंत्री योगी को बाकायदा अपने-अपने लेटर हेड पर सिफारिशी पत्र लिख डाला।

तबादला रुकवाने के लिए लिखे गए ये पत्र लीक होकर वायरल हो चुका है। जिले के नेताओं और पत्रकारों द्वारा बीएसए का तबादला रुकवाने के लिए दो बार प्रयास हो चुका है जिसमें ये सफल भी हुए।

पत्रकारों में नेटवर्क18 यूपी-उत्तराखंड के पत्रकार देवमणि त्रिपाठी, हिदुस्तान अखबार के संजय तिवारी और अमर उजाला के उमानाथ तिवारी के हस्ताक्षर सिफारिशी पत्र पर हैं. बीएसए का ट्रांसफर पहले मिर्ज़ापुर और अब देवरिया जनपद हुआ है।

सोचने की बात है कि वो कौन सा कारण है जिसके लिए एक बीएसए के ट्रांसफर को रोकने के लिए मंत्री सहित नेता व पत्रकार सिफारिश करने लगते हैं।

बीएसए पाण्डेय का स्थानांतरण रोकने के लिए जनप्रतिनिधियों के सिफारिशी पत्र का हवाला देते हुए जनपद के तीन तीन पत्रकारों द्वारा शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह को लिखे गए पत्र ने मीडिया में खलबली मचा दी है। पत्रकार संजय तिवारी का कहना है कि उन्होंने सिफारिश पत्र नहीं लिखा बल्कि मंत्री को जनभावनाओं से अवगत कराया है।

बेसिक शिक्षा अधिकारी का स्थानांतरण रोकने के लिए गोंडा जनपद के तीन पत्रकारों समाचार चैनल न्यूज 18 के देवमणि त्रिपाठी, दैनिक हिन्दुस्तान के संजय तिवारी, अमर उजाला के उमानाथ तिवारी द्वारा लिखा गया सिफारिशी पत्र है…

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *