झटका लगने के बाद आजतक चल पड़ा रिपब्लिक भारत के रास्ते!

-दयाशंकर शुक्ल सागर-

देखिए टीवी के न्यूज चैनल कैसे काम करते हैं. रिपब्लिक भारत पिछले डेढ महीने से सिर्फ और सिर्फ सुशांत डेथ मिस्ट्री चला रहा है. और TRP के खेल यानी हफ़्ते की रेटिंग में कभी वह दूसरे तो कभी तीसरे नम्बर पर रहने लगा. लेकिन इस हफ्ते वह देश का नम्बर-1 चैनल बन गया.

पिछले18 साल से नम्बर-1 पर चल रहा है ‘आज तक’ दूसरे नम्बर पर आ गया. अब आज तक दो दिन से सिर्फ और सिर्फ सुशांत डेथ मिस्ट्री चला रहा है.

बाकी सारे चैनल भी यही कर रहे हैं.

इसलिए टीवी देखने से बेहतर है अमेजन या नेटफिल्कस पर चले जाइए. वहां आपको ज्यादा बेहर मर्डर मिस्ट्री देखने को मिल जाएगी.

वरिष्ठ पत्रकार दयाशंकर शुक्ल सागर की एफबी वॉल से।

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Comments on “झटका लगने के बाद आजतक चल पड़ा रिपब्लिक भारत के रास्ते!

  • योगेन्द्र सिंह says:

    चैनलों की TRP का खेल इस लिए और बनता बिगड़ता की आज तक, ABP न्यूज, न्यूज नैशन, ZEEन्यूज जैसे तमाम बड़े बड़े चैनलों के रिपोटर एवं जिलों के जिला संवाददाता लोग इन के अलावा और-और कुकर मुत्ते टाईप चैनलों में भी रिपोटिंग करते है और इनको पुराने समय से बड़े चैनलों की रिपोटिंग लोगो की जरूरत भी रहती हैं और TRP में गुमान में बड़े TRP बाज चैनलों का प्रवंधन इस बात पर ध्यान देता नहीं जब चैनल की TRP गिरती हैं तब छटपटाते है यह बड़े बड़े खलीफा फिर कहते फिरते है कि भड़ास ने तो फाड़ दिया रखे।

    Reply
  • भाई मीडिया का ज्ञान काफी कम है। मैं कई जगह देख रहा हूँ,स्वयं रिपब्लिक भारत चला रहा है कि 18 साल बाद आज तक को किसी ने पछाड़ा लेकिन लोग इंडिया टीवी का वो स्वर्णिम काल भूल गए जब आजतक को इंडिया टीवी ने ऐसा झटका दिया था कि कमर वाहिद नक़वी जी कुर्सी चली गई थी और सुप्रिया प्रसाद को संस्थान ने बुलाया। विनोद कापड़ी जी के नेतृत्व में स्वर्ग की सीढ़ियों से नरक की आग में कई चैनल ध्वस्त हो गए थे। आम लोग भूल गए समझ सकता हूँ लेकिन पत्रकारों को ये लिखते हुए देख रहा हूँ कि पहली बार किसी ने आजतक की कुर्सी छीनी तो मीडियाकर्मियों का ज्ञान अधूरा लगने लगता है। इंडिया टीवी लगातार कई हफ्ते टीआरपी में नंबर वन रह चुका है लगता है पत्रकार भूल चुके है।

    Reply
    • आचार्य संजय says:

      आज तक no 1 इसीलिए बना रहेगा क्योंंकि उसकी नींव अंबुजा सीमेंट नहीं बल्कि अरुण पूरी जी के उच्च मानकों एवम् आदर्शों पर टिकी है।
      भारत का एक ब्रह्मचारी ब्राह्मण

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *