सहारा समय एमपी-सीजी के चैनल हेड अभिलाष का इस्तीफा, अब इस चैनल से जुड़े

सहारा समय से खबर आ रही है सहारा समय मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ के चैनल इंचार्ज अभिलाष मिश्रा ने सहारा समय को नमस्ते कह दिया है। लगभग 11 वर्षों से वह इस ग्रुप के हिस्से थे। अभिलाष मिश्रा ने यहां एंकरिंग और रिपोर्टिंग में अपना लोहा मनवाया। उन्होंने भोपाल और इंदौर ब्यूरो को भी लीड किया। 2008, 2013, 2018, 2019 के विधानसभा और लोकसभा चुनाव में चुनाव रथ के जरिए एक से बढ़कर एक शो दिए।

अभिलाष ऑल राउंडर हैं। वो एंकरिंग, रिपोर्टिंग, स्क्रिप्टिंग, इनपुट और आउटपुट की तमाम जिम्मेदारियों को बखूबी निभा चुके हैं। उनकी पहचान एक अच्छे टीम लीडर के तौर पर भी है। अभिलाष को श्रमजीवी पत्रकार संगठन सम्मान, माधव ज्योति अलंकरण सम्मान जैसे कई सम्मान मिले हैं। अभिलाष मिश्रा ने नई पारी News24 के साथ शुरू की है। अपने 15 सालों से ज्यादा के करियर में अभिलाष ईटीवी हैदराबाद और वॉइस ऑफ इंडिया में भी काम कर चुके हैं।

उधर, बताया जा रहा है कि सहारा मीडिया में हालत खराब होते जा रहे हैं. संस्थान में मीडिया कर्मियों का जबरदस्त संकट है. इंटर्न के भरोसे चल रहा है चैनल. पिछले कई महीनों में कई पुराने दिग्गजों ने चैनल को किया गुडबाय.. पुराना बकाया, सैलरी संकट और मनोज मनु के तानाशाही रवैये के चलते चैनल हुआ खाली.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “सहारा समय एमपी-सीजी के चैनल हेड अभिलाष का इस्तीफा, अब इस चैनल से जुड़े

  • सुशील पान्डेय says:

    जिस प्रकार से आप लिख रहे हैं सब बकवास हैं हर किसी की तनख्वाह वक्त पर आती है रही बात मनोज मनु जी की तो वे बेहद सरल और समझदार व्यक्ति है, आप को ऐसा नहीं लिखना चाहिए, टाप चैनल को यहा तक लाने में किसका हाथ है जो लोग छोड़ कर जा चुके हैं और फर्जी अफ़वाह फैला रहे हैं सब अच्छा है आगे और अच्छा होगा, नाम नोट कर लीजिए मेरा, सुशील पान्डेय, सहारा समय वर्तमान समय में मैं कार्यरत हूं सहारा में आप फर्जी लिखते हैं, सही दिशा में आगे बढ़ने की कोशिश करे आप बहुत मजा आएगा,

    Reply
  • Sushil pandey says:

    मनोज मनु जी बेहद सरल और बहुत अच्छे व्यक्ति हैं ,आप गलत लिख रहे है, सहारा टाप चैनलों में था कौन लाया इस स्थिति में वही लोग जो आलोचना कर रहे हैं हर किसी की हर महिनें की तनख्वाह मिलती हैं, मै भी कार्यरत हूं सहारा में हमें तो ऐैसा नहीं लगता जैसा आप लिख रहे किसी की चुगली के वजाय किसी खबर की पडताल कर लिखते जिससे देश को जानकारी मिलती फर्जी का काम करते हैं आप, नाम नोट कर लीजिए सुशील पान्डेय, मेरे बारे में भी लिख दीजिए

    Reply
  • ABHILASH MISHRA says:

    प्रिय टीम भड़ास,आप की पोस्ट के लिए धन्यवाद ,लेकिन इसमें अंत में मनोज सर के लिए जो बातें लिखी गई हैं,वह पूरी तरह निराधार हैं। मनोज सर ने मुझे जितने मौके सम्मान और भरोसा दिया, वह संस्था में मुझे किसी और से नहीं मिला। मैं असिस्टेंट प्रोड्यूसर/एंकर चैनल में आया था और उस चैनल के हेड बनने तक के मेरे पूरे सफर में मनोज सर हमेशा मेरे मार्गदर्शक और मेरे वेलविशर बने रहे। उन्होंने ही मुझे चैनल हेड का पद दिया। इससे पहले भी में रिपोर्टिंग का मौका, असाइनमेंट हेड करने का मौका और सभी चुनावों में चुनाव रथ लेकर जाने का मौका ,सब कुछ मनोज सर ने ही दिया है। व्यक्तिगत तौर पर भी उन्होंने हमेशा मेरी मदद की है। मनोज सर के लिए बस इतना ही कहना चाहूंगा कि अगर फिर मौका मिला तो मनोज सर के साथ काम करने वाला मैं पहला शख्स रहूंगा। रही बात सहारा की तो इसी संस्थान ने मुझे यहां तक पहुंचाया। आर्थिक दिक्कतें अपनी जगह, लेकिन संस्थान बहुत अच्छा है। चैनल का साथ छोड़ने का फैसला प्रोफेशनल और फाइनेंशियल आधार पर लिया गया है,
    नई पारी की शुरुआत की आपाधापी में पोस्ट पर react करने में कुछ देरी हुई,उसके लिए क्षमा
    धन्यवाद।

    Reply
  • Sudhir kumar says:

    आप जिस तरह किसी के कहने पर छाप देते हैं महोदय आप को बताना चाहता हूँ पिछले तीन सालों से हम लगातार सहारा समूह न्यूज चैनल से जुड़ा हू , हर महिने तनख्वाह मिला है, और अब आप को बता दू जो आप मनोज मनू जी के बारे कह रहें जिन्हें काम नहीं करना है वही उनकी बुराई करते हैं, मनोज जी तरह सोच हर किसी की हो जाए तो सहारा न्यूज को अर्श पर पहुचने के लिए सिर्फ आठ दिन लगेंगे जो लोग गिरा कर गए हैं,

    Reply
  • मुकेश अवस्थी says:

    मनोज शर्मा जी ( मनु) मेरे मित्र है , वो बहुत सहज है, ये बात और है कि वह काम के प्रति जबावदेह और अपनों को साथ लेकर चलने चलाने में माहिर है। वो कहि से भी तानाशाह नही है।।।। क्योंकि में उन्हें जब से जनता हूँ जब वे सहारा समय चेनल में नही थे ,

    Reply

Leave a Reply to ABHILASH MISHRA Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *