भोजपुरी अभिनेत्री आत्महत्या प्रकरण में क्राइम रिपोर्टर के खिलाफ FIR दर्ज, देखें आखिरी वीडियो

पैसे की तंगी की शिकार थीं अभिनेत्री, स्कूटी लेकर पत्रकार गया तो लौटाने का नाम नहीं लिया

अनुपमा पाठक

मुम्बई में एक भोजपुरी फ़िल्म अभिनेत्री अनुपमा पाठक की आत्महत्या मामले में नवभारत टाइम्स के मुम्बई एडिशन के क्राइम रिपोर्टर मनीष झा के खिलाफ काशिमिरा पुलिस स्टेशन में एफआइआर दर्ज की गई है। अभिनेत्री अनुपमा पाठक ने आत्महत्या से पूर्व लिखे पत्र में मनीष पर आरोप लगाया था कि पत्रकार मनीष मेरी गाड़ी लेकर गया और उसे वापस नहीं किया।

अनुपमा ने अपने आखिरी पत्र में लिखा है कि उसने मनीष झा का घर नहीं देखा था और मनीष झा ने उसका फोन उठाना बंद कर दिया। एसएमएस का जवाब भी नहीं देता था। मेरी गाड़ी न होने से मेरा सारा काम बंद हो गया। वह मेरी गाड़ी वापस करने का नाम ही नहीं लेता था।

अनुपमा पाठक ने अपने पत्र के जरिये पुलिस से यह भी कहा है कि पुलिस मनीष झा के अलावा और किसी से मेरे आत्महत्या मामले में पूछताछ न करे। अनुपमा ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि मनीष झा द्वारा गाड़ी लेकर जाने के दो महीने हो गए लेकिन वह वापस नहीं कर रहा है जिससे मुझे काफी नुकसान हो गया।

पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक इस अभिनेत्री ने अपने पत्र में लिखा है कि 29 मई 2020 को मनीष झा ने एक लड़के को मेरे पास मेरी एक्टिवा लेने के लिए भेजा था। मैंने उसे गाड़ी दिया लेकिन मनीष ने फिर मेरी गाड़ी वापस ही नहीं किया। अनुपमा के पत्र के मुताबिक वह 19 जून 2020 से लगातार मनीष झा से अपनी गाड़ी मांग रही थी लेकिन मनीष ने उसे गाड़ी नहीं लौटाया। उसके पास इतने पैसे नहीं थे कि वह कहीं भी रिक्शे से जाए। मनीष के पास उसका कोई पैसा भी बाकी नहीं था।

अनुपमा ने अपने आखिरी पत्र में लिखा है कि मनीष झा ने उसे इतना टार्चर किया कि वह आत्महत्या कर रही है। इस अभिनेत्री ने अपने पत्र में यहां तक लिखा कि इस मामले में सिर्फ मनीष झा से पूछताछ हो।

आरोपी पत्रकार मनीष झा

आपको बता दें कि भोजपुरी अदाकारा अनुपमा पाठक ने मुम्बई महानगर क्षेत्र के मीरा रोड इलाके स्थित अपने घर पर आत्महत्या कर ली थी। पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि अनुपमा पाठक (उम्र 40 वर्ष) का शव रविवार को ‘म्हाडा कॉलोनी’ में उनके किराए के फ्लैट में लटका मिला।

बिहार के पूर्णिया की रहने वाली अनुपमा पाठक मुंबई आकर भोजपुरी फिल्मों और टीवी शो में काम करती थीं। आत्महत्या करने से एक दिन पहले उन्होंने फेसबुक पर एक लाइव वीडियो डाला था, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन्हें धोखा दिया गया है और अब वह किसी पर विश्वास नहीं कर पाएंगी।

वीडियो में उन्होंने किसी पर विश्वास ना कर पाने और मदद के लिए किसी दोस्त के ना होने की बात कही थी।

पुलिस ने बताया कि घटना के वक्त अभिनेत्री के पति किसी काम से बाहर गए थे। मौके से सुसाइड नोट बरामद हुआ है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए लगे लॉकडाउन के कारण काम और पैसे की भी उन्हें कमी थी। अधिकारी ने बताया कि फेसबुक पर उनकी आखिरी पोस्ट, ‘‘अलविदा, शुभ रात्रि’’ थी। उन्होंने बताया कि भादंवि की धारा 306 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

आखिरी एफबी पोस्ट

इस मामले में हमने जब मनीष झा से उनका पक्ष जानना चाहा तो उनका फोन नॉट रिचबल या स्विच ऑफ बात रहा था। बाद में हमने वाट्सअप कॉलिंग किया तो मनीष झा की आवाज कट रही थी। हमने उन्हें उनका भी पक्ष जानने के लिए वाट्सअप मैसेज किया तो उन्होंने कहा कि वह थोड़ी देर में अपना पक्ष रहेंगे। लेकिन उनका कोई पक्ष नहीं आया।

अनुपमा पाठक का आखिरी Video संदेश सुनें-देखें :

Posted by Anupama Pathak on Saturday, August 1, 2020

मुंबई के वरिष्ठ पत्रकार और आरटीआई कार्यकर्ता शशिकांत सिंह की रिपोर्ट. संपर्क- 9322411335

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *